DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

BCCI कॉनक्लेवः घरेलू क्रिकेट मैचों से हट सकता हैं टॉस का नियम

रणजी ट्रॉफी में जिन मैचों का टीवी पर सीधा प्रसारण होता हैं उन मैचों में डीआरएस को उपलब्ध तकनीक के साथ लागू करने को लेकर भी चर्चा की गई।

file photo

क्रिकेट में टॉस जीतना काफी महत्वपूर्ण होता है लेकिन घरेलू क्रिकेट में अब टॉस को ही हटाने पर विचार किया जा रहा है। बीसीसीआई की शुक्रवार को यहां आयोजित कप्तानों और कोचों के सम्मेलन में इस बारे में विचार-विमर्श हुआ है।

मेजबान टीम को मौका: सम्मेलन में इस बात पर चर्चा हुई कि घरेलू क्रिकेट से टॉस को समाप्त किया जाए। मेहमान टीम को पहले बल्लेबाजी या पहले गेंदबाजी करने का फैसला करने का मौका दिया जाए। इससे घरेलू टीम पिच का फायदा नहीं उठा पाएगी। काबिलेगौर है कि ऑस्ट्रेलिया में घरेलू मैचों में टॉस नहीं होता है। बल्ला उछाल कर उसकी सतह गिराने के हिसाब से बल्लेबाजी या गेंदबाजी का फैसला होता है।

इन मुद्दों पर भी चर्चा: सम्मेलन में इस बात को लेकर भी गंभीर चर्चा हुई कि जब घरेलू क्रिकेट में 37 टीमें शामिल हो गई हैं तो दलीप ट्रॉफी और ईरानी ट्रॉफी को कराने का क्या औचित्य है। 

TRI Series: वेस्टइंडीज ने बनाए 152 रन, बांग्लादेश को मिला 210 रनों का टारगेट

ENGvPAK: चौथे वनडे में भी बरसे खूब रन, सीरीज पर इंग्लैंड का कब्जा

रणजी ट्रॉफी में जिन मैचों का टीवी पर सीधा प्रसारण होता हैं उन मैचों में डीआरएस को उपलब्ध तकनीक के साथ लागू करने को लेकर भी चर्चा की गई। रणजी ट्रॉफी के नॉकऑउट मुकाबलों को होम एंड अवे आधार पर ही कराया जाए या फिर तटस्थ स्थलों पर लौटा जाए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:DRS for Televised Ranji Games Eliminating Toss Discussed at BCCI Conclave