फोटो गैलरी

Hindi News क्रिकेटपिता और भाई की मौत से टूट गए थे आकाशदीप, 3 साल रहे क्रिकेट से दूर; फिर ऐसे तय किया टीम इंडिया तक का सफर

पिता और भाई की मौत से टूट गए थे आकाशदीप, 3 साल रहे क्रिकेट से दूर; फिर ऐसे तय किया टीम इंडिया तक का सफर

तेज गेंदबाज आकाशदीप ने बिहार के सासाराम से निकलकर टीम इंडिया तक का सफर ऐसे ही तय नहीं किया। उनको 3 साल तक क्रिकेट से दूर रहना पड़ा, क्योंकि उनके पिता के बाद बड़े भाई का भी निधन हो गया था। 

पिता और भाई की मौत से टूट गए थे आकाशदीप, 3 साल रहे क्रिकेट से दूर; फिर ऐसे तय किया टीम इंडिया तक का सफर
Vikash Gaurलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीFri, 23 Feb 2024 11:34 AM
ऐप पर पढ़ें

बिहार के सासाराम के रहने वाले आकाशदीप ने शुक्रवार 23 फरवरी को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में कदम रखा। उन्होंने टीम इंडिया के लिए इंग्लैंड के खिलाफ रांची के मैदान पर टेस्ट डेब्यू किया। एक समय पर रांची भी बिहार का हिस्सा था। ऐसे में कहा जा सकता है कि उनके ये डेब्यू और भी ज्यादा यादगार रहा। हालांकि, उनको पहले विकेट के लिए इंतजार करना पड़ा, क्योंकि उन्होंने बल्लेबाज को बोल्ड तो कर दिया था, लेकिन गेंद नो बॉल थी। हालांकि, हम यहां बात करने जा रहे हैं कि उनका सफर भारतीय टीम तक पहुंचने में कैसा रहा।  

आकाशदीप को क्रिकेट खेलने का शौक था, लेकिन उनके पिता उनका सपोर्ट करने के लिए तैयार नहीं थे। ऐसे में उन्हें पिता ने हतोत्साहित किया, लेकिन उनका प्लान नाम की तरह बुलंदियां छूने का था। वह नौकरी खोजने के बहाने दुर्गापुर के लिए रवाना हुए और उनको अपने चाचा का समर्थन मिला। वह वहां एक स्थानीय एकेडमी में गए, जहां उन्हें अपनी पेस के लिए प्रसिद्धि मिलनी शुरू हुई। हालांकि, उनके पिता को दिल दौरा पड़ा और उनकी मृत्यु हो गई। दो महीने बाद उनके बड़े भाई का भी निधन हो गया। इस तरह वे बुरी तरह टूट गए।

घर में पैसे नहीं थे और उसे अपनी मां की देखभाल करनी थी। इसके चलते उन्हें तीन साल के लिए खेल से बाहर होना पड़ा। उन्होंने अपने जीवन को फिर से बनाने की कोशिश में बिताए, लेकिन उन्हें एहसास हुआ कि उनका क्रिकेट का सपना इतना बड़ा था कि उसे जाया नहीं जाने दिया जा सकता था। वह दुर्गापुर लौट आए, और फिर अंततः कोलकाता चले गए, जहां उन्होंने एक छोटा कमरा किराए पर लिया और अपने चचेरे भाई के साथ रहने लगे। इसके बाद उनका क्रिकेट से नाता फिर से जुड़ा और वे आगे बढ़ते चले गए। 

IND vs ENG 4th Test: रेहान अहमद लौटेंगे इंग्लैंड, पांचवें टेस्ट से भी हुए OUT

शुरुआत में उनको बंगाल की अंडर-23 टीम में मौका मिला और जल्द ही उनको रणजी ट्रॉफी डेब्यू करने का सौभाग्य प्राप्त हुआ। दिसंबर 2019 में उन्होंने फर्स्ट क्लास क्रिकेट में डेब्यू किया और फिर 2022 में उनको आईपीएल में खेलने का मौका मिला। वे रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर यानी आरसीबी के लिए खेले और 2023 में भी वे टीम का हिस्सा थे। हालांकि, दो सीजन में उनको सात ही मैच खेलने को मिले, लेकिन 2024 में उन्होंने अब फरवरी के आखिरी में टेस्ट डेब्यू किया। अच्छी बात ये थी कि उन्होंने अपनी मां के सामने भारत के लिए टेस्ट डेब्यू किया।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें