DA Image
हिंदी न्यूज़ › क्रिकेट › पूर्व क्रिकेटर दीपदास गुप्ता ने बताया, क्यों अजिंक्य रहाणे 2015-16 वाले बल्लेबाज नहीं रहे
क्रिकेट

पूर्व क्रिकेटर दीपदास गुप्ता ने बताया, क्यों अजिंक्य रहाणे 2015-16 वाले बल्लेबाज नहीं रहे

लाइव हिंदुस्तान टीम,नई दिल्लीPublished By: Hemraj Chauhan
Sun, 04 Jul 2021 06:29 PM
पूर्व क्रिकेटर दीपदास गुप्ता ने बताया, क्यों अजिंक्य रहाणे 2015-16 वाले बल्लेबाज नहीं रहे

भारत के मौजूदा टेस्ट टीम के कप्तान अजिंक्य रहाणे के प्रदर्शन में पिछले कुछ समय से निरंतरता नहीं दिख रही है। भारत के पूर्व विकेटकीपर दीपदास गुप्ता ने भी रहाणे के प्रदर्शन पर सवाल उठाए हैं। न्यूजीलैंड के वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में उन्होंने पहली पारी में सर्वीधिक 49 रन बनाए। लेकिन दूसरी पारी में वो कुछ खास नहीं कर पाए। भारत को डब्ल्यूटीसी फाइनल में न्यूजीलैंड के हाथों 8 विकेट से मात मिली। उन्होंने कहा कि वो अब साल 2015-16 के जैसे बल्लेबाज नहीं लगते हैं।

पूर्व विकेटकीपर-बल्लेबाज ने अपने यूट्यूब चैनल पर अपलोड किए गए एक वीडियो में कहा कि रहाणे वैसे बल्लेबाज नहीं है जो वह पिछले दशक की शुरुआत में हुआ करते थे। उन्होंने मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में कठिन परिस्थितियों में खेली गई उनकी एक पारी का उदाहरण दिया। रहाणे ने कहा कि उनके विदेशों में सफल होने का कारण यह था कि वो मुंबई के लिए नंबर तीन पर बल्लेबाजी करते थे और उन्हें नई गेंद से खेलने की आदत थी। उन्होंने कहा कि उनमें साल 2015-16 के सीजन जैसा आत्मविश्वास नहीं है।

भारत के खिलाफ सीरीज में श्रीलंका उतार सकता है दूसरे दर्जे की टीम

उन्होंने कहा, 'मुझे नहीं लगता कि अजिंक्‍य रहाणे वही खिलाड़ी है जो पहले थे। साल 2015-16 में रहाणे अविश्‍वसनीय थे। मैंने उन्‍हें मुंबई के लिए खेलते हुए देखा। वानखेड़े की पिच पर नमी और घास थी और वो बल्‍लेबाजी के लिए बुरे सपने की तरह थी।  लेकिन रहाणे ने भारत के लिए खेलने से पहले  तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी करते हुए 4000-4500 से अधिक रन बनाए।' उन्होंने आगे उनके फुटवर्क पर बात करते हुए कहा कि वह अपनी पहली 20 गेंदों में बहुत अस्थिर रहते हैं। जो वो बड़ी पारी खेलते थे तब आत्मविश्वास से भरे होते हैं।

संबंधित खबरें