DA Image
17 सितम्बर, 2020|12:41|IST

अगली स्टोरी

एज फ्रॉड पर BCCI हुआ सख्त, बोर्ड ने बचने का दिया एक ऑप्शन भी

bcci photo-ht

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने क्रिकेट में उम्र और डोमिसाइल में धोखाधड़ी करने के खिलाफ कड़ा कदम उठाया है, जिसके तहत अगर कोई खिलाड़ी अपनी उम्र छुपाकर खेलता है तो उस पर दो साल का बैन लगाया जाएगा। उम्र और डोमिसाइल की धोखाधड़ी को रोकने के लिए बीसीसीआई ने 2020-21 सीजन के लिए कुछ नए और कड़े नियम बनाए हैं। इस योजना के अंतर्गत जो भी खिलाड़ी इस समय अपनी उम्र छिपाकर गलत उम्र वर्ग के साथ खेल रहे हैं और अगर वो सामने आ कर इस बात को स्वीकार करते हैं और अपना सही बर्थ सर्टीफिकेट दिखाते हैं, तो उन्हें माफी देकर उनके ग्रुप में डाल दिया जाएगा।

इसके लिए खिलाड़ियों को एक लेटर लिख उसमें हस्ताक्षर कर भेजना होगा या बीसीसीआई उम्र वैरिफिकेशन विभाग को ई-मेल भेजना होगा। इसकी अंतिम तारीख इस साल 15 सितंबर है। हालांकि अगर खिलाड़ी इस बीच अपना सही उम्र प्रमाण पत्र जारी नहीं करते हैं और उनके जन्म प्रमाण पत्र गलत पाए जाते हैं तो बीसीसीआई कार्रवाई करते हुए उस खिलाड़ी पर दो साल का बैन लगाएगा। इसके अलावा बैन खत्म होने पर वो खिलाड़ी बीसीसीआई के ग्रुप वर्ग और राज्य के टूर्नामेंट में भी नहीं भाग ले पाएगा।

'BCCI के नए एसओपी के बाद वाटमोर के साथ काम करना होगा मुश्किल'

2020-21 सीजन के बाद बीसीसीआई और राज्य इकाइयों में किसी भी क्रिकेट मैच के लिए फर्जी बर्थ सर्टीफिकेट देने वाले किसी भी खिलाड़ी पर दो साल का बैन लगाया जाएगा जबकि निलंबन पूरा होने के बाद ऐसे खिलाड़ियों को बीसीसीआई के एज ग्रुप टूर्नामेंट में भाग लेने की अनुमति नहीं दी जाएगी। इसके साथ ही राज्य इकाइयों द्वारा आयोजित एज ग्रुप टूर्नामेंट भी यह खिलाड़ी भाग नहीं ले सकेंगे। इन खिलाड़ियों के अलावा कोई भी सीनियर मेंस या विमेंस खिलाड़ी डोमिसाइल धोखाधड़ी में संलिप्त पाए जाते हैं, तो उन पर दो साल का बैन लगाया जाएगा। स्वैच्छिक प्रकटीकरण योजना हालांकि डोमिसाइल धोखाधड़ी में लागू नहीं होगी।

रिकॉर्ड को लेकर फैन ने पूछा सवाल, रोहित के जवाब ने जीता सबका दिल

BCCI ने जारी किया हेल्पलाइन नंबर

बीसीसीआई अंडर-16 एज ग्रुप टूर्नामेंट के लिए सिर्फ उन खिलाड़ियों को पंजीकृत किया जाएगा, जिनकी उम्र 14 से 16 वर्ष की है। अंडर-19 आयु ग्रुप में अगर कोई खिलाड़ी अपना पंजीकरण अपने जन्म के दो साल या उससे ज्यादा के बाद कराता है जैसा उनके जन्म प्रमाण पत्र में दर्ज होगा तो बीसीसीआई अंडर -19 टूर्नामेंट में भाग लेने की अनुमति दी गई वर्ष की संख्या पर बैन रहेगा। इसके लिए बीसीसीआई ने एक हेल्पलाइन नंबर जारी किया है जो 24*7 खुला रहेगा। कोई व्यक्ति 9820556566 / 9136694499 नंबर पर फोन कर इसकी शिकायत कर सकता है। 
 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Cricketers voluntarily declaring age fraud before September 15 not to be suspended BCCI