DA Image
8 अप्रैल, 2020|7:38|IST

अगली स्टोरी

चहल को 6 छक्के जड़ने वाले क्लासेन ने कहा-मुझे उसकी गेंदबाजी पसंद है

यजुवेंद्र चहल

युजवेंद्र चहल की गेंदबाजी की धज्जियां उड़ाने दक्षिण अफ्रीकी बल्लेबाज हेनरिक क्लासेन ने कहा कि भले ही उनके अन्य साथी इस लेग स्पिनर को पढ़ने में नाकाम रहे हों लेकिन उन्हें उनका सामना करना काफी पसंद है। क्लासेन ने दूसरे टी-20 में 30 गेंदों पर 69 रन बनाये जिससे दक्षिण अफ्रीका ने दूसरे टी20 अंतरराष्ट्रीय में छह विकेट से जीत दर्ज की। 

ODI सीरीज का हीरो, 2nd T20 मैच में बना विलेन, बना डाला शर्मनाक रिकॉर्ड
         
वांडरर्स की तरह क्लासेन ने चहल के खिलाफ आक्रामक तेवर दिखाये। पारी के 13वें ओवर में उन्होंने इस लेग स्पिनर पर 23 रन बटोरे। चहल और कुलदीप यादव की स्पिन जोड़ी दक्षिण अफ्रीकी बल्लेबाजों के खिलाफ काफी सफल रही लेकिन क्लासेन ने उन्हें आसानी से खेला। चहल ने चार ओवर में 64 रन दिये और उन्हें कोई विकेट नहीं मिला। छब्बीस वर्षीय क्लासेन ने कहा कि उन्हें लेग स्पिनर के खिलाफ खेलना पसंद है। 
         
उन्होंने चहल के बारे में कहा, ''मुझे उसका (चहल) सामना करना काफी पसंद है। विशेषकर जब मैं एमेच्योर क्रिकेट में था तब दो उपयोगी लेग स्पिनर हुआ करते थे। मैंने टाइटन्स (क्लासेन की घरेलू टीम) की तरफ से शान वान बर्ग का भी काफी सामना किया। क्लासेन ने कहा, ''हम हमेशा मजाक करते थे कि मुझे अन्य लेग स्पिनर का करियर बर्बाद करना चाहिए ताकि वह आगे बढ़ सके। कई बार ऐसा हो जाता था। आप जहां शाट मारना चाहते हो वहां गेंद को हिट करके अच्छा लगता है। कल रात ऐसा हुआ। 

VIDEO: धौनी का ऐसा गुस्सा देखकर कोई भी कांप जाएगा, सरेआम पांडे को सुनाई 'गाली'
         
क्लासेन ने कहा कि चहल पर आक्रमण करना रणनीति का हिस्सा नहीं था। उन्होंने कहा, ''यह रणनीति का हिस्सा नहीं था। लेकिन जिस तरह से उनके तेज गेंदबाजों ने गेंदबाजी की तो मैंने लेग स्पिनर के खिलाफ अपने मौके बनाये क्योंकि उसके खिलाफ मेरे पास अधिक विकल्प थे।

डुमिनी ने मुझे प्रेरित किया: 
         
क्लासेन ने कहा, ''मेरी पारी में डुमिनी की भूमिका अहम रही। मैंने जो पहला या दूसरा ओवर खेला तो उसने मुझसे कहा कि इस ओवर में दस रन बनने चाहिए। उसने कहा कि अपनी नैसर्गिक क्रिकेट खेलूं और गेंदबाजों पर हावी होकर बल्लेबाजी करूं। सौभाग्य से आज यह रणनीति चल गयी।

उन्होंने कहा, ''जिस तरह से जेपी ने मुझसे कहा कि इस ओवर में 20 रन बनने चाहिए, उससे मेरे अंदर का डर बाहर निकल गया। इसके अलावा चित शांत रखना भी जरूरी था। एक समय ऐसा था जब मैं अच्छे शाट लगा रहा था। क्लासेन ने कहा, ''वे (भारतीय गेंदबाज) काफी कुशल गेंदबाज हैं और इसलिए उनकी हर गेंद पर रन बनाना आसान नहीं था। 

INDvSA: हार के लिए विराट ने इस वजह को ठहराया जिम्मेदार, बोले- 12वें ओवर तक...
         
क्लासेन को क्विंटन डिकाक के चोटिल होने के कारण टीम में जगह मिली और उन्होंने इस मौके का पूरा फायदा उठाया। वह अभी हालांकि डिकाक की जगह लेने के बारे में नहीं सोच रहे हैं। उन्होंने कहा, ''वह विश्वस्तरीय खिलाड़ी है और हमारी टीम को विशेषकर शीर्ष क्रम में उसकी कमी खल रही है। मुझे नहीं लगता कि उसे अभी किसी तरह की चिंता करने की जरूरत है। 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:I quite fancy Chahal says Heinrich Klaasen after smashing 30 ball 69 in 2nd T20I