फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News क्रिकेटडेब्यू मैच को लेकर नर्वस थे देवदत्त पडिक्कल, कोच राहुल द्रविड़ की सलाह ने काम किया आसान

डेब्यू मैच को लेकर नर्वस थे देवदत्त पडिक्कल, कोच राहुल द्रविड़ की सलाह ने काम किया आसान

देवदत्त पडिक्कल ने दूसरे दिन का खेल खत्म होने के बाद बताया है कि कोच राहुल द्रविड़ की सलाह से वह डेब्यू मैच में 50 से अधिक का स्कोर बनाने में कामयाब हुए। देवदत्त ने 65 रन बनाए।

डेब्यू मैच को लेकर नर्वस थे देवदत्त पडिक्कल, कोच राहुल द्रविड़ की सलाह ने काम किया आसान
Himanshu Singhलाइव हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीFri, 08 Mar 2024 10:00 PM
ऐप पर पढ़ें

बाएं हाथ के बल्लेबाज देवदत्त पडिक्कल ने इंग्लैंड के खिलाफ पांचवें मैच में टेस्ट डेब्यू किया। हालांकि वह भारत के लिए इंटरनेशनल लेवल पर 2021 में खेल चुके हैं लेकिन कोविड-19 से संक्रमित होने और पेट संबंधी बीमारी के कारण उनके करियर का ग्राफ आगे नहीं बढ़ पाया। हालांकि पिछले कुछ साल में उन्होंने घरेलू क्रिकेट में रनों का अंबार लगाया है, जिसकी बदौलत वह भारत की टेस्ट टीम में जगह बनाने में कामयाब हुए। पहली ही पारी में उन्होंने अर्धशतक जड़ दिया। देवदत्त पडिक्कल ने अपनी इस शानदार पारी और कोच राहुल द्रविड़ से मिली सलाह के बारे में बताया है। 

रणजी ट्रॉफी के अपने शानदार फॉर्म को देवदत्त पडिक्कल ने डेब्यू मैच में भी बनाए रखा। हालांकि उन्होंने कहा कि वह बल्लेबाजी के लिए उतरने से पहले नर्वस थे। भारतीय टेस्ट कैप हासिल करने के बाद कोच द्रविड़ से मिले प्रोत्साहन के शब्दों ने उन्हें धर्मशाला टेस्ट के दूसरे दिन अर्धशतकीय पारी खेलने में मदद मिली। देवदत्त ने 103 गेंद में 65 रन बनाए। अपनी पारी में उन्होंने 10 चौके और एक छक्का लगाया। 

दूसरे दिन का खेल खत्म होने के बाद देवदत्त पडिक्कल ने कहा, ''राहुल सर ने बताया कि पहले 10-15 मिनट तुम नर्वस रहोगे। लेकिन जाओ और एन्जॉय करो। इन शब्दों ने वास्तव में मेरी मदद की। मुझे लगता है कि हम थोड़ा बेहतर कर सकते थे। आखिरी सेशन में अच्छा खेल सकते थे।''

उन्होंने आगे कहा, ''मै सिर्फ तैयार रहना चाहता था, मुझे एक दिन पहले मैसेज मिला कि ऐसी संभावना है कि मैं खेल सकता हूं। ये मौके बहुत मुश्किल से आते हैं और मैं इस चुनौती के लिए तैयार था। मैं थोड़ा नर्वस था।''

IND vs ENG : सरफराज खान ने 5 पारियों में ठोकी तीन फिफ्टी, सूर्यकुमार यादव ने तारीफ करते हुए लिखा- टाइगर भूखा है

पडिक्कल ने कहा, ''मुझे पिछली रात संदेश मिला था कि मैं खेल सकता हूं। मैं नर्वस था। यह मुश्किल रात थी लेकिन इसके साथ ही आप इसका आनंद भी लेते हो। आपको इसी दिन का इंतजार रहता है। अपनी पारी में 10 चौके लगाने के बारे में पड्डिकल ने कहा, ''मैंने प्रत्येक चौके का पूरा आनंद लिया लेकिन पहले चौके का मैंने भरपूर आनंद उठाया क्योंकि यह टेस्ट क्रिकेट में मेरा पहला रन था।''