DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ये हैं World Cup के 7 सबसे खास रिकॉर्डस, सचिन वाला तोड़ना नामुमकिन

ICC World Cup 2019: पहला आईसीसी वनडे वर्ल्ड कप 1975 में खेला गया था। तब से अबतक इसके 11 संस्करण हो चुके हैं। इस दौरान कई स्पेशल रिकॉर्ड बने हैं।

sachin tendulkar  afp

आईसीसी वर्ल्ड कप (ICC World Cup 2019) शुरू होने में अब 15 से भी कम दिन का समय बाकी रह गया है। इंग्लैंड और वेल्स में खेले जाने वाले वर्ल्ड कप टूर्नामेंट में इस साल 10 टीमें हिस्सा ले रही हैं। सभी टीमें वर्ल्ड कप के लिए तैयार हैं। सभी देशों ने अपनी 15 सदस्यीय टीम का ऐलान कर दिया है। वर्ल्ड कप के लिए चुने गए खिलाड़ी अपना बेस्ट देने और नए-नए रिकॉर्ड बनाने के लिए तैयार हैं। 

वर्ल्ड कप में शानदार प्रदर्शन करके पहली बार खेलने वाले खिलाड़ी इसे स्पेशल बनाना चाहते हैं तो वहीं कुछ खिलाड़ियों का यह आखिरी वर्ल्ड कप भी हो सकता है। ऐसे में इन खिलाड़ियों की कोशिश होगी कि वे कुछ ऐसे रिकॉर्ड बनाए, जो वर्ल्ड कप इतिहास में दर्ज हो जाएं। पहला आईसीसी वनडे वर्ल्ड कप 1975 में खेला गया था। तब से अबतक इसके 11 संस्करण हो चुके हैं। इस दौरान कई स्पेशल रिकॉर्ड बने हैं। इनमें से कई रिकॉर्ड ऐसे हैं, जो बेहद खास हैं।

आइए, जानते हैं वर्ल्ड कप के ऐसे ही खास रिकॉर्डस के बारे में, जिन्हें तोड़ा जाना मुश्किल ही नहीं बल्कि नामुमकिन है।

1. वर्ल्ड कप में सबसे अधिक पचास या पचास से अधिक रन का रिकॉर्ड सचिन तेंदुलकर के नाम दर्ज है। विश्व कप में खेली 44 पारियों में सचिन ने 56.95 की औसत से 2278 रन बनाए हैं। इनमें 6 शतक और 15 अर्द्धशतक शामिल हैं। फिलहाल खेल रहे खिलाड़ियों में मार्टिन गप्टिल 809 रन बनाकर उनके करीब हैं। यानी अब सचिन के रिकॉर्ड टूटने की कोई संभावना नहीं है।

ICC World Cup: धौनी नहीं ये विकेटकीपर है सबसे सफल- देखें पूरी लिस्ट

2. भारत एकमात्र ऐसा देश है, जो विश्व कप में 50 ओवर और 60 ओवर दोनों में विजेता रहा है। 1983 में जब भारत ने पहली बार कप जीता तो 60 ओवर का फॉर्मेट था। 2011 में यह फॉर्मेट 50 ओवर का हो गया। यह रिकॉर्ड भी कोई देश अपने नाम नहीं कर सकता है।

3. श्रीलंका के लसिथ मलिंगा को अपने एक्शन और डेथ ओवर में विशेषज्ञता के चलते एक दशक से अधिक समय से खतरनाक माना जाता है। 2007 के विश्व कप में मलिंगा ने 45 ओवर की अंतिम दो गेंदों पर और 47वें ओवर की पहली दो गेंदों पर विकेट ली थी। यानी चार गेंदों में चार विकेट। इस रिकॉर्ड को तोड़ना भी काफी मुश्किल हैं। 

4. दुनिया के बेहतरीन बल्लेबाज श्रीलंका के कुमार संगकारा ने 2015 के विश्व कप में बांग्लादेश, इंग्लैंड, ऑस्ट्रेलिया और स्कॉटलैंड के खिलाफ लगातार 4 शतक लगाए थे। यह अब तक एक रिकॉर्ड है।

5. कपिल देव ने जब 1983 में पहली बार भारत को विश्व कप जितवाया तो उनकी उम्र महज 24 साल थी। यह रिकॉर्ड पिछले 36 सालों से वहीं खड़ा है। इस रिकॉर्ड के टूटने की संभावना भी कम ही है।

ICC World Cup: जानिए किस गेंदबाज के नाम दर्ज हैं सबसे ज्यादा विकेट- देखें पूरी लिस्ट

6. सचिन तेंदुलकर और जावेद मियांदाद दोनों ही अपने अपने देशों के महान खिलाड़ी रहे हैं। इन दोनों ने 6 बार विश्व कप में भाग लिया जो अब तक एक रिकॉर्ड है।

7. ऑस्ट्रेलिया ने 1999 से 2007 के बीच लगातार तीन बार विश्व कप पर अपना कब्जा करके दुनिया को दिखाया कि क्यों ऑस्ट्रेलिया की टीम महान कही जाती है। इसके बाद 2015 ऑस्ट्रेलिया ने एक बार फिर से वर्ल्ड कप अपने नाम किया। हालांकि, स्टीव स्मिथ और डेविड वॉर्नर पर लगे बैन के बाद ऐसा लग रहा था कि ऑस्ट्रेलिया कमजोर हो रही है, लेकिन पिछले कुछ वक्त में ऑस्ट्रेलिया ने वापसी कर ली है।

ICC World Cup: जानिए किस बल्लेबाज के नाम दर्ज हैं सबसे ज्यादा रन- देखें पूरी लिस्ट

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:icc cwc 2019 know about 7 World Cup records that may never be broken