DA Image
1 जून, 2020|9:46|IST

अगली स्टोरी

2011 वर्ल्ड कप के फाइनल मैच में धोनी के छक्के को लेकर गौतम गंभीर ने किया ऐसा ट्वीट कि हो गए ट्रोल

महेंद्र सिंह धोनी उस समय टीम के कप्तान थे और उन्होंने छक्के के साथ भारत को यह जीत दिलाई थी। फाइनल मैच में गौतम गंभीर ने 97 रनों की पारी खेली थी, जबकि धोनी 91 रन बनाकर नॉटआउट लौटे थे।

ms dhoni and gautam gambhir

2 अप्रैल एक ऐसी तारीख है, जो कोई भारतीय क्रिकेट फैन कभी नहीं भूल सकता है। 2 अप्रैल 2011 के दिन ही भारत ने मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में श्रीलंका को हराकर विश्व कप खिताब अपने नाम किया था। महेंद्र सिंह धोनी उस समय टीम के कप्तान थे और उन्होंने छक्के के साथ भारत को यह जीत दिलाई थी। फाइनल मैच में गौतम गंभीर ने 97 रनों की पारी खेली थी, जबकि धोनी 91 रन बनाकर नॉटआउट लौटे थे। धोनी को मैन ऑफ द मैच भी चुना गया था। धोनी के छक्के का जिक्र आज तक होता है। इसको लेकर गौतम गंभीर ने एक ट्वीट किया है, जिस पर फैन्स उन्हें ट्रोल भी कर रहे हैं।

कोविड-19: मदद के लिए आगे आए गौतम गंभीर, दो साल की सैलरी की दान

दरअसल ईएसपीएन क्रिकइंफो के ट्विटर हैंडल से एक ट्वीट किया गया, जिसमें लिखा गया था, 'आज के दिन 2011 में, वो शॉट जिसने करोड़ों इंडियन फैन्स को जश्न में डुबो दिया था।' इस ट्वीट का जवाब देते हुए गंभीर ने लिखा, 'क्रिकइंफो आपको याद दिलाना चाहूंगा कि विश्व कप जीतने में पूरे भारत, टीम इंडिया और सपोर्ट स्टाफ का हाथ था। बहुत हुआ एक छक्के के लिए ही आपका इतना प्यार।' युवराज सिंह मैन ऑफ द सीरीज रहे थे।

अख्तर ने अफरीदी से कहा- खुद भी कहता तो मैं बना देता वीडियो...

कुछ ऐसे ट्रोल हुए गौतम गंभीरः

गंभीर को उनके इस ट्वीट के लिए फैन्स ने ट्रोल भी किया है। फाइनल मैच में वीरेंद्र सहवाग और सचिन तेंदुलकर के जल्द आउट होने के बाद गंभीर ने विराट कोहली के साथ 84 और महेंद्र सिंह धोनी के साथ 109 रनों की साझेदारी निभाई थी। उन्होंने 97 रनों की अहम पारी खेलकर भारत की जीत की नींव रखी थी। भारत ने 28 साल बाद विश्व कप खिताब अपने नाम किया था। भारत ने पहला विश्व कप खिताब 1983 में कपिल देव की कप्तानी में जीता था।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:gautam gambhir reminds world cup 2011 was won by entire team not only with ms dhoni s six got trolled