फोटो गैलरी

Hindi News क्रिकेटIND vs ENG: टीम इंडिया राजकोट टेस्ट में कैसे ड्राइविंग सीट पर पहुंची? 3 धुरंधरों ने की अंग्रेजों की हालत खस्ता

IND vs ENG: टीम इंडिया राजकोट टेस्ट में कैसे ड्राइविंग सीट पर पहुंची? 3 धुरंधरों ने की अंग्रेजों की हालत खस्ता

India vs England Rajkot Test Day-3 Highlights: टीम इंडिया राजकोट टेस्ट के तीसरे दिन ड्राइविंग सीट पर पहुंच गई। यशस्वी जायसवाल, मोहम्मद सिराज और शुभमन गिल ने अंग्रेजों की हालत खस्ता की।

IND vs ENG: टीम इंडिया राजकोट टेस्ट में कैसे ड्राइविंग सीट पर पहुंची? 3 धुरंधरों ने की अंग्रेजों की हालत खस्ता
Md.akram एजेंसी,राजकोटSat, 17 Feb 2024 07:33 PM
ऐप पर पढ़ें

भारत ने सलामी बल्लेबाज यशस्वी जायसवाल (104 रन रिटायर्ड हर्ट) के तीसरे टेस्ट शतक और शुभमन गिल के नाबाद 65 रन से इंग्लैंड के खिलाफ तीसरे टेस्ट के तीसरे दिन स्टंप तक दूसरी पारी में दो विकेट पर 196 रन बनाकर मैच में शिकंजा कस दिया। जायसवाल (133 गेंद, नौ चौके, पांच छक्के) ने आक्रामक बल्लेबाजी करते हुए मैदान के चारों ओर शॉट लगाए और सीरीज में दूसरा सैकड़ा जड़कर वह 400 से ज्यादा रन बना चुके हैं। उनकी इस पारी की बदौलत भारत की कुल बढ़त 322 रन की हो गई है।

दिन का खेल समाप्त होने तक गिल (120 गेंद, छह चौके, दो छक्के) के साथ दूसरे छोर पर रात्रि प्रहरी कुलदीप यादव तीन रन बनाकर खेल रहे हैं। जायसवाल (22 वर्ष) के रिटायर्ड हर्ट होने के बाद रजत पाटीदार क्रीज पर उतरे लेकिन वह खाता भी नहीं खोल सके और रेहान अहमद की गेंद पर आउट हो गए। जायसवाल शुरू में आक्रामक नहीं थे लेकिन फिर उन्होंने इंग्लैंड के गेंदबाजों के खिलाफ तेजी से रन जुटाने का फैसला किया। इसकी शुरुआत उन्होंने जेम्स एंडरसन पर दो चौके और एक छक्का लगाकर 19 रन बनाकर की। इसके बाद अगले ओवर में टॉम हार्टले पर दो छक्के जड़ दिए।

इंग्लैंड ने अपनी गेंदबाजी और क्षेत्ररक्षण में बदलाव किया लेकिन जायसवाल की आक्रामकता बरकरार रही। इस भारतीय बल्लेबाज ने फिर अहमद पर दो रिवर्स स्वीप शॉट लगाए। इंग्लैंड के मार्क वुड को गेंदबाजी पर लगाने के बाद जायसवाल थोड़े शांत हुए लेकिन तब वह 90 रन के करीब पहुंचे तो एक एक रन लिए। वुड पर चौका लगाकर उन्होंने अपना तीसरा शतक पूरा किया। लेकिन बाएं हाथ के बल्लेबाज को पीठ में खिंचाव के कारण रिटायर होना पड़ा। इंग्लैंड को पहली पारी में 319 रन पर समेटने के बाद खेलने उतरी भारतीय टीम ने दूसरे सत्र में कप्तान रोहित शर्मा (19) का विकेट जल्दी गंवा दिया। पहली पारी के शतकवीर रोहित जो रूट की गेंद पर स्लॉग स्वीप शॉट लगाने की कोशिश में पगबाधा आउट हुए।

वहीं, गिल ने पहली पारी की निराशा को पीछे छोड़ते हुए पांचवां अर्धशतक जड़ा। भारत की कोशिश विकेट बचाते हुए अपनी बढ़त में इजाफा करने की थी क्योंकि अभी खेल में काफी समय बचा है। रविवार को टीम इस बढ़त को 400 से आगे बढ़ाना चाहेगी। रोहित के जल्दी आउट होने के बाद भारत की चिंता बढ़ सकती थी क्योंकि बढ़त इतनी ज्यादा नहीं थी लेकिन जायसवाल और गिल ने दूसरे विकेट के लिए नाबाद 155 रन की भागीदारी निभाई। दोपहर के सत्र में मोहम्मद सिराज और कुलदीप यादव ने रविचंद्रन अश्विन की अनुपस्थिति में अच्छी गेंदबाजी करते हुए भारत को पहली पारी में 126 रन की महत्वपूर्ण बढ़त दिलाई।

