फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News क्रिकेटटी20 वर्ल्ड कप खेलोगे तो...शिखर धवन ने 'इम्पैक्ट प्लेयर' को लेकर चेताया, बताया सभी टीमों के लिए क्या सबसे अहम?

टी20 वर्ल्ड कप खेलोगे तो...शिखर धवन ने 'इम्पैक्ट प्लेयर' को लेकर चेताया, बताया सभी टीमों के लिए क्या सबसे अहम?

Shikhar Dhawan on Impact Player Rule: टी20 वर्ल्ड कप 2024 का आयोजन जून में वेस्टइंडीज और अमेरिका में होगा। शिखर धवन का कहना है कि टी20 वर्ल्ड में 'इम्पैक्ट प्लयेर' नियम का नहीं होना अंतर पैदा करेगा।

टी20 वर्ल्ड कप खेलोगे तो...शिखर धवन ने 'इम्पैक्ट प्लेयर' को लेकर चेताया, बताया सभी टीमों के लिए क्या सबसे अहम?
Md.akram एजेंसी,मुंबईSat, 18 May 2024 09:24 PM
ऐप पर पढ़ें

Dhawan on Impact Player Rule: शिखर धवन का मानना है कि इस साल क्रिकेट में काफी बदलाव आया है लेकिन उन्हें लगता है कि आगामी टी20 वर्ल्ड कप 2024 में इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) की तरह बड़े स्कोर देखने को नहीं मिलेंगे क्योंकि इसमें 'इम्पैक्ट प्लेयर' का विकल्प उपलब्ध नहीं होगा। 'इम्पैक्ट प्लेयर' नियम के अंतर्गत टीमों को एक अतिरिक्त बल्लेबाज या एक गेंदबाज खिलाने का मौका मिल जाता है और माना जा रहा है कि इसी के कारण इस आईपीएल में रिकॉर्ड स्कोर की संख्या बढ़ गयी। इससे आईपीएल में आठ बार 250 से ज्यादा रन का स्कोर बनाया गया।

गेंदबाजों की परेशानी ने बल्ले और गेंद के बीच संतुलन बनाने की बहस फिर से शुरू कर दी क्योंकि इस नियम की वजह से आईपीएल में विकेट और परिस्थितियां आम तौर पर बल्लेबाजों के पक्ष में होती हैं। धवन ने पीटीआई से कहा, ''मुझे लगता है इस साल खेल काफी बदल गया है और यही वजह है कि 250 रन का स्कोर बन रहा था। मानसिकता निश्चित रूप से बदल गई है।''उन्होंने कहा, ''लेकिन जब आप विश्व कप में खेलोगे तो इसमें 'इम्पैक्ट प्लेयर' नियम नहीं होगा और इसका असर निश्चित रूप से दिखेगा। इससे अंतर पैदा होगा और सबसे अहम यही होगा कि हम परिस्थितियों से तालमेल कैसे बिठाते हैं।'' 

धवन ने 'जियो सिनेमा' पर टीवी शो 'धवन करेंगे' में कहा, ''इम्पैक्ट प्लेयर नियम आने के आने के बाद सोच बदल गई है। मध्यक्रम के बल्लेबाज को पता होता है कि आठवें और नौंवे नंबर तक बल्लेबाजी होगी तो वे आक्रामक रूख अख्तियार करते हैं। इसी वजह से इतने बड़े स्कोर बने।'' वहीं, सनराइजर्स हैदराबाद के शाहबाज अहमद ने हाल ही में 'पीटीआई वीडियो' से कहा, 'अब प्रत्येक टीम के पास कुल नौ बल्लेबाज ( एक आल राउंडर और आठ बल्लेबाज) हो गए हैं। साथ ही टीम ऐसा खिलाड़ी चाहती हैं जो पहली ही गेंद से बड़े शॉट लगा सके और अंत तक इसी लय को जारी रखे। 'इम्पैक्ट प्लेयर' नियम ने ऑलराउंडर की तुलना में गेंदबाजों को ज्यादा प्रभावित किया है क्योंकि यह बल्लेबाजों को खुलकर बल्लेबाजी करने की आजादी देता है।''