DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अंबाती रायुडू के सपोर्ट में उतरे अजहरुद्दीन, चयनकर्ताओं पर खड़े किए सवाल

किस्सा यहीं खत्म नहीं होता, इसके बाद रायुडू का इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास की घोषणा कर देना। अब पूर्व कप्तान मोहम्मद अजहरुद्दीन रायुडू के सपोर्ट में उतरे हैं।

ambati rayudu   afp

विश्व कप 2019 के लिए जब से टीम इंडिया की घोषणा हुई थी, तभी से अंबाती रायुडू चर्चा में बने हुए थे। रायुडू का टीम में नहीं चुना जाना, इसके बाद उनका चयनकर्ताओं पर तंज कसता '3-डी' ट्वीट, फिर उनको स्टैंडबाइ खिलाड़ी चुना जाना और शिखर धवन के चोटिल होने के बावजूद उन पर ऋषभ पंत को तरजीह देना। किस्सा यहीं खत्म नहीं होता, इसके बाद रायुडू का इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास की घोषणा कर देना। अब पूर्व कप्तान मोहम्मद अजहरुद्दीन रायुडू के सपोर्ट में उतरे हैं।

रायुडू को स्टैंडबाइ की लिस्ट में शामिल होने के बावजूद विश्व कप टीम में नहीं भेजे जाने पर अजहरुद्दीन ने कहा, 'जब कोई खिलाड़ी स्टैंडबाइ होता है तो अगर विकल्प की जरूरत है तो मुझे लगता है कि उसे ही चुना जाना चाहिए।' उन्होंने कहा, 'अगर आप चयनकर्ता हैं तो आप कप्तान और कोच के आग्रह को नकार सकते हैं। आप कह सकते हैं कि नहीं हम इस खिलाड़ी को भेजेंगे। जब मैं कप्तान था तो कुछ खिलाड़ियों को टीम में चाहता था, लेकिन चयनकर्ताओं ने इनकार कर दिया। ऐसा होता है।'

धौनी की आर्मी ट्रेनिंग का इंग्लैंड के पूर्व क्रिकेटर ने उडा़या मजाक, फैन्स ने सुनाई खरी-खोटी

अजहरुद्दीन को है धौनी पर विश्वास, कहा- जब भी लेंगे सही फैसला लेंगे

अगर धौनी फिट हैं तो उन्हें खेलते रहना चाहिए

वहीं अजहरुद्दीन ने महेंद्र सिंह धौनी को लेकर भी अपना पक्ष रखा। ज्यादातर विशेषज्ञों का मानना है कि धौनी अब उतने सक्षम नहीं है, लेकिन अजहरुद्दीन का मानना है कि वो अब भी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खेलना जारी रख सकते हैं अगर उनके अंदर इच्छाशक्ति और शत प्रतिशत फिट शरीर है तो। उन्होंने कहा, 'मेरा मानना है कि अगर वो फिट हैं और अच्छा खेल रहे हैं तो उन्हें खेलना चाहिए। अगर वो फिट हैं और प्रदर्शन अच्छा है तो वो खेल सकते हैं। कभी-कभी ऐसा होता है कि इतना खेलने के बाद रुचि खत्म हो जाती है। अगर उनकी रुचि अब भी शत प्रतिशत है तो मुझे लगता है कि वो अच्छे खिलाड़ी हैं और उन्हें खेलना चाहिए।'

चयनकर्ताओं को बड़े खिलाड़ियों को विश्वास में लेना चाहिए

उन्होंने कहा, 'बड़े खिलाड़ी के मामले में उन्हें भी विश्वास में लिया जाना चाहिए और उनसे बात करनी चाहिए। मुझे लगता है कि कोई फैसला आएगा। नहीं तो लोग लिखते रहेंगे कि उन्हें संन्यास लेना चाहिए, नहीं लेना चाहिए। क्योंकि धौनी ने कोई बयान नहीं दिया है।' आपको बता दें कि विश्व कप के पहले से ही ये चर्चा चल रही थी कि इसके बाद धौनी क्रिकेट से संन्यास की घोषणा कर देंगे, टीम इंडिया सेमीफाइनल से बाहर हो गई। धौनी की धीमी बल्लेबाजी के लिए आलोचना भी हुई, लेकिन फिलहाल उनके क्रिकेट से संन्यास को लेकर कोई घोषणा नहीं की गई है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Do not agree with MSK Prasad Mohammad Azharuddin on chief selector s comment on Rayudu s exclusion