फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News क्रिकेटIPL 2024 से बाहर होने पर छलका CSK के कप्तान ऋतुराज गायकवाड़ का दर्द, किया हार के हर एक कारण का जिक्र

IPL 2024 से बाहर होने पर छलका CSK के कप्तान ऋतुराज गायकवाड़ का दर्द, किया हार के हर एक कारण का जिक्र

IPL 2024 से बाहर होने पर चेन्नई सुपर किंग्स यानी CSK के कप्तान ऋतुराज गायकवाड़ का दर्द छलका है और उन्होंने कहा है कि मुझे लगता है कि तीन प्रमुख खिलाड़ियों के ना होने से बहुत फर्क पड़ा।

IPL 2024 से बाहर होने पर छलका CSK के कप्तान ऋतुराज गायकवाड़ का दर्द, किया हार के हर एक कारण का जिक्र
Vikash Gaurलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीSun, 19 May 2024 08:08 AM
ऐप पर पढ़ें

चेन्नई सुपर किंग्स यानी सीएसके इस सीजन प्लेऑफ के लिए क्वॉलिफाई नहीं कर पाई। चेन्नई की टीम के लिए इस सीजन कप्तान ऋतुराज गायकवाड़ थे। अगर वे प्लेऑफ में टीम को पहुंचाने में सफल होते तो एमएस धोनी के बाद टीम के लिए दूसरे ऐसे कप्तान बन जाते, जिन्होंने इस उपलब्धि को हासिल किया है। ऋतुराज गायकवाड़ ने आईपीएल 2024 के प्लेऑफ्स की रेस से बाहर होने और सीजन को खत्म करने को लेकर लंबी बातचीत पोस्ट मैच प्रेजेंटेशन में की और बताया कि किन-किन कारणों की वजह से टीम प्लेऑफ में नहीं पहुंच पाई। 

पोस्ट मैच प्रेजेंटेशन में ऋतुराज गायकवाड़ ने कहा, "मुझे लगता है कि ईमानदारी से कहूं तो यह एक अच्छा विकेट था, यह स्पिन कर रहा था और थोड़ा ग्रिप बना रहा था, लेकिन मुझे लगता है कि इस मैदान पर 200 का स्कोर हासिल किया जा सकता था। हम नियमित अंतराल पर विकेट खोते रहे, यह एक या दो हिट की बात थी, कभी-कभी टी20 खेल में ऐसा हो सकता है। लक्ष्य जो था उससे काफी खुश हूं, सीजन को संक्षेप में कहें तो, मैं 14 खेलों में से सात जीत हासिल करके काफी खुश हूं। आखिरी दो गेंदों में हम लाइन पार नहीं कर सके।"

कप्तान ने आगे खिलाड़ियों की चोटों को लेकर कहा, "जिस तरह की चोटें हमें लगीं, दो फ्रंटलाइन गेंदबाजों की कमी, साथ ही शीर्ष क्रम में कॉनवे का ना होना, मुझे लगता है कि तीन प्रमुख खिलाड़ियों के ना होने से बहुत फर्क पड़ा। सीएसके स्टाफ और पूरे सीजन में हमारे लिए शानदार प्रदर्शन करने वाले सभी लोगों को श्रेय जाता है। पहले गेम के दौरान हमारे लिए कई चुनौतियां थीं। फिजि (मुस्तफिजुर रहमान) को चोट लगी, फिर पथिराना को भी चोट लगी, वह वापस आए और फिर पथिराना बाहर हो गए।"

उन्होंने आगे कहा, "जब आपके आसपास चोटें होती हैं, तो आपको टीम में वह संतुलन लाना होता है और हर खेल के लिए इसे (टीम) चुनना होता है। मुझे लगता है कि इस सीजन का सारांश अच्छा है, जहां हमें (खिलाड़ियों की) चोटों और सभी बीमारियों को ध्यान में रखते हुए अपनी अंतिम एकादश में बदलाव करना पड़ा। सात जीत से खुश, फिर भी जीत की सीमा पार नहीं कर सका। इससे खुश हूं। हमने पिछले साल फाइनल मैच में आखिरी 2 गेंदों पर 10 रन बनाए थे, इसलिए यह एक ऐसी ही स्थिति थी, हालांकि (इस सीजन में) चीजें हमारे मुताबिक नहीं रहीं।" 

ऋतुराज गायकवाड़ ने आगे कहा, "मेरे लिए, व्यक्तिगत माइलस्टोन वास्तव में बहुत मायने नहीं रखते, आखिरकार अंतिम लक्ष्य जीतना है। यदि आप वहां नहीं पहुंच पा रहे हैं तो यह निराशा है। इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि आप एक सीज़न में 100 रन बनाते हैं या 500-600 रन बनाते हैं। मैं (हारने के बाद) निराश हूं।" इस सीजन ऋतुराज ऑरेंज कैप की रेस में चल रहे थे, लेकिन उनकी टीम आगे का सफर तय नहीं कर पाएगी।