DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   क्रिकेट  ›  पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली के निधन पर क्रिकेटर हुए भावुक, गंभीर बोले- मैंने पिता खोया
क्रिकेट

पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली के निधन पर क्रिकेटर हुए भावुक, गंभीर बोले- मैंने पिता खोया

लाइव हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीPublished By: Mridula
Sat, 24 Aug 2019 03:59 PM
पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली के निधन पर क्रिकेटर हुए भावुक, गंभीर बोले- मैंने पिता खोया

Arun Jaitley Passes Away: पूर्व वित्त मंत्री और भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता अरुण जेटली (Arun Jaitley) का शनिवार (24 अगस्त) को यहां अखिल भारतीय अयुर्विज्ञान संस्था (AIIMS) में निधन हो गया। वह 66 वर्ष के थे। उनके निधन से क्रिकेट जगत भी गहरे शोक में डूब गया है। क्रिकेटर वीरेंद्र सहवाग से लेकर कई दिग्गजों ने उनके निधन पर शोक प्रकट किया है। वह नौ अगस्त से एम्स में भर्ती थे। उनका जन्म 1952 में दिल्ली में हुआ था और 1974 से उन्होंने राजनीति की शुरुआत की थी। 

अरुण जेटली के निधन पर गौतम गंभीर और वीरेंद्र सहवाग ने काफी इमोशनल ट्वीट किए हैं। बता दें कि अरुण जेटली ने 13 साल दिल्ली क्रिकेट एसोसिएशन के अध्यक्ष के तौर पर काम किया। साल 1999 से लेकर 2012 तक जेटली ने डीडीसीए के अध्यक्ष के तौर पर काम किया। भारतीय क्रिकेट के कई दिग्गजों को जेटली ने सराहा और उनको विश्व क्रिकेट में पहचान बनाने में अहम भूमिका निभाई। जब जेटली डीडीसीए के अध्यक्ष थे, तब दिल्ली और आसपास के क्षेत्र से कई प्रतिभाशाली खिलाड़ी अंतरराष्ट्रीय स्तर पर चमके। गंभीर के अलावा वीरेंद्र सहवाग, विराट कोहली, शिखर धवन और इशांत शर्मा ऐसे कुछ खिलाड़ी हैं जिन्होंने उनके कार्यकाल के दौरान अंतरराष्ट्रीय स्तर पर शानदार प्रदर्शन किया। जेटली क्रिकेट प्रशंसक थे और बीसीसीआई के अधिकारी भारतीय क्रिकेट के संबंध में कोई भी नीतिगत फैसला लेने से पहले उनकी सलाह लेते थे। 

Arun Jaitley Dies: जानिए, कैसे अरुण जेटली थे पीएम मोदी के 'संकट के साथी'

पूर्व क्रिकेटर और वर्तमान भाजपा सांसद गौतम गंभीर ने अरुण जेटली के निधन पर उन्हें श्रद्धांजलि दी है। उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा है- एक पिता आपको बोलना सिखाता है, लेकिन पिता समान व्यक्ति आपको यह कला सिखाता है कैसे बोलना है। एक पिता आपको चलना सिखाता है, लेकिन पिता समान व्यक्ति  सिखाता है कि कैसे चलना है। एक पिता आपको नाम देता है, लेकिन पिता समान व्यक्ति  आपको पहचान देता है। मेरे पिता समान अरुण जेटली नहीं रहे। मुझसे मेरा एक हिस्सा दूर चला गया है। आरआईपी सर।

वीरेंद्र सहवाग ने अरुण जेटली के निधन पर ट्वीट करते हुए लिखा- अरुण जेटली जी के जाने के बहुत दुख है। उन्होंने दिल्ली के क्रिकेटरों को भारत का प्रतिनिधित्व करने में अहम भूमिका निभाई। एक वक्त था, जब दिल्ली के क्रिकेटरों को हाई लेवल तक जाने का चांस नहीं मिल पाता था, लेकिन डीडीसीए की लीडरशिप के दौरान उन्होंने दिल्ली के क्रिकेटरों को यह मौके दिलवाए। वह खिलाड़ियों की जरुरतें सुनते थे और उन्हें हल भी करते थे। मैं निजी तौर पर उनके साथ एक बेहद खूबसूरत रिलेशनशिप शेयर करता हूं। मेरी प्रार्थना और संवेदना उनके परिवार के साथ है।

आकाश चोपड़ा ने भी अरुण जेटली के निधन पर उन्हें श्रद्धांजलि देते हुए लिखा है-  उनकी निधन की खबर का काफी दुख है। वह क्रिकेट लवर थे। हमेशा मददगार थे। उन्हें अंडर 19 में शानदार परफॉर्म करने वाले बच्चों के नाम भी याद थे।

हर्षा भोगले ने भी अरुण जेटली के निधन पर शोक प्रकट किया है। 

क्रिकेटर मोहम्मद कैफ ने भी अरुण जेटली को श्रद्धांजलि दी है।

बता दें कि वाजपेयी सरकार के दौरान उन्हें 13 अक्टूबर 1999 को सूचना और  प्रसारण राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) नियुक्त किया गया। उन्हें विनिवेश राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) भी नियुक्त किया गया। मोदी सरकार के पहले कार्यकाल में वह वित्त मंत्री बने थे। अरुण जेटली वर्ष 1982 में जम्मू-कश्मीर के पूर्व वित्त मंत्री गिरधारी लाल डोगरा की पुत्री संगीता के साथ परिणय सूत्र में बंध गए थे। उनके परिवार में पत्नी, बेटा रोहन और बेटी सोनाली हैं।

इस आर्टिकल को शेयर करें
लाइव हिन्दुस्तान टेलीग्राम पर सब्सक्राइब कर सकते हैं।आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं? हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें।

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

सब्सक्राइब
अपडेट रहें हिंदुस्तान ऐप के साथ ऐप डाउनलोड करें

संबंधित खबरें