DA Image
27 फरवरी, 2021|9:10|IST

अगली स्टोरी

चेतेश्वर पुजारा ने कहा- 'राहुल द्रविड़ का मेरे जीवन पर प्रभाव शब्दों में नहीं किया जा सकता है बयां'

 rahul dravid

भारतीय टेस्ट बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा ने कहा कि क्रिकेट से ध्यान हटा कर निजी जिंदगी के लिए समय निकालने के महत्व के बारे में बताने के लिए वो पूर्व दिग्गज राहुल द्रविड़ के हमेशा आभारी रहेंगे। पुजारा ने कहा कि उनके जीवन पर द्रविड़ के प्रभाव को शब्दों में बयां नहीं किया जा सकता है। द्रविड़ को भारतीय बल्लेबाजी की 'दीवार' माना जाता था और अकसर पुजारा की तुलना द्रविड़ से की जाती है। पुजारा ने कहा कि वो व्यक्तिगत और पेशेवर जीवन को अलग रखने के तरीके को सिखाने के लिए द्रविड़ के शुक्रगुजार हैं।

इंजमाम ने बताया कैसे भारत दौरे पर 2 युवा क्रिकेटरों ने सिखाया था सबक

पुजारा ने कहा, 'उन्होंने मुझे क्रिकेट से दूर रहने के महत्व को समझने में मदद की। मेरे पास एक ही विचार था, लेकिन जब मैंने उससे बात की तो उन्होंने मुझे इसके बारे में बहुत स्पष्टता के साथ बताया। मुझे ऐसी सलाह की जरूरत थी।' द्रविड़ ने 164 टेस्ट में 13288 रन और 344 वनडे में 10889 रन बनाए। उन्होंने 79 एकदिवसीय मैचों में भारत की कप्तानी भी की, जिनमें से 42 में टीम को जीत मिली। उनके नाम रनों का पीछा करते हुए लगातार 14 जीत दर्ज करने का वर्ल्ड रिकॉर्ड भी है।

'मार्क से अजीब सा रिश्ता रहा है, उनके जाने से खोया हुआ महसूस करता था'

पुजारा ने कहा, 'मैंने काउंटी क्रिकेट में भी देखा कि कैसे वे व्यक्तिगत और पेशेवर जीवन को अलग रखते हैं। मैं उस सलाह को बहुत महत्व देता हूं। बहुत से लोग मानते हैं मैं अपने खेल पर जरूरत से ज्यादा ध्यान देता हूं । हां, मैं ऐसा हूं, लेकिन मुझे यह भी पता है कि कब पेशेवर जीवन से दूरी बनानी है। क्रिकेट से परे भी जीवन है।' उन्होंने कहा, 'मेरी पसंद-नापसंद बदलते रहती है लेकिन द्रविड़ मेरे लिए काफी मायने रखते हैं। मेरे लिए वो हमेशा प्रेरणा के स्रोत रहे हैं और रहेंगे।' पुजारा ने कहा कि द्रविड़ से लगाव के बाद भी उन्होंने कभी उनकी नकल करने की कोशिश नहीं की।
 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Can not explain what Rahul Dravid means to me Cheteshwar Pujara