DA Image
25 मई, 2020|8:23|IST

अगली स्टोरी

भारत की हार पर बोले ब्रेट ली- शैफाली को रोते देखना बुरा लग रहा था

पूर्व तेज गेंदबाज ब्रेट ली ने कहा कि आईसीसी महिला टी20 विश्व कप 2020 फाइनल में ऑस्ट्रेलिया के हाथों भारत की हार के बाद युवा भारतीय बल्लेबाज शैफाली वर्मा को रोते देखकर काफी बुरा लग रहा था।

brett lee  instagram   shafali verma  twitter

पूर्व तेज गेंदबाज ब्रेट ली ने कहा कि आईसीसी महिला टी20 विश्व कप 2020 फाइनल में ऑस्ट्रेलिया के हाथों भारत की हार के बाद युवा भारतीय बल्लेबाज शैफाली वर्मा को रोते देखकर काफी बुरा लग रहा था। उन्होंने हालांकि उम्मीद जताई कि वह मजबूत होकर वापसी करेगी। पहली बार फाइनल में पहुंची भारतीय टीम को ऑस्ट्रेलिया ने फाइनल में 85 रन से हराया। फाइनल में शैफाली वर्मा अपनी लय कायम नहीं रख सकी और मैच के बाद उनके आंसू नहीं रुक रहे थे।

ब्रेट ली ने आईसीसी के लिए अपने कॉलम में लिखा, ''मुझे शैफाली वर्मा के लिए बहुत बुरा लग रहा था। उसे रोते देखकर अच्छा नहीं लगा, लेकिन उसे अपने प्रदर्शन पर गर्व होना चाहिए।''

INDvSA: भारत पहुंची साउथ अफ्रीका टीम, धर्मशाला मैदान पर होगा पहला वनडे

उन्होंने कहा, ''पहले ही टूर्नामेंट में इस तरह का प्रदर्शन उसकी प्रतिभा और मानसिक दृढता दिखाता है। वह यहां से बेहतर होकर ही निकलेगी। इस अनुभव से सीखकर वह मजबूती से वापसी करेगी।'' ब्रेट ली ने कहा, ''भारत के लिए यह निराशाजनक रात थी, लेकिन भारतीय टीम वापसी करेगी। यहां सब कुछ खत्म नहीं हो जाता। यह शुरुआत भर है।''

बता दें कि महिला टी-20 वर्ल्ड कप 2020 टूर्नामेंट में शैफाली वर्मा का परफॉर्मेंस काफी शानदार रहा। उनकी दमदार बल्लेबाजी के दम पर ही भारत ने फाइनल में पहुंचने से पहले लीग स्टेज के सारे मैच जीते थे, लेकिन फाइनल मैच में इस तरह आउट होना शैफाली बर्दाश्त नहीं कर पाईं।

'टीम में जगह पाने के लिए धोनी को IPL में अच्छा प्रदर्शन करना होगा'

आउट होने के बाद शैफाली जब डग आउट में पहुंची तो रोने लगी। हार के बाद भी शैफाली इमोशनल नजर आईं। इस दौरान भारतीय महिला टीम की दूसरी खिलाड़ी शैफाली को संभालती हुईं नजर आईं। सोशल मीडिया पर शैफाली के इमोशनल होने के वीडियो और तस्वीरें वायरल हो रही हैं। 

बता दें कि फाइनल के बाद भारतीय कप्तान हरमनप्रीत कौर ने सलामी बल्लेबाज एलिसा हीली का कैच टपकाने वाली 16 साल की शैफाली वर्मा का बचाव करते हुए कहा कि हार के लिए किसी एक खिलाड़ी को जिम्मेदार नहीं ठहरा सकते। हरमनप्रीत ने कहा, ''वह (शैफाली वर्मा) केवल 16 वर्ष की है, वह अपना पहला विश्व कप खेल रही है। उसने वास्तव में अच्छा प्रदर्शन किया। महज 16 साल की किशोरी के लिए सकारात्मक सोच रखना और खेल में बने रहना मुश्किल है।''

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Brett Lee says it was difficult to watch Shafali Verma in tears after india loss icc women t20 world cup 2020 final against australia