फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News क्रिकेटडेविड वॉर्नर ने बॉल टैंपरिंग कांड की वजह से खूब झेली है आलोचना, लेकिन अब नहीं करेंगे बर्दाश्त

डेविड वॉर्नर ने बॉल टैंपरिंग कांड की वजह से खूब झेली है आलोचना, लेकिन अब नहीं करेंगे बर्दाश्त

डेविड वॉर्नर ने बॉल टैंपरिंग कांड की वजह से अपने करियर में खूब आलोचना झेली है, लेकिन अब आगे वे इसे बर्दाश्त नहीं करेंगे। उन्होंने ये भी कहा है कि अन्य लोगों को सरंक्षित किया गया, लेकिन उनको नहीं। 

डेविड वॉर्नर ने बॉल टैंपरिंग कांड की वजह से खूब झेली है आलोचना, लेकिन अब नहीं करेंगे बर्दाश्त
Vikash Gaurलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीTue, 18 Jun 2024 11:13 AM
ऐप पर पढ़ें

ऑस्ट्रेलिया की टीम के सलामी बल्लेबाज डेविड वॉर्नर ने इस बात को स्वीकार किया है कि वह 2018 के सैंडपेपर कांड (बॉल टैंपरिंग) में अपनी भूमिका से कभी नहीं बच पाएंगे। हालांकि, उनका अब ये मानना है कि आगे वे इस चीज को बर्दाश्त नहीं करेंगे। टी20 विश्व कप 2024 उनका आखिरी टूर्नामेंट होगा। इस बात का ऐलान वे पहले ही कर चुके हैं। अनुभवी सलामी बल्लेबाज ने इसी साल होम टेस्ट सीरीज के दौरान टेस्ट क्रिकेट को छोड़ा था और अब कैरेबियाई सरजमीं पर अपनी शर्त पर व्हाइट बॉल क्रिकेट को अलविदा कहेंगे। 

बांग्लादेश के खिलाफ एंटीगा में शुक्रवार को होने वाले मैच से पहले डेविड वॉर्नर ने केपटाउन टेस्ट मैच में गेंद से हुई छेड़खानी वाले मामले पर खुलकर बोला। उस केस में डेविड वॉर्नर और स्टीव स्मिथ पर एक-एक साल का बैन लगा था, जबकि कैमरोन बैनक्राफ्ट को 9 महीने के लिए सस्पेंड किया गया था। हालांकि, डेविड वॉर्नर पर लाइफटाइम कैप्टेंसी बैन भी लगाया गया। इस वजह से वे ऑस्ट्रेलिया के लिए कप्तानी नहीं कर पाए। यहां तक कि जिस मैच में बॉल टैंपरिंग हुई, उस मैच में टीम के कप्तान स्टीव स्मिथ और वॉर्नर उपकप्तान थे।

T20 World Cup 2024: ग्रुप स्टेज के आखिरी मैच में वेस्टइंडीज ने अफगानिस्तान को धोया, निकोलस पूरन छाए

डेली मेल की रिपोर्ट के मुताबिक, डेविड वॉर्नर ने कहा कि वह 'एकमात्र ऐसे व्यक्ति हैं जिन्हें बहुत आलोचना झेलनी पड़ी है' और यहां तक ​​कहा कि इस पूरे प्रकरण के दौरान उन्होंने यह भी पाया कि 'कुछ लोगों को अलग तरीके से संरक्षित किया जाता है'। टी20 क्रिकेट में ऑस्ट्रेलिया के लिए सर्वाधिक रन बनाने वाले बल्लेबाज वॉर्नर ने कहा कि उन्हें अन्य खिलाड़ियों के लिए काफी दबाव सहना पड़ा था, लेकिन अब जब उनका अंत निकट आ रहा है तो उन्हें खुशी है कि अब उन्हें ऐसा नहीं करना पड़ेगा।

उन्होंने कहा, "(अपने 12 महीने के प्रतिबंध के बाद) वापस आने के बाद से मैं शायद अकेला व्यक्ति रहा हूं, जिसे बहुत आलोचना झेलनी पड़ी है, चाहे वे लोग हों जो ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट टीम को पसंद नहीं करते या फिर मुझे पसंद नहीं करते। मैं हमेशा से ही ऐसा व्यक्ति रहा हूं, जिसने आलोचना झेली है। ठीक है, अगर वे ऐसा करना चाहते हैं तो यह ठीक है, लेकिन मुझे हमेशा ऐसा लगता है कि मैंने बहुत से लोगों पर से बहुत दबाव कम किया है और मुझे लगता है कि मैं वह व्यक्ति हूं, जो इसे झेल सकता हूं, लेकिन कोई व्यक्ति केवल इतना ही झेल सकता है। मेरे लिए, यह जानकर बहुत अच्छा लगता है कि मैं अब इसे झेलने वाला नहीं हूं।" 

ये भी पढ़ेंः T20 वर्ल्ड कप 2024 लीग स्टेज के अंत के बाद कैसी दिखती है पॉइंट्स टेबल, भारत समेत इन 4 टीमों को कोई नहीं दे पाया मात

वॉर्नर ने आगे कहा, "मेरे करीबी समर्थक मुझे एक क्रिकेटर के तौर पर ही जानेंगे, जिसने टी20 क्रिकेट खेलकर टेस्ट क्रिकेट में कदम रखा और फिर नंबर 6 पर खेलने के बाद ओपनिंग करते हुए तेज गति से रन बनाए। टेस्ट क्रिकेट में बल्लेबाजी के मायनों को बदलने का काम मैंने किया, जिसे फैंस याद रखेंगे। जहां तक ​​मेरी बात है, उम्मीद है कि मुझे इसके लिए याद किया जाएगा, लेकिन मैं समझता हूं कि 2018 में यह हमेशा सामने आता है और यह दुर्भाग्यपूर्ण है - लेकिन अब जो है सो है।"

Advertisement