DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   क्रिकेट  ›  धोनी-युवराज में से किसी एक को चुनना मां-बाप में से एक को चुनने जैसा:  बुमराह
क्रिकेट

धोनी-युवराज में से किसी एक को चुनना मां-बाप में से एक को चुनने जैसा:  बुमराह

लाइव हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीPublished By: Mridula
Mon, 27 Apr 2020 11:12 AM
धोनी-युवराज में से किसी एक को चुनना मां-बाप में से एक को चुनने जैसा:  बुमराह

भारतीय तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह का कहना है कि युवराज सिंह और महेंद्र सिंह धोनी में से किसी एक को चुनना वैसा ही, जैसे मां और पापा में से किसी एक को चुनना हो। जसप्रीत बुमराह ने युवराज सिंह के साथ इंस्टाग्राम लाइव चैट सेशन में यह बात की। टीम इंडिया के पूर्व ऑलराउंडर ने जब बुमराह से उनमें या धोनी में से किसी एक को चुनने का यह मुश्किल सवाल पूछा तो पेसर ने बेहद शानदार तरीके से इसका जवाब दिया। 

युवराज सिंह ने बुमराह से पूछा था कि एक खिलाड़ी का नाम बताओ, जो बेस्ट फिनिशर हैं। इसके लिए पूर्व ऑलराउंडर ने ऑप्शन दिए थे- युवराज सिंह और महेंद्र सिंह धोनी। पेसर ने इस सवाल का जवाब देते हुए कहा, ''मैं इनमें से किसी एक को नहीं चुन सकता। धोनी और युवराज में से किसी एक चुनना उसी तरह है, जैसे मॉम और डैड में से किसी एक को चुनना हो।''

लॉकडाउन में बेटी जीवा को बाइक पर घुमा रहे महेंद्र सिंह धोनी, देखें- VIDEO

जसप्रीत बुमराह ने युवराज सिंह के इस सवाल का बेहतरीन जवाब देते हुए ऑलराउंडर के इस सवाल को टाल दिया, लेकिन युवी भी अपनी कोशिश करते रहे। इसके बाद युवी ने कहा, ''मैं बुरा नहीं मानूंगा अगर तुम धोनी को चुनोगे तो।''

इसके बाद युवराज सिंह ने एक बार फिर से जसप्रीत बुमराह को फंसाने की कोशिश की। उन्होंने पूछा कौन बेहतर बल्लेबाज है- विराट कोहली या सचिन तेंदुलकर। इस सवाल का जवाब बुमराह ने यह देते हुए कहा कि उन्हें ज्यादा अनुभव नहीं, इसलिए बता नहीं सकता। 

दिनेश कार्तिक ने उड़ाया हार्दिक पांड्या की पुरानी PIC का मजाक, बोले- ऐसा लग रहा है तंबाकू खाकर...

इस बातचीत के दौरान युवराज ने बुमराह को याद दिलाया कि उन्होंने भविष्यवाणी की थी कि यह तेज गेंदबाज एक दिन दुनिया का नंबर एक गेंदबाज बनेगा। बुमराह ने 2017 में ही उनकी भविष्यवाणी सच साबित कर दी थी, जब वह टी-20 रैंकिंग में शीर्ष पर पहुंचे थे।  

बता दें कि इस 26 वर्षीय तेज गेंदबाज ने आईपीएल में शानदार प्रदर्शन के दम पर जनवरी 2016 में भारत की तरफ से पदार्पण किया। उन्होंने अब तक 64 वनडे इंटरनेशनल मैच, 50 टी-20 इंटरनेशनल और 14 टेस्ट मैच खेले हैं।  उन्होंने जनवरी 2018 में टेस्ट क्रिकेट में पदार्पण किया और बहुत कम समय में लंबे प्रारूप में भी विराट कोहली के विश्वसनीय गेंदबाज बन गए।

इस आर्टिकल को शेयर करें
लाइव हिन्दुस्तान टेलीग्राम पर सब्सक्राइब कर सकते हैं।आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं? हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें।

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

सब्सक्राइब
अपडेट रहें हिंदुस्तान ऐप के साथ ऐप डाउनलोड करें

संबंधित खबरें