DA Image
24 मई, 2020|12:07|IST

अगली स्टोरी

वर्ल्ड कप में अंबाती रायडू को बाहर रखने पर गौतम गंभीर-एमएसके प्रसाद के बीच हुई नोंकझोंक

msk prasad and gautam gambhir photo social media

पूर्व भारतीय सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर और पूर्व चयनकर्ता प्रमुख एमएसके प्रसाद के बीच शुक्रवार को यहां स्टार स्पोर्ट्स के 'क्रिकेट कनेक्टेड' शो में अंबाती रायडू को 2019 विश्व कप टीम से बाहर रखने पर नोंकझोंक देखने को मिली। प्रसाद की अध्यक्षता वाली चयन समिति ने 2019 विश्व कप के लिए चुनी गई भारतीय टीम में रायडू न चुनकर ऑलराउंडर क्रिकेटर विजय शंकर को चुना था। गंभीर ने युवराज सिंह और सुरेश रैना के चयन प्रक्रिया को लेकर सवाल उठाए।

गंभीर ने कहा कि 2016 में जब मुझे इंग्लैंड के खिलाफ पहले टेस्ट मैच से बाहर कर दिया गया था तो उस समय कोई बातचीत नहीं हुई थी। आप करुण नायर को देखिए, उन्हें कोई कारण नहीं बताया गया। आप युवराज सिंह को देखिए, सुरेश रैना को देखिए।

कोविड-19 के बीच क्रिकेट बहाली के लिए ICC ने जारी की नई गाइडलाइंस

उन्होंने कहा कि देखिए, अंबाती रायडू के साथ क्या हुआ। आपने उन्हें दो साल के लिए टीम में रखा। इस दौरान उन्होंने चार नंबर पर बल्लेबाजी की। लेकिन विश्व कप से ठीक पहले आपको थ्री-डी प्लेयर की जरूरत पड़ गई। क्या सिलेक्शन कमेटी के चेयरमैन से ऐसे बयान की अपेक्षा की जाती है कि हमें थ्री-डी प्लेयर की जरूरत है। 

प्रसाद ने इस पर कहा कि टीम में ऊपरी क्रम में रोहित शर्मा, विराट कोहली, शिखर धवन जैसे बल्लेबाज थे। इनमें से कोई भी गेंदबाजी नहीं कर सकते थे। ऐसे में इंग्लैंड की परिस्थितियों के अनुसार, हमें एक ऐसा खिलाड़ी चाहिए था, जो ऊपरी क्रम में बल्लेबाजी करने के अलावा गेंदबाजी भी कर पाए। इसलिए विजय शंकर को चुना गया।

ICC चीफ के लिए गांगुली का समर्थन वाले स्मिथ के बयान से CSA पीछे हटा 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:bjp mp Gautam Gambhir and MSK Prasad engage in heated exchange over Ambati Rayudu World Cup omission