DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ICC CWC 2019: क्रिकेट की दुनिया को 23 वर्ष बाद मिलेगा नया विश्व चैंपियन

साल 1996 में श्रीलंका के विश्व चैंपियन बनने के बाद यह पहली बार होगा जब कोई नई टीम खिताब जीतेगी। इंग्लैंड या न्यूजीलैंड में से कोई एक टीम 14 जुलाई को नई विश्व चैंपियन बनेगी।

icc cricket world cup 2019 final at lords jpg

मेजबान इंग्लैंड ने खेल के हर विभाग में उम्दा प्रदर्शन करते हुए गुरुवार को बर्मिंघम के एजबेस्टन मैदान में खेले गए आईसीसी क्रिकेट विश्व कप 2019 के दूसरे सेमीफाइनल मुकाबले में अपने चिर प्रतिद्वंद्वी ऑस्ट्रेलिया को 107 गेंद शेष रहते हुए 8 विकेट से करारी शिकस्त दी। इसके साथ ​ही यह सुनिश्चित हो गया कि क्रिकेट को इस बार नया विश्व चैंपियन मिलेगा। मौजूदा चैंपियन ऑस्ट्रेलिया की टीम 49 ओवर में 223 रन पर ढेर हो गई। इंग्लैंड की तरफ से जेसन रॉय (65 गेंदों पर 85) और जॉनी बेयरस्टॉ (43 गेंदों पर 34) ने पहले विकेट के लिए 124 रन जोड़े। बाद में जो रूट (46 गेंदों पर नाबाद 49) और कप्तान इयोन मॉर्गन (39 गेंदों पर नाबाद 45) ने तीसरे विकेट के लिए 79 रन की अटूट साझेदारी कर इंग्लैंड को 32.1 ओवर में जीत दिला दी।  

विश्व कप में ऑस्ट्रेलियाई टीम सेमीफाइनल में पहली बार हारी 
इंग्लैंड की टीम ने इस आसान जीत के साथ कुल चौथी बार और 27 साल में पहली बार विश्व के फाइनल में अपना स्थान पक्का किया। यह पहला अवसर है जबकि पांच बार का चैंपियन ऑस्ट्रेलिया विश्व कप के सेमीफाइनल में पराजित हुआ। इंग्लैंड फाइनल में न्यूजीलैंड से भिड़ेगा जिसने पहले सेमीफाइनल में भारत को 18 रन से हराया था। इन दोनों टीमों ने अब तक विश्व कप नहीं जीता है और इसलिए 14 जुलाई को क्रिकेट को नया विश्व चैंपियन मिलना तय है। इससे पहले 1996 में श्रीलंका की टीम ने पहली बार विश्व कप का खिताब जीता था। इंग्लैंड इससे पहले 1979, 1987 और 1992 में फाइनल में पहुंचा था लेकिन तीनों बार खिताबी मुकाबले में उसे हार मिली थी। इंग्लैंड की जीत की नींव उसके गेंदबाजों ने रखी जिन्होंने ऑस्ट्रेलियाई शीर्ष क्रम शुरू में लड़खड़ाकर उसका स्कोर 3 विकेट पर 14 रन कर दिया।

READ ALSO: ICC CWC 2019 : भारत को विश्व कप के सेमीफाइनल में हराने वाली टीम जीतती है खिताब!

ऑस्ट्रेलिया की ओर से स्मिथ ही दिखा सके संघर्ष का जज्बा
स्टीवन स्मिथ (119 गेंदों पर 85) ने एलेक्स कैरी (70 गेंदों पर 46) के साथ चौथे विकेट के लिए 103 रन और नौवें नंबर के बल्लेबाज मिशेल स्टार्क (36 गेंदों पर 29) के साथ आठवें विकेट के लिए 51 रन की साझेदारियां की। इनके अलावा ग्लेन मैक्सवेल (23 गेंदों पर 22) ही दोहरे अंक में पहुंचे। इंग्लैंड के तुरूप के इक्के जोफ्रा आर्चर (32 रन देकर 2 विकेट) और क्रिस वोक्स (20 रन देकर 3 विकेट) ने ऑस्ट्रेलियाई शीर्ष क्रम को थर्राया तो लेग स्पिनर आदिल राशिद (54 रन देकर 3) ने मध्यक्रम को लड़खड़ाया।  इसके बाद रॉय और बेयरस्टॉ ने समा बांधा और ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों को कोई मौका नहीं दिया। इन दोनों ने शुरू से हावी होकर खेलने की रणनीति अपनाई जिससे किसी भी समय ऑस्ट्रेलियाई आक्रमण धारदार नहीं दिखा। ऑस्ट्रेलिया के प्रमुख गेंदबाज स्टार्क ने नौ ओवर में 70 रन लुटाए।

मिचेल स्टार्क ने तोड़ा मैकग्रा का 12 साल पुराना विश्व रिकॉर्ड     
जेसन रॉय ने जब हाथ खोले तो उन्हें रोकना नामुमकिन लग रहा था। उन्होंने छठे ओवर में स्टार्क की गेंद पर कलाईयों का इस्तेमाल करके छह रन बटोरे और नाथन लॉयन का स्वागत भी छक्के से किया। स्टार्क 15वें ओवर में फिर से आक्रमण पर लगाए गए लेकिन रॉय के सामने उनकी नहीं चल पाई। आरोन फिंच ने यहां तक कि स्मिथ को भी गेंद सौंपी लेकिन रॉय ने उन पर लगातार तीन छक्के लगाकर पांच बार के चैंपियन ऑस्ट्रेलिया की हर रणनीति को नाकाम कर दिया। स्टार्क ने आखिर में बेयरस्टॉ को पगबाधा आउट करके ऑस्ट्रेलिया को कुछ राहत दिलाई। यह स्टार्क का वर्तमान विश्व कप में 27वां विकेट था जो नया रिकॉर्ड है। इस तरह से उन्होंने हमवतन ग्लेन मैकग्रा (2007 में 26 विकेट) का 12 साल पुराना रिकॉर्ड को तोड़ दिया।

