DA Image
हिंदी न्यूज़ › क्रिकेट › IND vs ENG: इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज से पहले शोएब अख्तर ने भारतीय बॉलरों को दी अहम सलाह
क्रिकेट

IND vs ENG: इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज से पहले शोएब अख्तर ने भारतीय बॉलरों को दी अहम सलाह

लाइव हिन्दुस्तान टीम ,नई दिल्ली Published By: Guest2
Sat, 31 Jul 2021 03:56 PM
IND vs ENG: इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज से पहले शोएब अख्तर ने भारतीय बॉलरों को दी अहम सलाह

भारत और इंग्लैंड की बहुप्रतीक्षित टेस्ट सीरीज अगले हफ्ते से खेली जानी है। इस सीरीज के साथ ही वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप का दूसरा सीजन भी शुरू हो जाएगा। इस सीरीज पर कई दिग्गजों की निगाहें हैं, क्योंकि कोई भी टीम जब इंग्लैंड जाती है और वहां अच्छा प्रदर्शन करने वाली टीम की दुनियाभर में प्रशंसा होती है। भारत और इंग्लैंड की टेस्ट सीरीज से पहले दोनों टीमों के फैन्स के साथ-साथ दुनियाभर के कई दिग्गज काफी उत्साहित नजर आ रहे हैं। भारत और इंग्लैंड की टेस्ट सीरीज का पहला मैच 4 अगस्त से नॉटिंघम में खेला जाएगा। इस सीरीज से पहले पाकिस्तान के पूर्व गेंदबाज शोएब अख्तर ने इस सीरीज में भारत की जीत की भविष्यवाणी कर चुके हैं। अब शोएब अख्तर ने भारतीय तेज गेंदबाजों को नसीहत दी है कि वे इंग्लैंड के खिलाफ आक्रामक होकर खेलें। इसके साथ ही उन्होंने ये भी कहा है कि अपने घर पर खेलने के कारण इंग्लैंड के पास थोड़ा सा फायदा तो जरूर होगा। 

हिन्दुस्तान टाइम्स से बातचीत करते हुए शोएब ने कहा, 'इंग्लिश गेंदबाजों के पास बढ़त है खासकर जेम्स एंडरसन और जोफ्रा आर्चर के पास। हम सब एंडरसन और विराट कोहली के बीच का इतिहास जानते हैं। इंग्लैंड के पास अपर हैंड जरूर होगा क्योंकि वे अपने घर में खेल रहे हैं।' तेज गेंदबाजों को लेकर अख्तर ने कहा, 'तेज गेंदबाजों का अग्रेशन उनकी लेंथ होती है। लोगों को लगता है कि मैं अग्रेसिव इसलिए था, क्योंकि मैं बाउंसर फेंकता था लेकिन ऐसा नहीं है, मैं अग्रेसिव इसलिए था क्योंकि मैं गेंद को सही ठिकाने पर डालता था, सही पेस पर और उस गति में विविधता भी होती थी। इसलिए, जो कोई भी भारतीय टीम की तरफ से इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट खेलता है। उन्हें बस बहुत आक्रमकता और बहुत अधिक गति के साथ डेक को हिट करना है, ये याद रखें। उन्हें इस बदलाव को पूरे समय करते रहें, ये सबसे जरूरी है।' 

अख्तर ने भारतीय तेज गेंदबाजों को लेकर कहा है कि अगर गेंदबाजों को एक बार लेंथ पे अग्रेशन मिल जाए तो उन्हें इसे छोड़ना नहीं होगा। इस पर उन्हें कहा, 'अगर आप एक बार लेंथ में अग्रेशन मिल जाए तो उन्हें उसे नहीं छोड़ना होगा। आप यह सुनिश्चित करें कि आपका मुकाबला बल्लेबाजों के साथ नहीं आपके दिमाग के साथ है। यह मेरा कौशल है जो आपको वहां से बाहर निकालने वाला है। यही मानसिकता होनी चाहिए। यह उन लोगों के बारे में नहीं है जो आपके बुरे दिनों को पकड़ रहे है, नही, यह आपका कौशल है जो आपका सबसे बड़ा दुश्मन है। जो आपको आपकी प्रतिभा दिखाने का मौका नहीं दे रहा है। उस प्रतिभा का प्रतिभा को दर्शाने के लिए आपको दर्द से गुजरना होगा।'

संबंधित खबरें