फोटो गैलरी

Hindi News क्रिकेटयशस्वी जायसवाल हुए चोटिल तो आर अश्विन उपलब्ध नहीं... 300 से अधिक रनों की बढ़त के बावजूद इंग्लैंड को हल्के में नहीं लेगा भारत

यशस्वी जायसवाल हुए चोटिल तो आर अश्विन उपलब्ध नहीं... 300 से अधिक रनों की बढ़त के बावजूद इंग्लैंड को हल्के में नहीं लेगा भारत

राजकोट टेस्ट में 300 रनों की बढ़त के बावजूद भारत इंग्लैंड को हल्के में लेने की भूल नहीं करेगा। अश्विन की कमी चौथी पारी में भारत को बहुत खलने वाली है, ऐसे में टीम 4 ही गेंदबाजों के साथ खेलेगी।

यशस्वी जायसवाल हुए चोटिल तो आर अश्विन उपलब्ध नहीं... 300 से अधिक रनों की बढ़त के बावजूद इंग्लैंड को हल्के में नहीं लेगा भारत
Lokesh Kheraलाइव हिंदुस्तान टीम,नई दिल्लीSun, 18 Feb 2024 08:10 AM
ऐप पर पढ़ें

इंडिया वर्सेस इंग्लैंड 5 मैच की टेस्ट सीरीज का तीसरा मुकाबला राजकोट में खेला जा रहा है। मैच के तीसरे दिन का खेल खत्म होने तक मेजबानों ने 322 रनों की बढ़त हासिल कर ली है और वह ड्राइविंग सीट पर है। हालांकि मैच में अभी भी 2 दिन का समय है और टीम इंडिया इंग्लिश टीम को हल्के में लेने की भूल नहीं करेगी। इसके पीछे एक-दो नहीं बल्कि 5 कारण है। बता दें, भारत ने इस मैच में पहले बल्लेबाजी करते हुए 445 रन बोर्ड पर लगाए थे, इसके जवाब में इंग्लैंड की पहली पारी 319 रनों पर सिमट गई थी। भारत ने पहली पारी के बाद 126 रनों की बढ़त हासिल की। तीसरे दिन का खेल खत्म होने तक टीम इंडिया ने दूसरी पारी में 2 विकेट के नुकसान पर 196 रन बना लिए हैं।

रिटायर हर्ट और रिटायर आउट में क्या है अंतर? क्या यशस्वी जायसवाल फिर कर सकते हैं बैटिंग

5 पॉइंट्स में समझें क्यों इंग्लैंड को हल्के में लेने की भूल नहीं करेगा भारत?

यशस्वी जायसवाल हुए चोटिल- दूसरी पारी के शतकवीर यशस्वी जायसवाल पीठ में दर्द के कारण रिटायर हर्ट हो गए हैं। जब तक वह क्रीज पर थे तो भारत का रन रेट काफी अच्छा चल रहा था, मगर उनके रिटायर होने के बाद जरूर भारत की रनगति पर असर पड़ेगा। अगर यहां से टीम इंडिया कोलैप्स कर जाती है तो भारत की मुश्किलें बढ़ सकती है।

IND vs ENG: यशस्वी जायसवाल को देख रवि शास्त्री को आई युवा सचिन तेंदुलकर की याद, बोले- वह हर समय खुद को...

डेब्यू खिलाड़ियों पर रहेगा दबाव- राजकोट टेस्ट में सरफराज खान और ध्रुव जुरेल ने डेब्यू पारी में तो अच्छा परफॉर्म किया, मगर दूसरी पारी में उनपर दबाव रहेगा। कुलदीप यादव नाइट वॉचमैन के रूप में शुभमन गिल का साथ दे रहे हैं। इस जोड़ी के टूटने के बाद सरफराज और जुरेल को ही रविंद्र जडेजा के बाद बल्लेबाजी का भार संभालना है। अब देखने वाली बात यह होगी कि वह इस परिस्थिति में किस अंदाज में बैटिंग करते हैं।

पुछल्ले बल्लेबाजों की लंबी कतार- कुलदीप यादव नाइट वॉचमैन के रूप में बल्लेबाजी कर रहे हैं वहीं जसप्रीत बुमराह और मोहम्मद सिराज का आना बाकी है। अश्विन बल्लेबाजी के लिए उपलब्ध होंगे नहीं ऐसे में पूरा भार शुभमन गिल, सरफराज खान, ध्रुव जुरेल और रविंद्र जडेजा पर रहने वाला है। अगर यह चारों तीसरे दिन फेल होते हैं तो भारत मुश्किल में पड़ सकता है।

IND vs ENG: बेन डकेट ने यशस्वी जायसवाल को बताया उभरता सुपरस्टार, मांगा उनके शतक का श्रेय

पहले सेशन में बैटिंग नहीं होगी आसान- राजकोट टेस्ट में अभी तक देखा गया है कि दिन का पहला सेशन बैटिंग टीम के लिए अच्छा साबित नहीं हुआ है। पहले ही आधे घंटे में टीम 1-2 विकेट गंवा देती है जिसका असर उनकी रनगति पर साफ देखने को मिलता है। अगर इंग्लैंड पहले सेशन में कुछ महत्वपूर्ण विकेट निकालता है तो वह मैच में वापसी कर सकता है। 

अश्विन की खलेगी कमी- मोहम्मद सिराज, रविंद्र जडेजा और कुलदीप यादव ने तीसरे दिन आर अश्विन की कमी तो भारतीय टीम को नहीं खेलने दी, मगर चौथी पारी में जरूर टीम इंडिया को अश्विन याद आएंगे। ऐसे में इंग्लैंड के पास भारत के 4 बॉलर्स की यूनिट पर दबाव डालने का पूरा-पूरा मौका होगा। बता दें, अश्विन निजी कारणों के चलते मैच को बीच में छोड़कर घर लौट गए हैं।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें