DA Image
10 जुलाई, 2020|5:43|IST

अगली स्टोरी

डेरेन सैमी की ICC से अपील, नस्लवाद के खिलाफ आवाज उठाए क्रिकेट जगत 

वेस्टइंडीज के विश्व कप विजेता पूर्व कप्तान डेरेन सैमी ने मंगलवार को आईसीसी से आग्रह किया कि क्रिकेट जगत या तो नस्लवाद के खिलाफ आवाज उठाए या इस समस्या का हिस्सा कहलाने के लिए तैयार रहे।

darren sammy

वेस्टइंडीज के विश्व कप विजेता पूर्व कप्तान डेरेन सैमी ने मंगलवार को आईसीसी से आग्रह किया कि क्रिकेट जगत या तो नस्लवाद के खिलाफ आवाज उठाए या इस समस्या का हिस्सा कहलाने के लिए तैयार रहे। उन्होंने यह बयान अफ्रीकी मूल के अमेरिकी जॉर्ज फ्लॉयड की अमेरिका में मौत के बाद दिया है। एक श्वेत पुलिस अधिकारी ने उसकी गर्दन अपने घुटने से दबा दी थी,  जिससे उसकी मौत हो गई। इसके बाद से अमेरिका में हिंसक प्रदर्शन जारी है। 

सैमी ने सोशल मीडिया पर सिलसिलेवार पोस्ट में अश्वेतों की समस्याओं के बारे में लिखा। उन्होंने ट्वीट किया, ''ताजा वीडियो देखने के बाद इस समय अगर क्रिकेट जगत अश्वेतों पर हो रही नाइंसाफी के खिलाफ खड़ा नहीं होगा तो उसे भी इस समस्या का हिस्सा माना जाएगा।''

CSK के ट्रेनिंग सेशन में धोनी ने की थी पीयूष चावला की खिंचाई, बोले- हर बॉल मैदान के बाहर जानी चाहिए

सैमी ने कहा कि नस्लवाद सिर्फ अमेरिका में ही नहीं बल्कि दुनिया भर में अश्वेतों को झेलना पड़ता है। उन्होंने सवाल दागा, ''आईसीसी और बाकी सभी बोर्ड को क्या दिखता नहीं है कि मेरे जैसे लोगों के साथ क्या होता है। मेरे जैसे लोगों के साथ हो रही सामाजिक नाइंसाफी क्या नजर नहीं आती।''

उन्होंने कहा, ''यह सिर्फ अमेरिका में नहीं है। यह रोज होता है। अब चुप रहने का समय नहीं है। मैं आपकी आवाज सुनना चाहता हूं।'' सैमी ने कहा, ''लंबे समय से अश्वेत लोग सहन करते आये हैं। मैं सेंट लूसिया में हूं और मुझे जॉर्ज फ्लॉयड की मौत का दुख है। क्या आप भी बदलाव लाने के लिए अपना समर्थन देंगे। हैशटैग ब्लैक लाइव्स मैटर।''

बता दें कि सैमी से पहले क्रिस गेल ने भी इस मसले को लेकर ट्वीट किया था। गेल ने अपनी इंस्टाग्राम स्टोरी में लिखा, “अश्वेत लोगों की जिंदगी भी दूसरों की जिंदगी की तरह मयाने रखती है। अश्वेत लोग मायने रखते हैं (ब्लैक लाइव्स मैटर)। नस्लभेदी लोग भाड़ में जाएं।

आकाश चोपड़ा ने चुना मौजूदा ODI XI, विराट और रोहित टीम में, लेकिन दोनों में से किसी को नहीं मिली कप्तानी

उन्होंने कहा, “मैंने पूरा विश्व घूमा है और नस्लभेदी बातें सुनी हैं क्योंकि मैं अश्वेत हूं। विश्वास मानिए...यह फेहरिस्त बढ़ती चली जाएगी।” उन्होंने कहा, “नस्लभेद सिर्फ फुटबॉल में नहीं है... यह क्रिकेट में भी है। यहां तक कि टीमों के अंदर भी एक अश्वेत होने के तौर पर मुझे अहसास हुआ है।”

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Darren Sammy Asks ICC and Cricket Fraternity To Speak Against Racism Or Else You are Part Of Problem