DA Image
5 जून, 2020|7:46|IST

अगली स्टोरी

धोनी को BCCI के TRDW में शामिल करने के लिए वेंगसरकर ने तोड़ा था नियम, वजह जानकर आप भी रह जाएंगे हैरान

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान और चयनसमिति के अध्यक्ष रह चुके दिलीप वेंगसरकर ने महेंद्र सिंह धोनी के लिए भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड के टैलेंट रिसोर्स डेवलपमेंट विंग का नियम तोड़ा था।

ms dhoni and dilip vengsarkar

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान और चयनसमिति के अध्यक्ष रह चुके दिलीप वेंगसरकर ने महेंद्र सिंह धोनी के लिए भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड के टैलेंट रिसोर्स डेवलपमेंट विंग (टीआरडीडब्ल्यू) का नियम तोड़ा था। चयनसमिति का अध्यक्ष बनने से पहले वेंगसरकर टीआरडीडब्ल्यू से जुड़े हुए थे। टीआरडीडब्ल्यू में धोनी जब शामिल हुए तब उनकी उम्र 21 वर्ष की थी, जबकि इसके लिए खिलाड़ियों की उम्र सीमा 19 वर्ष थी। धोनी के लिए वेंगसरकर ने उम्र सीमा का नियम तोड़ा था, लेकिन उसके पीछे एक मजेदार किस्सा है।

वेंगसरकर के कार्यकाल में ही महेंद्र सिंह धोनी कप्तान बने थे और उसी दौरान टीम में विराट कोहली की एंट्री हुई थी। वेंगसरकर ने कम उम्र में ही विराट कोहली की प्रतिभा को पहचाना था। इसके अलावा धोनी के टीम इंडिया में एंट्री का भी काफी श्रेय वेंगसरकर को ही जाता है।

लॉकडाउन में रोजर फेडरर ने विराट कोहली को दिया टेनिस चैलेंज- VIDEO

धोनी को टीआरडीडब्ल्यू में शामिल करने के पीछे मजेदार कहानी

उन्होंने बताया कि महेन्द्र सिंह धोनी को 21 साल की उम्र में टीआरडीडब्ल्यू योजना में शामिल किया गया था, जबकि इसके लिए 19 साल की उम्र निर्धारित थी। वेंगसरकर ने बताया कि इसके पीछे काफी दिलचस्प कहानी है। उन्होंने कहा बंगाल के पूर्व कप्तान प्रकाश पोद्दार के कहने पर धोनी को इसमें शामिल किया गया था। पोद्दार जमशेदपुर में एक अंडर-19 मैच देखने गए थे। उस समय बगल के कीनन स्टेडियम में बिहार की टीम वनडे मैच खेल रही थी और गेंद बार-बार स्टेडियम के बाहर आ रही थी। इसके बाद पोद्दार ने उत्सुकता हुई की इतनी दूर गेंद को कौन मार रहा है। जब उन्होंने पता किया तो धोनी के बारे मे पता चला।

तेंदुलकर नहीं, यह खिलाड़ी है रोहित शर्मा का सबसे बड़ा क्रिकेट क्रश

एनसीए की मौजूदा स्थिति से खुश नहीं वेंगसरकर

वेंगसरकर ने कहा, 'पोद्दार के कहने पर 21 साल की उम्र में धोनी को टीआरडीडब्ल्यू कार्यक्रम का हिस्सा बनाया गया।' उन्होंने बताया कि टीआरडीडब्ल्यू को पूर्व अध्यक्ष जगमोहन डालमिया ने शुरू किया था। डालमिया के चुनाव हारने के बाद हालांकि इसे बंद कर दिया गया। उन्होंने राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी (एनसीए) की मौजूदा स्थिति पर निराशा जताते हुए कहा कि यह प्रतिभा निखारने के बजाय खिलाडियों का रिहैब्लिटेशन का केन्द्र बनता जा रहा है।
 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Dilip Vengsarkar on MS Dhoni s Selection in BCCI TRDW and the in Indian Cricket Team