DA Image
29 जून, 2020|11:50|IST

अगली स्टोरी

करीब 40 साल बाद छलका सुनील गावस्कर का दर्द, बोले- सीरीज जीतने पर भी पता नहीं क्यों हटाया कप्तानी से

former india captain and batsman sunil gavaskar getty images

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर ने कहा है कि उन्हें आज तक समझ नहीं आया कि 1978-79 में घर में वेस्टइंडीज के खिलाफ टेस्ट सीरीज जीतने के बाद भी कप्तानी से क्यों हटा दिया गया था। इस सीरीज में उन्होंने 700 से ज्यादा रन भी बनाए थे। भारत ने छह मैचों की सीरीज 1-0 से जीती थी। इस सीरीज के बाद गावस्कर की जगह एस. वेंकटराघवन को टीम का कप्तान बनाया गया था।

द्रविड़ ने सचिन, सौरव को 2007 T20 वर्ल्ड कप में खेलने से किया था मना

गावस्कर ने अंग्रेजी अखबार मिड-डे में अपने कॉलम में लिखा है, 'वेस्टइंडीज के खिलाफ सीरीज जीतने के बाद भी मुझे कप्तानी से हटा दिया गया था जबकि इस सीरीज में मैंने 700 से ज्यादा रन बनाए थे। मुझे अभी तक इसका कारण नहीं पता, लेकिन शायद मैं उस समय कैरी पैकर वर्ल्ड सीरीज क्रिकेट से जुड़ने को तैयार था इसलिए शायद हटा दिया गया हो। चयन से पहले मैंने बीसीसीआई के साथ करार किया और बताया कि मैं किसके लिए वफादार हूं।'

पाकिस्तान की स्पेलिंग 'Pakiatan' लिख ट्रोल हुआ PCB, जमकर उड़ा मजाक

बिशन सिंह बेदी के लिए सिलेक्शन कमिटी के सामने अड़ गए थे गावस्कर

गावस्कर ने बताया कि उन्होंने किस तरह बिशन सिंह बेदी को टीम में रखने के लिए सिलेक्टर्स को मानाया था। गावस्कर ने कहा, 'सिलेक्शन कमिटी ने फैसला किया था कि तीन मैचों के बाद वो बेदी को हटा देंगे। जब मैंने पाकिस्तान सीरीज के बाद कप्तान के तौर पर उनकी जगह ली तभी कमिटी उन्हें हटाना चाहती थी। मैंने कहा कि वो अभी भी देश में बाएं हाथ के बेस्ट स्पिनर हैं और इसलिए उन्होंने पहले टेस्ट मैच में उन्हें मौका दिया।'
 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:I still do not know the reason for it says sunil gavaskar on being removed as captain despite beating west indies