DA Image
21 जनवरी, 2020|11:00|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

VIDEO: अजिंक्य रहाणे ने बताया शतक से ज्याद क्या था उनके लिए जरूरी

India vs West Indies: अजिंक्य रहाणे ने कहा, ''मैं अपने प्रदर्शन से संतुष्ट हूं क्योंकि मैंने शुरू में काफी मेहनत करनी पड़ी, क्योंकि शतक लगाने से पहले टीम को अच्छी स्थिति में पहुंचाना जरूरी था।'' 

ajinkya rahane  ap

India vs West Indies 2019, 1st Test: वेस्टइंडीज के खिलाफ पहले टेस्ट मैच में शानदार प्रदर्शन करने वाले भारतीय टेस्ट उप कप्तान अजिंक्य रहाणे ने कहा कि पिछले दो साल में शतक नहीं लगा पाने के लिए हो रही आलोचनाओं को नजरअंदाज करने के लिए उन्होंने अच्छे प्रयास किए। रहाणे पहले टेस्ट मैच से पूर्व खराब फॉर्म में चल रहे थे, लेकिन उन्होंने भारत की 318 रन से जीत में 81 और 102 रन बनाकर आलोचनाओं को करारा जवाब दिया।  

अजिंक्य रहाणे ने बीसीसीआई़.टीवी पर मुंबई के अपने साथी रोहित शर्मा से कहा, ''मैं कोशिश करता हूं कि मैं आलोचनाओं पर ध्यान नहीं दूं। ये अवांछित चीजें हैं जिन पर मेरा नियंत्रण नहीं हे। जब आप शतक लगाते हो आपको हमेशा खुशी होती है।' उन्होंने कहा, ''मैं अपने प्रदर्शन से संतुष्ट हूं क्योंकि मैंने शुरू में काफी मेहनत करनी पड़ी, क्योंकि शतक लगाने से पहले टीम को अच्छी स्थिति में पहुंचाना जरूरी था।'' 

गेंदबाजी में सुधार करके 5वें गेंदबाज की कमी पूरा करना चाहते हैं हनुमा विहारी

उन्होंने रोहित शर्मा को दिए इंटरव्यू में कहा कि पहली पारी में उनका फोकस भारत को संकट से निकालना था, इसके बाद उनकी निगाहें निजी माइलस्टोन पर थीं। रहाणे ने कहा, ''मैं अपने प्रयासों से संतुष्ट हूं। मेरे लिए पहली पारी में रन बनाना अहम था। टीम की हालत बहुत अच्छी नहीं थी। मेरे बारे में लगातार कहा गया कि मैं बड़े स्कोर नहीं कर पा रहा हूं। अर्द्धशतक को शतक में नहीं बदल पा रहा हूं। जब मैं पहली पारी में बल्लेबाजी के लिए आया तो मेरा लक्ष्य भारत को ट्रैक पर लाना था। इसके बाद में निजी माइलस्टोन के बारे में सोच सकता था।''

विराट कोहली और देवरों के साथ अनुष्का की वंडर राइड, देखें- मजेदार VIDEO

अजिंक्य रहाणे ने यह भी कहा कि दूसरी पारी में उनका मकसद अधिक से अधिक गेंदें खेलना था। वह अपनी योजना को क्रियान्वित करने में सफल रहे। वीडियो में रहाणे ने  रोहित से कहा, ''दूसरी पारी में हमारे पास बहुत समय था। मैं सैटल होने की सोच रहा था और इसके बाद तीनों सेशन में बल्लेबाजी करना चाहता था। मैं कम से कम 200 गेंदें खेलना  चाहता था। मैं अपना शतक बनाने में कामयाब रहा। मेरा शतक उन समर्थकों को समर्पित है जिन्होंने मुझे सपोर्ट किया।''

वहीं, इस इंटरव्यू में जसप्रीत बुमराह ने कहा, ''हमारे पास बचाव के लिए एक ब़ड़ा स्कोर था। हमने नई गेंद से आक्रामक गेंदबाजी की। हवाओं के चलते आउट स्विंग के लिए पूरा माहौल बना हुआ था। मैंने गेंद को सही एरिया में डालने की कोशिश की और मनचाहा परिणाम मिला।'' भारत और वेस्टइंडीज के बीच दूसरा टेस्ट मैच शुक्रवार से जमैका में खेला जाएगा।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:I try not to get affected by criticism says Ajinkya Rahane watch video