ICC World Cup 2019 MCC to fill Lords pavilion with school children after low turn out - पाक-बांग्लादेश के मुकाबले में दर्शकों की कमी, स्कूली बच्चे देखेंगे मैच DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पाक-बांग्लादेश के मुकाबले में दर्शकों की कमी, स्कूली बच्चे देखेंगे मैच

विश्वकप पहला ऐसा टूर्नामेंट है, जहां एमसीसी के सदस्यों को अपनी सदस्यता के बावजूद मैच टिकट के लिए राशि का भुगतान करना पड़ रहा है। इससे पहले लॉर्डस में खेले गए मुकाबलों में दर्शकों की संख्या ठीक थी।

pakistan cricket team action images via reuters

पाकिस्तान और बंगलादेश के बीच आईसीसी विश्वकप (ICC World Cup 2019) मुकाबले के दौरान 250 स्थानीय स्कूली बच्चों को लॉर्ड्स में मैच दिखाया जाएगा। एमसीसी ने यह फैसला स्टेडियम में दर्शकों की कमी को देखते हुए लिया है।  

टूर्नामेंट अब अपने अंतिम चरण में पहुंच चुका है और अभी तक सिर्फ 50 फीसदी टिकट ही बिके हैं। इस बीच एमसीसी के मुख्य कार्यकारी गॉय लेवेंडर ने क्लब के सदस्यों के मेल भेजकर इस बारे में जानकारी दी है। उल्लेखनीय है कि विश्वकप पहला ऐसा टूर्नामेंट है, जहां एमसीसी के सदस्यों को अपनी सदस्यता के बावजूद मैच टिकट के लिए राशि का भुगतान करना पड़ रहा है। इससे पहले लॉर्डस में खेले गए पिछले तीन मुकाबलों में दर्शकों की संख्या ठीक थी।

धौनी के मुंह से खून थूकने की तस्वीरें हो रहीं वायरल, जानें क्या है मामला

लेवेंडर ने कहा, “मेरे ख्याल से बच्चों को मैच दिखाने से मैदान में दर्शक भी आएंगे और यह युवाओं के लिए यादगार अनुभव भी रहेगा।”

बता दें कि पाकिस्तान को अगर आईसीसी विश्व कप के सेमीफाइनल में पहुंचना है तो उसे शुक्रवार को यहां लार्ड्स स्टेडियम में बांग्लादेश के साथ होने वाले मुकाबले के दौरान एक असम्भव सा दिखने वाला लक्ष्य हासिल करना होगा।

ऐसे सेमीफाइनल में पहुंच सकता है पाकिस्तान
इंग्लैंड द्वारा न्यूजीलैंड को हराए जाने के बाद पाकिस्तान के लिए सेमीफाइनल में जाना काफी मुश्किल हो गया है। वह आगे तभी जा सकता है, तब वह पहले बल्लेबाजी करे और 400 का स्कोर खड़ा करे और फिर बांग्लादेश को 84 रनों पर आउट कर दे।

समीकरण यह है कि अगर पाकिस्तान टॉस हार जाता है तो वह सेमीफाइनल की दौड़ से बाहर हो जाएगा और अगर टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी लेता है तो उसे यह मैच 316 रनों से हर हाल में जीतना होगा। यह जीत का वह अंतर है, जो अब तक वनडे इतिहास में अब तक किसी भी टीम ने हासिल नहीं किया है।

World Cup 2019: अगर-मगर के पेच में फंसा पाक, सेमीफाइनल में पहुंचने के लिए करना होगा कुछ ऐसा

इस विश्व कप में पाकिस्तान का अब तक का सफर 1992 की तरह ही रहा है। फर्क बस यह है कि उस साल पाकिस्तानी टीम नॉकआउट स्तर पर पहुंच गई थी, लेकिन इस साल उसके रास्ते काफी कठिन हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:ICC World Cup 2019 MCC to fill Lords pavilion with school children after low turn out