READ ALSO: VIDEO: केन विलियमसन ने पूछा- क्या एमएस धौनी अपनी राष्ट्रीयता बदलेंगे

अंपायर के गलत फैसले का शिकार होकर पवेलियन लौटे रॉय     
जेसन रॉय शतक के हकदार थे लेकिन अंपायर कुमार धर्मसेना के गलत फैसले के कारण उन्हें पवेलियन लौटना पड़ा। पैट कमिंस की गेंद उनके बल्ले के करीब से निकली और अपील पर अंपायर की उंगली उठ गई। इंग्लैंड के पास रिव्यू नहीं बचा था और रॉय ने फैसले का विरोध भी किया। उन्होंने अपनी पारी में नौ चौके और पांच छक्के लगाए। रूट और मॉर्गन ने हालांकि ऑस्ट्रेलिया की खुशी क्षणिक ही रहने दी और आसानी से रन बटोरकर टीम को लक्ष्य तक पहुंचाया। इन दोनों ने अपनी पारियों में आठ-आठ चौके लगाए। इससे पहले आर्चर और वोक्स ने शुरू में घातक गेंदबाजी का शानदार नजारा पेश किया और ऑस्ट्रेलियाई शीर्ष क्रम को लड़खड़ाकर टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी के उसके फैसले को गलत साबित कर दिया।

जोफ्रा आर्चर ने फिंच को 'गोल्डन डक' पर पवेलियन लौटाया
आर्चर की पहली गेंद ही इनस्विंगर थी जिस पर उन्होंने फिंच को 'गोल्डन डक' बनाया। फिंच ने पगबाधा के लिए डीआरएस लेकर ऑस्ट्रेलिया का रेफरल भी खराब कर दिया। वोक्स ने अगले ओवर में बेहतरीन फॉर्म में चल रहे डेविड वार्नर (नौ) को स्लिप में बेयरस्टॉ के हाथों कैच कराया। वॉर्नर अचानक उठती गेंद पर शॉट लगाने को लेकर गफलत में पड़ गए थे। इस विश्व कप में पहली बार खेल रहे पीटर हैंडसकांब (चार) शुरू से असहज दिखे। वोक्स ने उनके बल्ले और पैड के बीच से गेंद निकालकर विकेट उखाड़ा। स्मिथ और कैरी ने विकेट गिरने के क्रम को  रोका। जब वे अच्छी तरह से पारी संभाल रहे थे तब राशिद ने पांच गेंद के अंदर दो झटके देकर ऑस्ट्रेलिया को फिर से बैकफुट पर भेज दिया। कैरी ने लंबा शॉट खेला लेकिन वह सीधे मिडविकेट पर खड़े जेम्स विन्स के पास चला गया।

 

READ ALSO: IND vs NZ ICC World Cup 2019: पंत को लेकर आपस में भिड़े पीटरसन और युवी

बीच के ओवरों में आदिल राशिद ने बिगाड़ा ऑस्ट्रेलिया का खेल
राशिद ने इसी ओवर में नए बल्लेबाज मार्कस स्टोइनिस (शून्य) को पगबाधा आउट किया जिससे ऑस्ट्रेलिया कस स्कोर पांच विकेट पर 118 रन हो गया। मैक्सवेल ने शुरू में संभावनएं दिखाई लेकिन आर्चर ने आते ही उन्हें अच्छी लेंथ की धीमी गेंद पर गच्चा देकर कवर पर आसान कैच देने के लिए मजबूर किया। लगातार विकेट गिरने से स्मिथ दबाव में आ गए थे। इसका अंदाजा इससे लगाया जा सकता है कि 29वें ओवर के बाद उन्होंने अपना अगला चौका 45वें ओवर में लगाया। स्टार्क ने उनका अच्छा साथ दिया। इस तेज गेंदबाज ने क्रीज पर पांव जमाने के बाद लियाम प्लंकेट पर छक्का भी लगाया। स्मिथ डेथ ओवरों में रन आउट होकर पवेलियन लौटे। जोस बटलर ने सटीक थ्रो से नॉन स्ट्राइकर छोर पर उनका विकेट उखाड़ा। उन्होंने अपनी पारी में छह चौके लगाए। वोक्स ने अगली गेंद पर स्टार्क को विकेट के पीछे कैच कराकर ऑस्ट्रेलिया को सम्मानजनक स्कोर तक भी नहीं पहुंचने दिया।

सभी खेलों से जुड़े समाचार पढ़ें सबसे पहले Live Hindustan पर। अपने मोबाइल पर Live Hindustan पढ़ने के लिए डाउनलोड करें हमारा न्यूज एप। और देश-दुनिया की हर खबर से रहें अपडेट।  

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Cricket will get new world champion after 44 years England face New Zealand into the final of ICC Cricket World Cup 2019 on 14th of July at Lords Cricket Ground