फोटो गैलरी

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ क्रिकेट'उमरान मलिक के पास वो जेनुअन पेस है, जिसे आप सुपरमार्केट से नहीं खरीद सकते'

'उमरान मलिक के पास वो जेनुअन पेस है, जिसे आप सुपरमार्केट से नहीं खरीद सकते'

सनराइजर्स हैदराबाद के तेज गेंदबाज उमरान मलिक इंडियन प्रीमियर लीग यानी आईपीएल के अपने दूसरे सीजन में अपना नाम बना चुके हैं। इसके पीछे का कारण उनकी तेज गति की गेंदबाजी और अनुशासित सटीकता है।

'उमरान मलिक के पास वो जेनुअन पेस है, जिसे आप सुपरमार्केट से नहीं खरीद सकते'
Vikash Gaurलाइव हिंदुस्तान टीम,नई दिल्लीMon, 18 Apr 2022 06:25 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

सनराइजर्स हैदराबाद के तेज गेंदबाज उमरान मलिक इंडियन प्रीमियर लीग यानी आईपीएल के अपने दूसरे सीजन में अपना नाम बना चुके हैं। इसके पीछे का कारण उनकी तेज गति की गेंदबाजी और अनुशासित सटीकता है। जम्मू के रहने वाले इस तेज गेंदबाज को पिछले साल आईपीएल में अपनी प्रतिभा दिखाने का मौका मिला था, जब टी नटराजन कोरोना के कारण टूर्नामेंट से बाहर हो गए। उमरान मलिक उस समय SRH के लिए नेट गेंदबाज थे और टीम ने उन्हें मौका देकर पेस सेंसेशन बना दिया। 

कोलकाता नाइट राइडर्स के खिलाफ डेब्यू मैच में ही उन्होंने अपनी तेज गेंदबाजी से प्रभाव छोड़ा था। वहीं, आईपीएल 2022 में अब वे अपनी गति से सभी को प्रभावित कर रहे हैं। वहीं, वेस्टइंडीज के महान खिलाड़ी इयान बिशप ने भी उमरान मलिक की तारीफ की। उमरान मलिक उन खिलाड़ियों में शामिल थे, जिन्होंने आईपीएल 2022 से पहले रिटेन किया गया था। सनराइजर्स हैदराबाद ने उन्हें केन विलियमसन और अब्दुल समद के साथ रिटेन किया था और उन्होंने खुद को साबित भी कर दिया है।   

वेस्टइंडीज के पूर्व क्रिकेटर इयान बिशप ने कहा कि वह पिछले साल से मलिक पर नजरें बनाए हुए हैं और कहा कि अगर वह फिट रहते हैं तो यह उनके लिए बहुत फायदेमंद है। उन्होंने स्टार स्पोर्ट्स पर कहा, "जब से मैंने उसे पिछले साल गेंदबाजी करते हुए देखा था, तब से मैं इस खिलाड़ी को लेकर उत्साहित हूं। वास्तविक गति, आप सुपरमार्केट में जाकर उसे नहीं खरीद सकते। आप किसी को लाइन और लेंथ में महारत हासिल करने के लिए ट्रेनिंग कर सकते हैं, लेकिन किसी को तेज गेंदबाजी करना नहीं सिखा सकते।"

भारत के महान बल्लेबाज सुनील गावस्कर ने इसी शो पर कहा, "उमरान मलिक अपनी गति से बहुत प्रभावशाली रहे हैं, लेकिन उनकी गति से अधिक, यह उनकी एक्युरेसी है, जो प्रभावित करती है। बहुत सारे गेंदबाज जो उस गति से गेंदबाजी करते हैं, वे गेंद को इधर-उधर फेंकते हैं, लेकिन उमरान बहुत कम वाइड गेंद फेंकते हैं। अगर वह लेग साइड के नीचे वाइड को नियंत्रित कर सकते हैं, तो वह एक जबरदस्त गेंदबाज होंगे, क्योंकि इसका मतलब होगा कि वह हर समय स्टंप्स पर हमला करेंगे और उसकी गति के साथ उन्हें सीधे हिट करना आसान नहीं है। अगर वह विकेट-टू-विकेट गेंदबाजी करते हैं, तो वह काफी हद तक एक विकेट टेकर गेंदबाज होंगे। वह भारत के लिए खेलेंगे।"   
 
स्टार स्पोर्ट्स से बात करते हुए उमरान मलिक ने कहा, "मुझे क्रिकेट खेलने के लिए हमेशा अपने परिवार का सपोर्ट मिला। मेरे पिता जम्मू में सब्जी विक्रेता हैं और उन्होंने हमारे पालन-पोषण में बहुत मेहनत की है। मैं तवी ग्राउंड में पड़ोस में खेलते हुए बड़ा हुआ और अपनी तेज गेंदबाजी से वहां के सीनियर्स को प्रभावित किया। जब भी कोई बड़ी टीम आती थी तो क्लब मुझे उनके लिए खेलने के लिए बुलाते थे और मैं उनके लिए मैच जीत जाता था। तो यह सब वहीं से शुरू हुआ।" 

खूब तेज गति से गेंदबाजी करने वाले 22 वर्षीय उमरान मलिक को ट्रायल से पहले डर लग रहा था। उन्होंने बताया, "मैं ट्रायल के बारे में सोचकर डर जाता था, क्योंकि मैं जिला स्तर पर भी नहीं खेला था, इसलिए मैं कभी ट्रायल के लिए नहीं गया, लेकिन मैंने अपना मन बना लिया और जम्मू-कश्मीर अंडर-19 ट्रायल के लिए गया। जब मैंने पहली गेंद फेंकी तो चयनकर्ता हैरान रह गए। उन्होंने मुझसे पूछा कि मैं कौन हूं और मैं इतनी तेज गेंदबाजी कैसे कर सकता हूं। तभी से पेशेवर क्रिकेट में मेरा सफर शुरू हुआ।" 
 

लेटेस्ट Cricket News, Cricket Live Score, Cricket Schedule और T20 World Cup की खबरों को पढ़ने के लिए Live Hindustan AppLive Hindustan App डाउनलोड करें।
epaper