फोटो गैलरी

Hindi News क्रिकेटमैंने कभी नहीं कहा शाहीन को कप्तान बनाओ... शाहिद अफरीदी को क्यों देनी पड़ी सफाई

मैंने कभी नहीं कहा शाहीन को कप्तान बनाओ... शाहिद अफरीदी को क्यों देनी पड़ी सफाई

वर्ल्ड कप 2023 में पाकिस्तान की टीम सेमीफाइनल के लिए क्वॉलिफाई नहीं कर पाई और इसके बाद कप्तान बाबर आजम ने अपना पद छोड़ दिया। शान मसूद टेस्ट कप्तान बने हैं और शाहीन अफरीदी को टी20 कप्तान बनाया गया।

मैंने कभी नहीं कहा शाहीन को कप्तान बनाओ... शाहिद अफरीदी को क्यों देनी पड़ी सफाई
Namita Shuklaलाइव हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीFri, 17 Nov 2023 10:22 AM
ऐप पर पढ़ें

आईसीसी वर्ल्ड कप 2023 में पाकिस्तान क्रिकेट टीम का प्रदर्शन काफी निराशाजनक रहा था। पाकिस्तान की टीम न्यूजीलैंड को छोड़कर किसी बड़ी टीम को वर्ल्ड कप 2023 के लीग राउंड के दौरान हरा नहीं पाई और पॉइंट्स टेबल में पांचवें नंबर पर रही। पाकिस्तान सेमीफाइनल के लिए क्वॉलिफाई नहीं कर पाया और स्वदेश लौटने के बाद कप्तान बाबर आजम ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया। पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) ने टी20 कप्तान शाहीन अफरीदी को बनाया है और टेस्ट कप्तानी शान मसूद को सौंपी है। वर्ल्ड कप के दौरान ही ऐसी खबरें आने लगी थीं कि पीसीबी चाहता है कि बाबर कप्तानी छोड़ दें। शाहीन के कप्तान बनने के बाद से ही ऐसी बातें फैलना शुरू हो गईं कि शाहिद अफरीदी का इसके पीछे बड़ा रोल है। शाहिद अफरीदी की बेटी से शाहीन की शादी हुई है और ऐसी बातें खुलकर होने लगीं कि अपने दामाद को कप्तान बनाने के लिए शाहिद ने पीसीबी से सिफारिश की। शाहिद ने अब इस पर अपनी सफाई दी है।

शमी को बार-बार धर्म याद क्यों दिला रहे ट्रोलर्स, पाक कर रहा बड़ी साजिश

शाहिद ने समा टीवी पर कहा, 'मैंने कप्तान बदलने की बात की आलोचना की थी कि इतनी जल्दी कप्तान बदलने की क्या जरूरत है। मुझसे प्राइम मिनिस्टर साहब ने पूछा था कप्तान को लेकर आप क्या सोचते हैं, तो मैंने यही कहा था कि बाबर को अभी चेंज ना करें, उसको टेस्ट में कप्तान बनाए रखें, कोई मसला नहीं है अगर आपको लेकर आना भी है वाइट बॉल के लिए तो आप मोहम्मद रिजवान को लेकर आइये, आपने रिजवान का नाम मेरे मुंह से पहले भी सुना होगा।'

गोल्डन बैट पर कोहली का कब्जा, शमी को फाइनल में टक्कर देगा ये खिलाड़ी

अफरीदी ने आगे कहा, 'इसके बाद मुझे चेयरमैन साहब ने बुलाया, चेयरमैन साहब ने कप्तानी को लेकर मेरी राय ली, मैंने कहा कि बाबर को ना हटाएं, उसको रेड बॉल पर चलने दें और आप मोहम्मद रिजवान को आप वाइट बॉल कप्तान बना दें। क्योंकि रिजवान मुल्तान सुल्तान के लिए कप्तानी कर भी रहा था। खिलाड़ियों से घुलमिलकर रहता है। सबको साथ लेकर भी चलना आता है। मैं हमेशा से रिजवान के हक में था। मैं कहूंगा कि यह मोहम्मद हफीज और चेयरमैन ने मिलकर फैसला लिया है। मैं सही कहूं तो मैंने हमेशा कोशिश की है कि मैं इन चीजों में ना घुसूं क्योंकि हमारा रिश्ता ही ऐसा है। क्योंकि फिर लोग सोचेंगे कि मैं शाहीन को सपोर्ट कर रहा हूं लॉबी बना रहा हूं लेकिन मैं इन सबसे दूर रहना चाहता हूं।'

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें