DA Image
13 जुलाई, 2020|4:18|IST

अगली स्टोरी

महेंद्र सिंह धोनी की वापसी पर गौतम गंभीर ने पूछा- किस आधार पर चुना जाए?

टीम इंडिया के पूर्व ओपनर गौतम गंभीर ने कहा है कि यदि आईपीएल 2020 नहीं होता तो महेंद्र सिंह धोनी की टीम में वापसी मुश्किल हो जाएगी। गंभीर का कहना है कि धोनी को आखिर किस आधार पर चुना जाना चाहिए।

ms dhoni and gautam gambhir  getty images

टीम इंडिया के पूर्व ओपनर गौतम गंभीर ने कहा है कि यदि आईपीएल 2020 नहीं होता तो महेंद्र सिंह धोनी की टीम में वापसी मुश्किल हो जाएगी। गंभीर का कहना है कि धोनी को आखिर किस आधार पर चुना जाना चाहिए, क्योंकि वह पिछले एक-डेढ़ साल से नहीं खेल रहे हैं। आईसीसी वर्ल्ड कप 2019 के बाद से धोनी ने कोई इंटरनेशल मैच नहीं खेला है। धोनी आईपीएल में वापसी करने वाले थे, लेकिन कोरोना वायरस की वजह से यह 15 अप्रैल तक के लिए स्थगित किया जा चुका है। कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को देखते हुए इस टूर्नामेंट का हो पाना संभव भी नहीं लग रहा है। ऐसे में आईसीसी टी-20 वर्ल्ड कप के लिए धोनी के चयन के लिए किस परफॉर्मेंस को आधार बनाया जाएगा।

गौतम गंभीर ने स्टार स्पोर्ट्स के साथ बातचीम नें कहा, ''महेंद्र सिंह धोनी का सबसे बढ़िया विकल्प इस वक्त केएल राहुल हैं।'' उन्होंने कहा, ''धोनी पिछले एक साल से ज्यादा से नहीं खेल रहे हैं तो उनका चयन किस आधार पर किया जाएगा।'' गंभीर ने लोकेश राहुल की तारीफ करते हुए कहा, ''राहुल एक उपयोगी खिलाड़ी हैं। मैंने उनकी परफॉर्मेंस देखी है। बेशक उनकी विकेटकीपिंग धोनी जितनी अच्छी नहीं है। लेकिन यदि आप टी-20 क्रिकेट देखें तो वह बहुआयामी खिलाड़ी हैं। वह नंबर 3 या 4 पर भी बल्लेबाजी कर सकते हैं।''

रामायण के इस पात्र से वीरेंद्र सहवाग ने ली बल्लेबाजी की प्रेरणा, किया खुलासा

उन्होंने कहा, ''टीम इंडिया चाहेगी कि सभी खिलाड़ी बेस्ट परफॉर्म करें। यदि आईपीएल नहीं होता तो धोनी की वापसी काफी मुश्किल हो जाएगी। वह पिछले काफी समय से टीम का प्रतिनिधित्व नहीं कर रहे हैं।'' बाएं हाथ के इस बल्लेबाज ने कहा कि संन्यास लेना धोनी का निजी फैसला है। उन्होंने कहा, ''जहां तक संन्यास लेने की योजना का सवाल है तो यह उसका निजी फैसला है।'' धोनी के पूर्व साथी और टेस्ट विशेषज्ञ वीवीएस लक्ष्मण का मानना है कि धोनी आईपीएल में खेलना जारी रख सकते हैं। 

लक्ष्मण ने इसी कार्यक्रम में कहा, ''इस आईपीएल में ही नहीं धोनी अगले कुछ आईपीएल में भी खेल सकता है और फिर हम क्रिकेटर के रूप में उसके भविष्य पर फैसला कर सकते हैं।'' भारत की ओर से 134 टेस्ट खेलने वाले लक्ष्मण ने हालांकि कहा कि पूर्व स्पिनर सुनील जोशी की अगुआई वाली नई चयन समिति को धोनी के साथ उनके भविष्य पर चर्चा करनी होगी।

केएल राहुल या ऋषभ पंत? कौन होगा T20 WC का विकेटकीपर, जानें पूर्व सिलेक्टर की राय

लक्ष्मण ने कहा, ''जहां तक धोनी की योजनाओं का सवाल है तो वह इन्हें लेकर काफी स्पष्ट है, मुझे यकीन है कि उसने (कप्तान) इग्लैंड में 2019 विश्व कप के तुरंत बाद विराट कोहली, (कोच) रवि शास्त्री के साथ इस बारे में बात की होगी।'' उन्होंने कहा, ''जहां तक भारतीय क्रिकेट का सवाल है तो नई चयन समिति को एमएम धोनी के साथ बैठकर उससे बात करनी होगी। लेकिन धोनी चेन्नई सुपर किंग्स के लिए खेलते रहेंगे और अच्छा प्रदर्शन करेंगे।''

इससे पहले पूर्व भारतीय चयनकर्तान क्रिस श्रीकांत ने भी कहा था कि आईपीएल नहीं होने की स्थिति में महेंद्र सिंह धोनी के लिए वापसी करना मुश्किल हो जाएगा।  इस बीच क्रिकेटर से कमेंटेटर बने आकाश चोपड़ा ने भी कहा कि उन्हें अब धोनी को खुद ही टीम से अलग हो जाना चाहिए। यूट्यूब चैनल पर पाकिस्तान के रमीज राजा के वीडियो में चोपड़ा ने कहा, ''जब तक सौरव गांगुली, रवि शास्त्री और विराट कोहली उनसे यह नहीं कहते कि टी-20 वर्ल्ड कप में टीम की मदद  करो तब तक धोनी को टीम में वापसी की उम्मीद नहीं करनी चाहिए।''

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Gautam Gambhir on MS Dhoni comeback chances in icc t20 world cup 2020 On what basis can he be selected