DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

EXCLUSIVE: कुलदीप यादव ने बताया कैसे चुनी जाती है प्लेइंग XI टीम

कुलदीप विश्व कप 2019 के सेमीफाइनल मैच में प्लेइंग इलेवन का हिस्सा नहीं थे। सेमीफाइनल में भारत को न्यूजीलैंड के खिलाफ हार झेलनी पड़ी थी। इस हार के साथ भारत का विश्व कप 2019 से सफर भी खत्म हो गया था।

wc 2019  dominant india make it 7-0 against pakistan in world cups

टीम इंडिया के स्टार क्रिकेटरों में शुमार कुलदीप यादव ने हिन्दुस्तान के साथ एक्सक्लूसिव बातचीत के दौरान बताया किसी भी मैच से पहले प्लेइंग इलेवन का चयन किस आधार पर किया जाता है। उन्होंने बताया कि प्लेइंग इलेवन चुनने के लिए किन-किन बातों का ध्यान रखा जाता है। इसके अलावा उन्होंने बताया कि क्यों विश्व कप 2019 के सेमीफाइनल मैच में उन्हें प्लेइंग इलेवन में शामिल नहीं किया गया था।

कुलदीप ने बताया, 'टीम का चयन क्रिकेट ग्राउंड, पिच, मौसम और विरोधी टीम को देखकर किया जाता है। इस कॉम्बिनेशन में जो खिलाड़ी सटीक बैठते हैं, उनका चयन किया जाता है। कभी-कभी इस कॉम्बिनेशन में लगातार फॉर्म में चल रहे खिलाड़ी को भी मैदान के बाहर बैठना पड़ता है। टीम का अंतिम चयन मैनेजर, कोच और कप्तान की सलाह के बाद लिया जाता है।'

कुलदीप विश्व कप 2019 के सेमीफाइनल मैच में प्लेइंग इलेवन का हिस्सा नहीं थे। सेमीफाइनल में भारत को न्यूजीलैंड के खिलाफ हार झेलनी पड़ी थी। इस हार के साथ भारत का विश्व कप 2019 से सफर भी खत्म हो गया था। कुलदीप ने बताया, 'ये टीम मैनेजमेंट का फैसला था। उसमें मेरे बजाए चहल ज्यादा फिट बैठ रहे थे। यही वजह थी कि उन्हें टीम में शामिल किया गया था।'

EXCLUSIVE: कुलदीप यादव ने बताया- विश्व कप के दौरान कैसे बाबर आजम को उन्होंने स्पिन के जाल में फंसाया था

World Cup 2019: तो क्या जडेजा और शमी को लेकर हुई थी विराट-रोहित के बीच अनबन

क्रिकेटर बनने के लिए किस तरह की डाइट होनी चाहिए

उन्होंने कहा कि क्रिकेट के लिए फिट रहने के साथ ताकत भी जरूरी है। इसलिए एक्सरसाइज तो करें लेकिन बॉडी बनाने के लिए नहीं। अधिक मेहनत के लिए अधिक एनर्जी की जरूरत होती है। इसलिए घर में मौजूद अधिक प्रोटीन वाला खाना खाएं। दाल, दूध, अंडा, चिकन, पनीर, मटन, फल, जूस, दूध के साथ हरी सब्जियां जरूर खाएं। क्योंकि क्रिकेट के तीनों फॉरमैट में स्टेमिना की जरूरत होती है। कुलदीप ने कहा कि फिट रहने के साथ कंधों को मजबूत करना क्रिकेटर के लिए बहुत जरूरी है। तेज गेंदबाज इसके बिना बेकार है। बाकी क्रिकेटर के लिए भी ये जरूरी है क्योंकि टीम में अब बिना अच्छे क्षेत्ररक्षक के एंट्री पाना मुश्किल है। कंधे मजबूत होंगे, तभी बाउंड्री से गेंद सीधे विकेट तक पहुंचेगी। कुलदीप ने कहा कि क्रिकेट खेलने के साथ रनिंग, जंपिंग, पुलर, पुश-अप ये एक्सरसाइज रोजाना करना चाहिए।
 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:exclusive interview of kuldeep yadav Here is how playing xi team selection done