icc World Cup Countdown imran khan and Wasim Akram script Pakistans glory in 1992 - World Cup 1992 : संन्यास के बाद लौटे इमरान खान ने पाकिस्तान को बनाया 'क्रिकेट का बादशाह' DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

World Cup 1992 : संन्यास के बाद लौटे इमरान खान ने पाकिस्तान को बनाया 'क्रिकेट का बादशाह' 

ICC World Cup: दुनिया के महानतम ऑलराउंडरों में शुमार इमरान खान ने संन्यास के बाद वापसी की और पाकिस्तान को पहली बार 1992 में विश्व कप खिताब दिलाया था।

imran khan  getty images

ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड की संयुक्त मेजबानी में खेले गए वर्ल्ड कप ने क्रिकेट को रंगों में सरोबार कर दिया। इस टूर्नामेंट में कई तकनीकी बदलाव किए गए जो वनडे क्रिकेट में मील का पत्थर साबित हुए। दुनिया के महानतम ऑलराउंडरों में शुमार इमरान खान ने संन्यास के बाद वापसी की और पाकिस्तान को पहली बार 1992 में विश्व कप खिताब दिलाया था।

वर्ल्ड कप 1992 में इस बार फाइनल में एक बार फिर से इंग्लैंड की टीम पहुंची। पाकिस्तान ने इमरानाखान की कप्तानी में पहली बार वर्ल्ड कप जीत कर वर्ल्ड क्रिकेट को अपनी ताकत बताई।

World Cup 2019: इन 10 खिलाड़ियों का आखिरी हो सकता है ये वर्ल्ड कप

मार्टिन क्रो का नया प्रयोग
न्यूजीलैंड के कप्तान मार्टिन क्रो ने नया प्रयोग किया और नई गेंद से स्पिनर को गेंदबाजी कराई। टीम को इससे काफी फायदा मिला और उसने सेमीफाइनल में जगह बनाई। न्यूजीलैंड ने टूर्नामेंट में सिर्फ दो मैच हारे और दोनों में उसे पाक ने शिकस्त दी। 

वसीम अकरम ने इंग्लैंड का सपना तोड़ा
फाइनल में पाकिस्तान का मुकाबला इंग्लैंड से था जो तीसरी बार विश्व कप के फाइनल में पहुंचा था। पाक ने पहले बल्लेबाजी करते हुए छह विकेट पर 249 रन बनाए। कप्तान इमरान खान ने 72 रन की अहम पारी खेली। लक्ष्य का पीछा करते हुए इंग्लैंड की टीम 49.2 ओवर में 227 रन पर सिमट गई। वसीम अकरम ने तीन विकेट झटके और इंग्लैंड का पहली बार चैंपियन बनने का सपना तोड़ दिया। 

ICC World Cup 2019: जानें, किस देश ने कितनी बार जीता खिताब

डकवर्थ-लुइस विवाद
इस वर्ल्ड कप में दक्षिणअफ्रीका और ऑस्ट्रेलिया के बीच सेमीफाइनल में डकवर्थ-लुइस नियम का पहली बार प्रयोग किया गया। बारिश से जब मैच रुका तब द. अफ्रीका को 13 गेंद पर 22 रन चाहिए थे। 12 मिनट बाद जब मैच शुरू हुआ तब द.अफ्रीका को एक गेंद पर 22 रन का लक्ष्य मिला। इस नियम का काफी आलोचना हुई।

सचिन तेंदुलकर का आगाज
मोहम्मद अजहरुद्दीन की कमान में भारत का विश्व कप में प्रदर्शन बेहद ही शर्मनाक रहा और उसने आठ में से सिर्फ दो मैच जीते। लेकिन इस टूर्नामेंट में युवा बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर ने सभी का ध्यान खींचा, जो पहली बार विश्व कप में शिरकत कर रहे थे। 

आईसीसी वर्ल्ड कप 1992
मेजबान- ऑस्ट्रेलिया-न्यूजीलैंड
टीमें- 9
मैच- 39
चैंपियन- पाकिस्तान

ICC WC 2019: आंकड़ों में देखें 15 सदस्यीय टीम इंडिया- Photos

इस टूर्नामेंट की खास बातें:
पाकिस्तान के वसीम अकरम (18) ने टूर्नामेंट में सबसे अधिक झटके।
इस टूर्नामेंट में सर्वाधिक रन (456) न्यूजीलैंड के ओपनर मार्टिन क्रो ने बनाए।

बदला वर्ल्ड कप का रंग
इस वर्ल्ड कप में पहली बार सभी टीमें रंगीन कपड़े पहन का उतरी थीं।
पहली बार लाल रंग की बजाय सफेद रंग की गेंद से मुकाबले खेले गए।
फ्लड लाइट में वर्ल्ड कप के मुकाबले खेले गए। साथ ही काली साइट स्क्रीन का इस्तेमाल किया गया।
दक्षिण अफ्रीका 1970 में लगे बैन के बाद पहली बार वर्ल्ड कप खेला।

World Cup: विश्व कप इतिहास के ये हैं 5 महान बल्लेबाज

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:icc World Cup Countdown imran khan and Wasim Akram script Pakistans glory in 1992