फोटो गैलरी

Hindi News क्रिकेटअगर राहुल द्रविड़ को एक्सटेंशन चाहिए तो दो, नहीं तो... गौतम गंभीर ये क्या बोल गए

अगर राहुल द्रविड़ को एक्सटेंशन चाहिए तो दो, नहीं तो... गौतम गंभीर ये क्या बोल गए

भारत के पूर्व क्रिकेटर गौतम गंभीर का मानना है कि टीम इंडिया का हेड कोच किसी भारतीय को ही होना चाहिए। उन्होंने कहा कि अगर राहुल द्रविड़ एक्सटेंशन लेते हैं तो ठी है, नहीं तो कोई भारतीय इस पद पर आए।

अगर राहुल द्रविड़ को एक्सटेंशन चाहिए तो दो, नहीं तो... गौतम गंभीर ये क्या बोल गए
Namita Shuklaलाइव हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीSat, 02 Dec 2023 07:15 PM
ऐप पर पढ़ें

आईसीसी वर्ल्ड कप 2023 खत्म होते ही टीम इंडिया के हेड कोच राहुल द्रविड़ का भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के साथ कॉन्ट्रैक्ट भी खत्म हो गया। हाल में खबर आई कि राहुल द्रविड़ को एक्सटेंशन मिल गया है और वह आईसीसी टी20 वर्ल्ड कप 2024 तक टीम इंडिया के हेड कोच बने रहेंगे। जब द्रविड़ से इस बारे में सवाल किया गया, तो उन्होंने कह दिया कि अभी कॉन्ट्रैक्ट साइन नहीं हुआ है, जब होगा, तब वह इस पर अपनी प्रतिक्रिया देंगे। टीम इंडिया के हेड कोच को लेकर पूर्व सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर ने कुछ अहम बातें कही हैं। उन्होंने कहा कि भारत और पाकिस्तान दो ऐसे देश हैं, जिनका हेड कोच उनके देश का ही होना चाहिए। वर्ल्ड कप 2023 के बाद इंडिया वर्सेस ऑस्ट्रेलिया टी20 सीरीज खेली जा रही है। इस सीरीज में टीम इंडिया के हेड कोच का जिम्मा वीवीएस लक्ष्मण ने संभाला हुआ है।

इसे भी पढ़ेंः ODI टीम में नहीं चुने गए रोहित ने बना डाला वर्ल्ड रिकॉर्ड, जानें कैसे

स्पोर्ट्सकीड़ा पर गंभीर और पाकिस्तान के पूर्व क्रिकेटर वसीम अकरम के बीच बातचीत हो रही थी। गंभीर ने इस दौरान कहा, 'भारत और पाकिस्तान जैसे देशों में हेड कोच उनके देश का ही होना चाहिए। जब मैं ऐसा कहता हूं तो लोग कहते हैं लेकिन भारत ने 2011 वर्ल्ड कप गैरी कर्स्टन के कार्यकाल में जीता था, लेकिन ब्लू जर्सी या वाइट जर्सी का जो महत्व राहुल द्रविड़ समझेंगे, वह कोई विदेशी कोच नहीं समझ पाएगा। ऐसा ही पाकिस्तान के लिए भी है, उनकी ग्रीन और वाइट जर्सी का जो महत्व पाकिस्तानी कोच समझेगा वह कोई विदेशी कोच नहीं समझ पाएगा। हमारा क्रिकेट का बहुत शानदार इतिहास है, हम ऐसे देश नहीं हैं, जो 10-15 साल से क्रिकेट खेल रहा हो, हमारे पास ऐसे खिलाड़ी हैं, जो वर्ल्ड कप जिता चुके हैं।'

IND vs AUS: रिंकू के 100 मीटर सिक्स का खुल गया राज, बोले- मेरे अंदर...

गंभीर ने आगे कहा, 'खेल में इमोशन्स बहुत अहम होते हैं, कमर्शियल और फाइनेंशियल एंगल भी अहम हैं, लेकिन खेल में सबसे अहम इमोशन्स होते हैं। उन्हें याद रहता है कि जब वह इस जर्सी को पहनते थे, तो इसके लिए उन्होंने खून, पसीना और आंसू बहाए थे। अगर राहुल द्रविड़ को एक्सटेंशन चाहिए, तो उन्हें दे दिया जाए, नहीं तो किसी भारतीय को भारतीय टीम का हेड कोच बनाया जाए।' वसीम अकरम भी गंभीर की इस बात से पूरी तरह से सहमत नजर आए और साथ ही तारीफ की कि 2023 वर्ल्ड कप में भारतीय टीम का कोचिंग स्टाफ भारतीय था।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें