DA Image
हिंदी न्यूज़ › क्रिकेट › दिनेश कार्तिक ने बताया, WTC फाइनल के दौरान उन्हें क्यों दी गई गालियां
क्रिकेट

दिनेश कार्तिक ने बताया, WTC फाइनल के दौरान उन्हें क्यों दी गई गालियां

लाइव हिंदुस्तान टीम,नई दिल्लीPublished By: Hemraj Chauhan
Fri, 09 Jul 2021 06:25 PM
दिनेश कार्तिक ने बताया, WTC फाइनल के दौरान उन्हें क्यों दी गई गालियां

भारत के सीनियर क्रिकेटर दिनेश कार्तिक ने हाल ही में कमेंटेटर के तौर पर वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में नई पारी की शुरुआत की। भारत और न्यूजीलैंड के बीच खेले गए  डब्ल्यूटीसी फाइनल में भारत को हार मिली। डब्ल्यूटीसी फाइनल में कमेंट्री करने इंग्लैंड गए कार्तिक क्रिकेट फैंस के लिए 'वेदरमैन' बन गए। फैंस उनसे लगातार मौसम को लेकर अपडेट मांगते थे। इस मैच में बारिश ने खूब खलल डाला और इस वजह से ये रिजर्व डे के दिन मैच का नतीजा निकला। दिनेश कार्तिक ने बताया कि फैंस ने वेदर की अपडेट ना देने पर उन्हें गालियां दी थी।

कार्तिक ने गौरव कपूर के पॉडकास्ट '22 यार्न्स पॉडकास्ट' में बताया, 'वेदरमैन' एक बहुत ही दोधारी तलवार है। मैं इसे रिकॉर्ड पर रखूंगा। पहले दिन ढेर सारी तारीफ, दूसरे दिन बहुत खुशी हुई, तीसरे दिन वे मुझे गाली देने लगे। मैं सोना चाहता था। मैं मौसम की रिपोर्ट देने के लिए हर दिन सुबह 6 बजे नहीं उठ सकता।' बारिश के कारण मैच का पहला दिन धुल जाने के बाद कार्तिक ने अगले दिन सुबह 6 बजे मैदान की एक तस्वीर पोस्ट की ताकि फैंस को वेदर के बारे में अपडेट दिया जा सके।

ENG vs PAK: पाकिस्तान की शर्मनाक हार पर भड़के कामरान अकमल, बोले- ऐसा लगा कि श्रीलंका की टीम इंग्लैंड में है

कार्तिक ने कहा, ' उन्होंने(फैंस) ने सोशल मीडिया पर इसे बहुत गंभीरता से लिया। उन्होंने मुझे गालियां देनी शुरू कर दीं, 'उठो। आप क्या कर रहे हैं?' कुछ और भी कहा गया जिन शब्दों का इस्तेमाल मैं नहीं कर सकता। मुझे गाली दी गई क्योंकि साउथैंप्टन में बारिश हो रही थी और मैं उन्हें सुबह उठकर मौसम का हाल नहीं बता पा रहा था।' कार्तिक को हजारों गालियां मिली जिसमे उनसे जगने और मौसम की जानकारी देने को कहा गया।

कार्तिक ने आगे बताया कि  दो चीजों के लिए मुझे गाली दी गई, यह कहने के लिए कि यह ग्रे है और बारिश हो रही है और यह तथ्य कि मैं खबर देने के लिए जल्दी नहीं उठ सका। मैं हजारों गालियों के बारे में बात कर रहा हूं। एक या दो नहीं, कि मैं जाने देता। हजारों कह रहे हैं 'उठो या, नरक को जाओ। हालांकि कार्तिक की कमेंट्री की सराहना कई एक्सपर्ट ने की।

वसीम जाफर ने बताया क्यों राहुल द्रविड़ को नहीं बनाया जाना चाहिए टीम इंडिया का परमानेंट हेड कोच

संबंधित खबरें