DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ENGvsIND: लॉर्ड्स टेस्ट में विराट कोहली और रवि शास्त्री कैसे कर बैठे इतनी बड़ी गलती?

जब यह पहले से ही पता चल गया था कि लॉर्ड्स टेस्ट मैच में परिस्थितियां तेज गेंदबाजों के अनुकूल रहने वाली हैं, तो अंतिम ग्यारह से उमेश यादव को बाहर ​रख कर कुलदीप यादव को क्यों खिलाया गया?

Captain Virat Kohli and Coach Ravi Shastri

विराट कोहली एक बल्लेबाज के रूप में अधिकतर समय सबकुछ ठीक करते हैं। बहुत कम बार ही ऐसा होता है कि वह अपनी बल्लेबाजी तकनीक को लेकर सवाल उठाने का मौका दें। लेकिन बात जब कप्तानी की होती है तो वह कई बार ऐसे फैसले कर जाते हैं जो काफी हैरान करता है और उनके नेतृत्व क्षमता पर भी सवाल खड़े करता है। विराट कोहली का ऐसा ही एक फैसला भारत और इंग्लैंड के बीच लॉर्ड्स टेस्ट मैच में देखने को मिला है।

बारिश होने के बावजूद विराट और शास्त्री ने क्यों कर दी इतनी बड़ी गलती?
भारत और इंग्लैंड के बीच दूसरा टेस्ट मैच शुरू होने से एक दिन पहले तक यह तय था कि लॉर्ड्स के विकेट से स्पिनर्स को मदद मिलेगी। और ऐसे में भारतीय टीम में दो स्पिनर्स के शामिल किए जाने की पूरी संभावना थी। लेकिन टेस्ट मैच शुरू होने वाले दिन जमकर बारिश हुई। इतनी बारिश की पहले दिन टॉस तक नहीं हो सका। अब एक ऐसी पिच जिस पर स्पिनर्स को मदद मिलनी थी, बारिश के बाद पूरी तरह से तेज गेंदबाजी के अनुकूल हो गई थी।

साल 2018 के No. 1 बल्लेबाज की दौड़ में जॉनी बेयरस्टो से पिछड़े विराट कोहली

लॉर्ड्स टेस्ट में टॉस से पहले ही पता था क्याा होगा पिच का मिजाज
लॉर्ड्स टेस्ट मैच में दूसरे दिन जब टॉस हुआ और दोनों टीमों ने अपनी प्लेइंग इलेवन के बारे में बताया तो क्रिकेट विशेषज्ञ भारतीय टीम प्रबंधन के फैसले से हैरान दिखे। भारत ने एक ऐसे टेस्ट मैच में दो स्पिनर्स के साथ उतरने का फैसला किया, जिसमें डेढ दिन का खेल पहले ही बारिश की भेंट चढ़ चुका था और मौसम विभाग की ओर से बाकी बचे तीन दिन तक बादल छाए रहने तथा बारिश होने की भविष्यवाणी की गई थी।

अभी तक लॉर्ड्स टेस्ट मैच में गिरे सभी विकेट तेज गेंदबाजों ने लिए हैं
कप्तान विराट कोहली और कोच रवि शास्त्री के इस फैसले का असर भी देखने को मिल गया। जहां भारत अपनी पहली पारी में महज 107 रन पर सिमट गया और इंग्लैंड के लिए सारे विकेट जेम्स एंडरसन (5), क्रिस वोक्स (2), स्टुअर्ट ब्रॉड (1) और सैम कुरेन (1) ने झटके। वहीं दूसरी ओर इंग्लैंड ने अपनी पहली पारी में जो 6 विकेट गंवाए हैं वे सभी मोहम्मद शमी (3), हार्दिक पंड्या (2) और ईशांत शर्मा (1) के खाते में गए हैं।

लॉर्ड्स क्रिकेट ग्राउंड में पानी सुखाने के बाद अब रेडियो बेच रहे हैं अर्जुन तेंदुलकर

तेज गेंदबाजों के अनुकूल परिस्थिति में उमेश बाहर और कुलदीप अंदर क्यों?
रविचंद्रन अश्विन ने 17 ओवर्स की गेंदबाजी में 4 की औसत से 68 रन दिए हैं और उन्हें कोई सफलता नहीं मिली है। वहीं कुलदीप यादव ने 9 ओवर्स गेंदबाजी की है और लभगभ 5 की औसत से 44 रन खर्च किए हैं और विकेट लेने के मामले में वह भी खाली हाथ हैं। ऐसे में विराट और रवि शास्त्री की सोच पर सवाल उठ रहे हैं कि जब यह पहले से ही पता चल गया था कि लॉर्ड्स टेस्ट मैच में परिस्थितियां तेज गेंदबाजों के अनुकूल रहने वाली हैं, तो अंतिम ग्यारह से उमेश यादव को बाहर ​रख कर कुलदीप यादव को क्यों खिलाया गया? शायद यह एक गलति भारत को बहुत मंहगी पड़ सकती है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:How Captain Virat Kohli and Coach Ravi Shastri can make such a blunder and Drop Umesh Yadav for Kuldeep Yadan in Lords Test Match