फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News क्रिकेटAUS vs NZ T20 WC Final: आलोचकों के मुंह पर डेविड वॉर्नर ने लगाया ताला, कंगारू टीम के लिए सबसे ज्यादा रन ठोककर बने प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट

AUS vs NZ T20 WC Final: आलोचकों के मुंह पर डेविड वॉर्नर ने लगाया ताला, कंगारू टीम के लिए सबसे ज्यादा रन ठोककर बने प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट

क्रिकेट को लेकर अंग्रेजी में एक कहावत अक्सर कही जाती है कि 'फॉर्म इज टेंपररी, क्लास इज परमानेंट'। इस कहावत को ऑस्ट्रेलिया के सलामी बल्लेबाज डेविड वॉर्नर ने इस टी-20 वर्ल्ड कप में एकदम सही...

AUS vs NZ T20 WC Final: आलोचकों के मुंह पर डेविड वॉर्नर ने लगाया ताला, कंगारू टीम के लिए सबसे ज्यादा रन ठोककर बने प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट
pic credit twitter
लाइव हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीMon, 15 Nov 2021 07:20 AM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

क्रिकेट को लेकर अंग्रेजी में एक कहावत अक्सर कही जाती है कि 'फॉर्म इज टेंपररी, क्लास इज परमानेंट'। इस कहावत को ऑस्ट्रेलिया के सलामी बल्लेबाज डेविड वॉर्नर ने इस टी-20 वर्ल्ड कप में एकदम सही साबित करके दिखाया है। वही वॉर्नर जो आईपीएल में नाकाम रहे थे और उनकी खराब फॉर्म को लेकर जमकर आलोचना भी की जा रही थी। कंगारू ओपनर ने अपने बल्ले से इस टूर्नामेंट में आलोचकों के मुंह पर ऐसा ताला जड़ा कि हर कोई इस विस्फोटक बल्लेबाज का मुरीद हो गया। फटाफट क्रिकेट के विश्व कप में ऑस्ट्रेलिया की तरफ से वॉर्नर ने सबसे ज्यादा रन कूटे और सेमीफाइनल और फाइनल में उनके बल्ले से निकली पारी ने ऑस्ट्रेलिया को पहली बार चैंपियन बनने का मौका दिया। वॉर्नर को उनके जबरदस्त प्रदर्शन के लिए प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट चुना गया। 

 

 

डेविड वॉर्नर ने यूएई और ओमान की धरती पर खेले गए इस विश्व कप के 7 मैचों में ऑस्ट्रेलिया की तरफ से 48.17 की शानदार औसत और 146.70 के लाजवाब स्ट्राइक रेट से 289 रन कूटे। वॉर्नर के बल्ले से उस समय रन निकले जब टीम को इसकी सबसे ज्यादा दरकार थी। वेस्टइंडीज के खिलाफ कंगारू टीम को हर हाल में जीत चाहिए थी, तब वॉर्नर ने 89 रनों की शानदार पारी खेलकर अकेले दम पर ऑस्ट्रेलिया को सेमीफाइनल का टिकट दिलाया। इसके बाद सेमीफाइनल में पाकिस्तान के खिलाफ वॉर्नर की वो 49 रनों की पारी निर्णायक साबित हुई। वहीं, फाइनल मुकाबले में कप्तान फिंच के जल्दी आउट होने के बाद ऑस्ट्रेलिया के सलामी बल्लेबाज ने अर्धशतक जमाकर टीम को संकट से निकालने में अहम भूमिका निभाई। 

AUS vs NZ T20 WC Final: योद्धा की तरह लड़कर भी टीम को चैंपियन नहीं बना सके केन विलियमसन, हार पर बोले- ऑस्ट्रेलिया ने नहीं दिया वापसी का मौका

दुबई इंटरनेशनल क्रिकेट स्टेडियम में वॉर्नर ने कीवी टीम के खिलाफ फाइनल में 38 गेंदों का सामना किया और चार चौके और तीन छक्कों की मदद से 53 रन बनाए। वॉर्नर ने दूसरे विकेट के लिए मिचेल मार्श के साथ मिलकर 91 रनों की महत्वपूर्ण साझेदारी निभाई जिसके दम पर ऑस्ट्रेलिया पहली बार टी-20 चैंपियन बनने में सफल रही। वॉर्नर के अलावा मार्श ने अपनी बैटिंग से हर किसी का दिल जीता और 50 गेंदों में 77 रनों की नाबाद पारी खेलकर फाइनल में मैन ऑफ द मैच बने।