DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ICC WC 2019: विराट और शास्त्री से CoA कर सकता है ये तीन कड़े सवाल, रायुडू-धौनी को लेकर हो सकती है चर्चा

CoA के चेयरमैन विनोद राय, डायना इडुल्जी और रिटायर्ड लेफ्टिनेंट जनरल रवि थोडगे इन दोनों के अलावा चयनकर्ता एमएसके प्रसाद से बी बातचीत करेंगे।

ravi shastri and virat kohli

सुप्रीम कोर्ट द्वारा अपॉइंट की गई भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) की कमिटी ऑफ एडमिनिस्ट्रेटर्स (CoA) विश्व कप में टीम इंडिया के प्रदर्शन को लेकर कप्तान विराट कोहली और रवि शास्त्री से चर्चा कर सकता है, इसके अलावा दोनों ने अगले साल होने वाले टी20 विश्व कप के रोडमैप को लेकर भी बात की जा सकती है।

CoA के चेयरमैन विनोद राय, डायना इडुल्जी और रिटायर्ड लेफ्टिनेंट जनरल रवि थोडगे इन दोनों के अलावा चयनकर्ता एमएसके प्रसाद से बी बातचीत करेंगे। CoA चीफ विनोद राय ने पीटीआई को बताया, 'कोच और कप्तान जब अपने ब्रेक से लौट आएंगे तो हम एक रिव्यू मीटिंग रखेंगे। हम अभी समय और तारीख नहीं बता सकते लेकिन बात जरूर की जाएगी। इसके अलावा हम सिलेक्शन कमिटी से भी भविष्य को लेकर बात करेंगे।'

ICC World Cup 2019: जेसन रॉय पर लगा जुर्माना, जानिए क्या फाइनल में खेल पाएंगे वो!

World Cup 2019: टीम होटल से अनुष्का शर्मा के साथ बाहर निकले विराट- Photo वायरल

रायुडू के चयन नहीं होने का क्या था कारण

उन्होंने कहा, 'भारतीय टीम का सफर अभी खत्म हुआ है। कब, कहां और कैसे का जवाब अभी मैं नहीं दे पाऊंगा।' भारत को सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड के खिलाफ हार झेलनी पड़ी थी। शास्त्री, कोहली और एमएसके प्रसाद को कुछ सवालों का जवाब देना पड़ सकता है। मसलन आखिरी सीरीज तक अंबाती रायुडू का चयन तय था लेकिन अचानक वो चौथे नंबर की दौड़ से बाहर कैसे हो गए।

धौनी को बैटिंग ऑर्डर में सातवें नंबर पर क्यों भेजा गया?

दूसरा, टीम में तीन विकेटकीपर क्यों थे खासकर दिनेश कार्तिक की क्या जरूरत थी जो लंबे समय से फॉर्म में नहीं थे। तीसरा, सेमीफाइनल में महेंद्र सिंह धौनी को सातवें नंबर पर क्यो उतारा गया। समझा जाता है कि धौनी को नीचे भेजने का फैसला बल्लेबाजी कोच संजय बांगड़ का था। ये भी पूछा जाएगा कि सहायक कोच के इस फैसले का मुख्य कोच ने विरोध क्यों नहीं किया।

शरणदीप और देवांग पर उठे सवाल

मौजूदा चयन समिति बीसीसीआई की आमसभा की बैठक तक बनी रहेगी। ऐसे में प्रसाद को चयन बैठकों में अधिक सक्रिय रहने की सलाह दी जा सकती है। असल में समस्या प्रसाद से नहीं बल्कि शरणदीप सिंह और देवांग गांधी से है क्योंकि कइयों का मानना है कि उनका कुछ योगदान नहीं रहता।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:ICC World Cup 2019 CoA to have World Cup review meeting with Virat Kohli Ravi Shastri