इंग्लैंड ने लंच तक पांच विकेट पर 290 रन बना लिए थे लेकिन इसके बाद पूरी टीम 71.1 ओवर में 319 रन पर सिमट गई। इसमें सिराज ने 84 रन देकर चार विकेट झटके जबकि कुलदीप ने दो विकेट प्राप्त किए। सीनियर गेंदबाज जसप्रीत बुमराह और रविंद्र जडेजा ने क्रमशः एक और दो विकेट झटककर सुनिश्चित किया कि भारत को अश्विन की अनुपस्थिति से मुश्किल नहीं हो जिन्हें शुक्रवार देर रात परिवार में चिकित्सीय आपात स्थिति के कारण टेस्ट से हटना पड़ा। इंग्लैंड के बल्लेबाज अपनी आक्रामक शैली के अनुरूप खेले लेकिन इसका उन्हें खामियाजा निचले क्रम के चरमराने से उठाना पड़ा। कप्तान बेन स्टोक्स (41) ने जडेजा (51 रन देकर दो विकेट) पर हावी होने का प्रयास किया लेकिन उनकी टाइमिंग सही नहीं थी और बुमराह ने डीप मिडविकेट पर शानदार कैच लेकर लंच के बाद सबसे बड़ा विकेट दिलाया।

अगली गेंद पर बेन फोक्स (13) सिराज की गेंद पर आउट हो गये और उनका कैच रोहित ने मिड ऑन पर लपका। सिराज ने फिर रेहान अहमद और जेम्स एंडरसन के विकेट झटक लिये। वहीं जडेजा ने टॉम हार्टली का विकेट लिया। सुबह बुमराह (54 रन देकर एक विकेट) और कुलदीप (77 रन देकर दो विकेट) ने अपनी सटीक गेंदबाजी से भारत को दबदबा बनाने में मदद की। सलामी बल्लेबाज बेन डकेट ने रात की 133 रन की पारी को 153 रन में तब्दील किया। उनकी 151 गेंद की शानदार पारी में 23 चौके और दो छक्के जड़े थे।

वह बाएं हाथ के कलाई के स्पिनर कुलदीप का शिकार हुए। इंग्लैंड ने सुबह दो विकेट पर 207 रन से खेलना शुरू किया। इंग्लैंड ने अपने अनुभवी खिलाड़ी जो रूट (18) का विकेट गंवा दिया जो रात के स्कोर में नौ रन ही जोड़ सके। वह जसप्रीत बुमराह की गेंद पर रिवर्स शॉट खेलकर दूसरी स्लिप में खड़े यशस्वी जायसवाल को कैच दे बैठे। यह 21 पारियों में नौवीं दफा है जब बुमराह ने इंग्लैंड के सबसे सफल बल्लेबाज का विकेट झटका हो। रूट के इस आसान विकेट के तुरंत बाद कुलदीप ने जॉनी बेयरस्टो (शून्य) को खाता भी नहीं खोलने दिया। बेयरस्टो तेजी से टर्न लेती गेंद को बैकफुट में खेलकर पगबाधा आउट हुए।

बेयरस्टो ने हालांकि रिव्यू लिया लेकिन यह भारतीय टीम के पक्ष में ही रहा। इस तरह इंग्लैंड के इस खिलाड़ी टीम का एक रिव्यू खराब कर दिया। बेन डकेट को किस्मत का साथ मिला जब 45वें ओवर में कुलदीप की गेंद पर रिवर्स स्वीप शॉट पर रोहित शर्मा के हाथों कैच से बच गए जो उनकी ऊंगलियों से निकल गया। इंग्लैंड के इस सलामी बल्लेबाज ने फिर अपने 150 रन पूरा किये। दिन के शुरुआती दो झटकों से इंग्लैंड पर दबाव बढ़ गया था। लेकिन मेहमान टीम ने मौका मिलते ही फिर से तेजी से खेलना शुरू किया और स्टोक्स ने कुछ चौके जमाये। लेकिन तभी डकेट एक खराब शॉट खेल बैठे। कुलदीप ने डकेट को बहुत वाइड गेंद फेंकी और इस बल्लेबाज ने बल्ले के निचले किनारे से सीधे कवर पर शॉट लगाया और शुभमन गिल ने आसान कैच पकड़ लिया।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें