फोटो गैलरी

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ क्रिकेटडेनियल विटोरी और इमरान ताहिर ने की ये डिमांड, खिलाड़ियों को मिलने चाहिए ऐसे रिव्यू 

डेनियल विटोरी और इमरान ताहिर ने की ये डिमांड, खिलाड़ियों को मिलने चाहिए ऐसे रिव्यू 

न्यूजीलैंड के पूर्व कप्तान डेनियल विटोरी और दक्षिण अफ्रीका के स्पिनर इमरान ताहिर का मानना है कि वाइड और हाइट नो बॉल भी डीआरएस के दायरे में आनी चाहिए, क्योंकि कोलकाता नाइट राइडर्स और राजस्थान रॉयल्स के

डेनियल विटोरी और इमरान ताहिर ने की ये डिमांड, खिलाड़ियों को मिलने चाहिए ऐसे रिव्यू 
Vikash Gaurलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीTue, 03 May 2022 05:04 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

न्यूजीलैंड के पूर्व कप्तान डेनियल विटोरी और दक्षिण अफ्रीका के स्पिनर इमरान ताहिर का मानना है कि वाइड और हाइट नो बॉल भी डीआरएस के दायरे में आनी चाहिए, क्योंकि कोलकाता नाइट राइडर्स और राजस्थान रॉयल्स के बीच खेले गए आईपीएल 2022 के 47वें मैच के अंपायर्स कॉल पर नई बहस छिड़ गई है। अंतिम दो ओवरों में 18 रन का बचाव करते हुए राजस्थान रॉयल्स के कप्तान संजू सैमसन सोमवार को अंतिम ओवर में अंपायर नितिन पंडित के वाइड कॉल से परेशान थे।

सैमसन ने तब रिव्यू के लिए कहा जब गेंद बल्ले से मीलों दूर थी। इसने रिव्यू के लिए वाइड और कमर की ऊंचाई वाली नो-बॉल के लिए एक नई बहस छेड़ दी, जिसमें कीवी पूर्व ऑलराउंडर ने एक बार फिर इस मुद्दे पर बात की। आरसीबी के पूर्व कोच डेनियल विटोरी ने कहा, "मुझे नहीं लगता कि उस गेंद पर कोई आउट था, बिल्कुल (खिलाड़ियों को वाइड्स की रिव्यू करने की अनुमति दी जानी चाहिए)। खिलाड़ियों को ऐसे महत्वपूर्ण मामलों में निर्णय लेने में सक्षम होना चाहिए।" 

उन्होंने कहा, "आज यह थोड़ा अलग है जहां हमेशा ऐसा लग रहा था कि केकेआर जीतने वाली है, लेकिन हम यहां कई बार बैठे हैं और देखा है कि निर्णय गेंदबाजों के खिलाफ जाते हैं जो इतने करीब हैं और अंपायर ने गलत फैसला दिया है। इसलिए खिलाड़ियों के पास उन गलतियों को सुधारने के लिए कुछ रास्ते होने चाहिए। इसलिए डीआरएस लाया गया: गलतियों को सुधारने के लिए। मैं ऐसा होते देखना चाहता हूं। खिलाड़ी इसके बहुत अच्छे जज होते हैं। वे इसे अधिक बार ठीक कर लेते हैं।" 

वाइड पर आईसीसी के नियम 22.4.1 के अनुसार, "अंपायर किसी ऐसी गेंद को वाइड के रूप में नहीं मानेगा, जिस पर बल्लेबाज शॉट खेल सकते है। अगर स्ट्राइकर हिलता है और गेंद वाइड की रेखा से बाहर है और गेंद पर बल्ला पहुंच सकता है तो उस गेंद को वाइड करार नहीं दिया जाएगा। एक सामान्य क्रिकेट स्ट्रोक के माध्यम से इसे हिट करने में सक्षम होने पर गेंद वाइड नहीं होगी।"

इस पर इमरान ताहिर ने कहा, "हां क्यों नहीं (रिव्यू होना चाहिए)। मैच में गेंदबाजों के लिए बहुत कुछ नहीं है। जब बल्लेबाज आपको हर तरफ मार रहे हों, तो आपके पास वाइड यॉर्कर डालने या वाइड लेग ब्रेक गेंदबाजी करने के अलावा कोई विकल्प नहीं होता है। यदि वह वाइड हो जाती है, तो आप मुश्किल में हैं, लेकिन देखिए यह एक करीबी फैसला था। सैमसन थोड़ा निराश थे। यह 50-50 वाली बात थी। मुझे नहीं लगता कि यह कोई बड़ा मुद्दा होना चाहिए। कोलकाता ने अच्छा खेला और वे इसे जीतने वाले थे, लेकिन हां, एक रिव्यू होना चाहिए, जिसे खिलाड़ी ले सके।" 
 

लेटेस्ट Cricket News, Cricket Live Score, Cricket Schedule और T20 World Cup की खबरों को पढ़ने के लिए Live Hindustan AppLive Hindustan App डाउनलोड करें।
epaper