फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News क्रिकेटक्लासेन 2 रन और बना लेते तो टूट जाता कपिल देव का ये 40 साल पुराना रिकॉर्ड, फिर भी इतिहास में दर्ज हुआ नाम

क्लासेन 2 रन और बना लेते तो टूट जाता कपिल देव का ये 40 साल पुराना रिकॉर्ड, फिर भी इतिहास में दर्ज हुआ नाम

दक्षिण अफ्रीका के धाकड़ बल्लेबाज हेनरिक क्लासेन ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ आतिशी पारी खेली। उन्होंने 83 गेंदों में 174 रन बनाए। क्लासेन इस दौरान कपिल देव का एक 40 साल पुराना रिकॉर्ड तोड़ने से चूक गए।

क्लासेन 2 रन और बना लेते तो टूट जाता कपिल देव का ये 40 साल पुराना रिकॉर्ड, फिर भी इतिहास में दर्ज हुआ नाम
Md.akram लाइव हिंदुस्तान टीम,नई दिल्लीSat, 16 Sep 2023 01:21 PM
ऐप पर पढ़ें

दक्षिण अफ्रीका के धाकड़ बल्लेबाज हेनरिक क्लासेन को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ चौथे वनडे में कमाल की पारी खेलने के बाद खूब वाहवाही मिल रही है। क्लासेन ने पांचवें नंबर पर उतरने के बाद सेंचुरियन के सुपरस्पोर्ट पार्क में 83 गेंदों में 174 रन की आतिशी पारी खेली। उन्होंने अपनी पारी में 13 चौके और इतने ही छक्के जड़े। क्लासेलन की शानदार बैटिंग के दम पर दक्षिण अफ्रीका ने निर्धारित 50 ओवर में 416/5 का विशाल स्कोर खड़ा किया। क्लासेन ने अपनी पारी में कई कीर्तिमान छुए लेकिन वह दो रन और बना लेते तो भारत के पूर्व दिग्गज ऑलराउंडर कपिल देव का एक 40 साल पुराना रिकॉर्ड तोड़ देते।

दरअसल, क्लासेन ने पुरुषों के वनडे क्रिकेट में नंबर-5 या उससे नीचे बैटिंग करने के मामले में दूसरा सबसे बड़ा सर्वोच्च व्यक्तिगत स्कोर बनाया है। क्लासेन से आगे विश्व कप विजेता कप्तान कपिल हैं, जिन्होंने 1983 वर्ल्ड कप में नाबाद 175 रन की पारी खेली थी। कपिल ने तब जिम्बाब्वे के खिलाफ मुकाबले में नंबर-6 पर आने के बाद 138 गेंदों का सामना करते हुए यह रन जुटाए थे। उन्होंने 16 चौके और 6 छक्के लगाए। भारत की आधी टीम 17 रन पर पवेलियन लौट गई थी लेकिन कपिल ने हिम्मत नहीं हारी। उन्होंने भारत को 266/8 के स्कोर तक पहुंचाया। भारत ने जिम्बाब्वे को 235 पर ढेर कर 31 रन से जीत दर्ज की थी। भारत ने उस साल वेस्टइंडीज को फाइनल में हराकर वर्ल्ड कप अपने नाम किया था।

दक्षिण अफ्रीका और ऑस्ट्रेलिया चौथे वनडे की बात करें तो क्लासेन ने शुरू में धीमी बैटिंग की। उन्होंने शुरुआती 25 गेंदों में महज 24 रन जोड़े। लेकिन उसके बाद क्लासेन ने कंगारू गेंदबाजों की जमकर बखिया उधेड़ी। उन्होंने अगली 58 गेंदों में 150 रन बटोरे। क्लासेन ने सिर्फ 57 गेंदों में तीसरे वनडे सेंचुरी बना ली। उन्होंने डेविड मिलर (45 गेंदों में नाबाद 82) ने का संग पांचवें विकेट के लिए 222 रन की साझेदारी की। क्लासेन को 50वें ओवर की आखिरी गेंद पर मार्कस स्कोइनिस ने नाथन एलिस के हाथों लकपवाया। दक्षिण अफ्रीका ने ऑस्ट्रेलिया को 164 रन से मात देकर पांच मैचों की सीरीज में 2-2 से बराबरी कर ली है। बता दें कि दक्षिण अफ्रीका वनडे में सबसे ज्यादा बार 400 प्लस स्कोर बनाने वाली टीम है। दक्षिण अफ्रीका ने यह कारनमा सात और भारत ने 6 बार किया है।

एक्टिव प्लेयर्स का अलग-अलग बैटिंग पोजीशन पर सर्वोच्च व्यक्तिगत स्कोर

ओपनिंग पर - रोहित शर्मा (264)
नंबर-3 पर - विराट कोहली (183)
नंबर-4 पर - बेन स्टोक्स (182)
नंबर-5 पर - हेनरिक क्लासेन (174)