DA Image
हिंदी न्यूज़ › क्रिकेट › अपने पहले ही T20 इंटरनेशनल मैच में इस बॉलर ने चार बल्लेबाजों को किया 'मांकड़िंग' आउट
क्रिकेट

अपने पहले ही T20 इंटरनेशनल मैच में इस बॉलर ने चार बल्लेबाजों को किया 'मांकड़िंग' आउट

लाइव हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीPublished By: Namita Shukla
Tue, 14 Sep 2021 11:09 AM
अपने पहले ही T20 इंटरनेशनल मैच में इस बॉलर ने चार बल्लेबाजों को किया 'मांकड़िंग' आउट

कैमरून और युगांडा के बीच आईसीसी महिला टी20 वर्ल्ड कप का क्वॉलिफायर मैच खेला गया, जिसमें डेब्यू कर रहीं गेंदबाज माएवा डाउमा ने कुछ ऐसा किया, जिसकी खूब चर्चा हो रही है। 16 साल की डाउमा ने इस मैच में कुल पांच विकेट लिए, जिसमें से चार विकेट उन्होंने मांकड़िंग के जरिए लिए। डाउमा ने चार बैटर्स को नॉन स्ट्राइकर एंड पर रनआउट किया, जो मांकड़िंग कहा जाता है। क्रिकेट में इस तरीके को लेकर काफी बहस होती रही है और इसे खेल भावना के विपरीत भी कहा जाता है। इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में एक बार आर अश्विन ने जोस बटलर को ऐसे ही आउट किया था, जिसको लेकर काफी विवाद हुआ था।

यह मैच 12 सितंबर को खेला गया था, डाउमा ने अपने चार ओवर में एक विकेट ही सामान्य तरीके से लिया और बाकी चार विकेट मांकड़िंग से लिए। डाउमा को जब गेंदबाजी अटैक के लिए बुलाया गया, उस समय युगांडा का स्कोर एक विकेट पर 153 रन था, लेकिन डाउमा के आते ही युगांडा की पारी डगमगा गई। इस तरह से युगांडा की टीम 20 ओवर में छह विकेट पर 190 रन बना पाई। डाउमा हालांकि इस दौरान काफी महंगी भी साबित हुईं और अपने कोटे के चार ओवरों में उन्होंने 32 रन खर्च डाले। जवाब में कैमरून की टीम 14.3 ओवर में महज 35 रनों पर ऑलआउट हो गई और युगांडा ने मैच 155 रनों से अपने नाम कर लिया। 

डाउमा के खाते में एक ही विकेट गया और बाकी विकेट रनआउट में गिने गए। इस मैच ने एक बार फिर इस बहस को बढ़ा दिया है कि क्या इंटरनेशनल क्रिकेट में मांकड़िंग को हटा दिया जाना चाहिए या फिर इसको जारी रखना चाहिए। 

संबंधित खबरें