DA Image
7 जून, 2020|11:13|IST

अगली स्टोरी

INDvPAK: 2005 के बेंगलुरु टेस्ट को लेकर इंजमाम ने किए बड़े खुलासे, बताया कैसे कमजोर टीम के साथ उन्होंने भारत को हराया

इस मैच को लेकर पाकिस्तान के पूर्व कप्तान इंजमाम उल हक ने कुछ अहम बातें कही हैं। उन्होंने बताया कि उस समय पाकिस्तान के कोच बॉब वूल्मर उनके पारी घोषित करने के फैसले से खुश नहीं थे।

former pakistan captain inzamam-ul-haq heaped praise on   sachin tendulkar screen grab

2005 में पाकिस्तान क्रिकेट टीम भारत दौरे पर आई थी। तीन मैचों की टेस्ट सीरीज 1-1 से ड्रॉ हुई थी। सीरीज का आखिरी टेस्ट मैच बेंगलुरु में खेला गया था, जिसे पाकिस्तान ने 168 रन से जीतकर सीरीज में बराबरी हासिल कर ली थी। इस मैच को लेकर पाकिस्तान के पूर्व कप्तान इंजमाम उल हक ने कुछ अहम बातें कही हैं। उन्होंने बताया कि उस समय पाकिस्तान के कोच बॉब वूल्मर उनके पारी घोषित करने के फैसले से खुश नहीं थे।

यूट्यूब वीडियो में इंजमाम ने कहा, 'मेरा 100वां टेस्ट मैच बेंगलुरु में खेला गया, मेरे लिए बहुत खास था। वो पूरा भारत दौरा बहुत खास था। एक टीम के तौर पर वो टेस्ट हमारे लिए बहुत अहम था। जब हम उस दौरे पर जा रहे थे, तो कई क्रिकेट दिग्गजों ने कहा था कि भारत दौरे पर जाने वाली यह सबसे कमजोर पाकिस्तानी टीम है। उन्हें लगा था कि भारत आसानी से हमें हरा देगा। हमारे पास अच्छा बॉलिंग अटैक नहीं था और एक कप्तान के तौर पर मैं यही सोच रहा था कि हम उन्हें ऑलआउट कैसे करेंगे।'

इंजमाम ने कहा पहले टेस्ट मैच में ऑलराउंडर अब्दुल रज्जाक और विकेटकीपर बल्लेबाज कामरान अकमल के बीच अहम साझेदारी हुई। उन्होंने कहा, 'पहला टेस्ट मैच हम हार रहे थे, हम विकेट गंवा चुके थे। कामरान अकमल और अब्दुल रज्जाक क्रीज पर मौजूद थे। मुझे लगता है उस मैच में कामरान ने अपने करियर की और जिंदगी की सबसे अच्छी पारी खेली थी। हम पहले मैच में हार के बाद काफी निराश हो गए थे, टीम में हमारे पास बड़े खिलाड़ी नहीं थे। कामरान और रज्जाक की उस साझेदारी से टीम में जान आई थी।'

इंजमाम ने बताया कि आखिरी टेस्ट में वो काफी दबाव में थे और पहला मौका था, जब उनके पिता मैच देखने के लिए आए थे। उन्होंने बताया, 'मेरे पिता ने कभी भी मुझे खेलते हुए नहीं देखा था, लेकिन वो इकलौता मैच था, जिसमें वो मुझे लाइव खेलते हुए देखने के लिए आए थे, इससे मेरे ऊपर दबाव बढ़ गया था, इसके अलावा यह मेरा 100वां टेस्ट मैच था। इस मैच से पहले लोग ऐसी भी बातें कर रहे थे कि यह कप्तान के तौर पर और खिलाड़ी के तौर पर मेरा आखिरी टेस्ट मैच होगा।'

'सहवाग सबसे बड़ा खतरा थे'

वीरेंद्र सहवाग को उस समय मैन ऑफ द सीरीज चुना गया था। इंजमाम ने कहा कि सहवाग हमारे लिए सबसे बड़ा खतरा थे। उन्होंने कहा, 'भारत को आखिरी दिन मैच बचाना था और वो नेगेटिव माइंडसेट में पहुंच गए थे। वीरेंद्र सहवाग ऐसे खिलाड़ी थे, जो हमें लगा था कि हमसे मैच छीन सकते हैं। मैंने अपनी टीम को यह कहा भी था, अगर हम सहवाग को आउट कर लेंगे तो भारत लक्ष्य का पीछा नहीं कर पाएगा।'

इंजमाम ने आगे कहा, 'जब मैं दूसरी पारी घोषित करने वाला था, तो मैंने बॉब वूल्मर को मेसेज किया था कि मैं भारत को कुछ ओवर खेलने के लिए देना चाहता हूं। वूल्मर ने मुझसे कहा था कि कप्तान और उप-कप्तान को मिलकर फैसला लेना चाहिए। मैंने यूनिस खान से पूछा और वो मेरी बात से सहमत थे। मैंने खतरा उठाया और पारी घोषित कर दी। भारत को शानदार शुरुआत मिली थी। जब मैं मैदान से वापस आया तो वूल्मर ने मुझसे कहा था कि पारी घोषित करने का फैसला गलत था।'

'सहवाग के आउट होने से पलटा था मैच'

इंजमाम ने आगे कहा, 'अगले दिन मैंने अपनी टीम से कहा कि अगर हम सहवाग को आउट कर लेंगे, तो भारत इस लक्ष्य का पीछा नहीं कर पाएगा। उस दिन रज्जाक ने सहवाग को रनआउट किया, मैंने सोचा कि अगर रज्जाक किसी बल्लेबाज को रनआउट कर सकता है, तो यह हमारा दिन है। इसके बाद भारत एकदम डिफेंसिव मोड में चला गया था। मैंने अपने फील्डर्स के साथ मिलकर सचिन तेंदुलकर जैसे बल्लेबाज के खिलाफ भी आक्रामक रवैया अपनाया। तेंदुलकर भी रन नहीं बना सके। जब मैच के आखिरी स्टेज में हम थे, तो हमें छह-सात एक्स्ट्रा ओवर मिल गए, जो मेरे फैसले के हिसाब से एकदम फिट थे।'

साथ के कुछ बड़े खिलाड़ियों ने इंजमाम के खिलाफ रची थी साजिश

इंजमाम ने बताया कि काफी पाकिस्तानी खिलाड़ियों ने उनके खिलाफ साजिश की थी और वो इस दौरे पर जाने से इस लिए मना कर रहे थे, कि इसके बाद इंजमाम को कप्तान के पद से हटा दिया जाए। उन्होंने कहा, 'उस दौरे पर जाने के लिए कुछ अहम खिलाड़ियों ने मना कर दिया था, इसके बाद मेरे पास काफी कमजोर गेंदबाजी आक्रमण और बैटिंग लाइन-अप था। मुझे लगता है कि उनको लगा था कि अगर हम यह सीरीज हार गए तो मुझे कप्तान का पद छोड़ना पड़ेगा और इससे उनको मौका मिल जाएगा।'

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:I had proved coach bob Woolmer wrong in 2005 Bangalore Test against india Inzamam ul haq