फोटो गैलरी

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ क्रिकेटदेश को पहली बार जिताया टी-20 वर्ल्ड कप, लेकिन फिर भी मिचेल मार्श की टेस्ट टीम में जगह पक्की नहीं

देश को पहली बार जिताया टी-20 वर्ल्ड कप, लेकिन फिर भी मिचेल मार्श की टेस्ट टीम में जगह पक्की नहीं

पांच बार की वर्ल्ड चैम्पियन ऑस्ट्रेलिया ने बीते रविवार को न्यूजीलैंड को एकतरफा अंदाज में आठ विकेट से हराकर पहली बार टी-20 वर्ल्ड कप पर कब्जा जमाया। टीम की इस जीत के हीरो मिचेल मार्श रहे, जिन्होंने 50...

देश को पहली बार जिताया टी-20 वर्ल्ड कप, लेकिन फिर भी मिचेल मार्श की टेस्ट टीम में जगह पक्की नहीं
Mohan Kumarलाइव हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीMon, 15 Nov 2021 07:43 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/

पांच बार की वर्ल्ड चैम्पियन ऑस्ट्रेलिया ने बीते रविवार को न्यूजीलैंड को एकतरफा अंदाज में आठ विकेट से हराकर पहली बार टी-20 वर्ल्ड कप पर कब्जा जमाया। टीम की इस जीत के हीरो मिचेल मार्श रहे, जिन्होंने 50 गेंदों पर छह चौके और चार छक्के लगाए। टीम अब इंग्लैंड के खिलाफ अपने घर में एशेज सीरीज खेलेगी, जिसकी शुरुआत आठ दिसंबर से ब्रिस्बेन में शुरू होनी है। इस सीरीज के लिए टीम सिलेक्शन से पहले ऑस्ट्रेलिया के हेड सिलेक्टर जॉर्ज बेली का बयान काफी चर्चाएं बटोर रहा है। उन्होंने कहा है कि टीम चुनते वक्त मार्श की न्यूजीलैंड के खिलाफ खेली गई शानदार पारी को ज्यादा तवज्जो नहीं मिलेगी।

BCCI अध्यक्ष सौरव गांगुली ने बताया, क्यों भारत-पाकिस्तान के बीच आपस में नहीं हो रही क्रिकेट सीरीज

मार्श ने यूएई और ओमान में खेले गए टी-20 वर्ल्ड कप के छह मैचों में लगभग 62 की औसत से 185 रन बनाए, जिसके बाद इयान हीली जैसे पूर्व ऑस्ट्रेलियाई दिग्गज ने पारंपरिक प्रतिद्वंद्वी इंग्लैंड के खिलाफ आगामी चुनौती के लिए टीम में उनके चयन का समर्थन किया। इस पर बेली ने कहा कि दोनों (टी-20 और टेस्ट) पूरी तरह से अलग फॉर्मेट हैं। बेली ने 'एनईएन ड्वेन वर्ल्ड' से सोमवार को कहा, ''ईमानदारी से कहूं तो उस प्रदर्शन को ज्यादा प्रायोरिटी नहीं दी जाएगी।''

बुरे फंसे माइकल वॉन, नस्लवाद मामले में आदिल रशीद ने अजीम रफीक के आरोपों का किया सपोर्ट

उन्होंने कहा, ''दोनों में समानता नहीं है, लेकिन आप इंटरनेशनल लेवल पर खिलाड़ियों को अच्छा करते देखना चाहते है, क्योंकि इससे उन्हें आत्मविश्वास मिलता है।'' बेली ने कहा, ''मुझे लगता है कि यह जरूरी नहीं कि किसी का एक फॉर्मेट की लय दूसरे में भी जारी रहे और मुझे यह भी नहीं लगता कि टी-20 वर्ल्ड कप में जीत से आपको एशेज में कोई फायदा होगा।'' बता दें कि मार्श ने अब तक 32 टेस्ट खेले हैं, लेकिन टीम में जगह पक्की करने में फेल रहे है। इस फॉर्मेट में बल्ले से उनका औसत 25 और बॉलिंग एवरेज लगभग 39 का है।

epaper