फोटो गैलरी

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ क्रिकेटकोहली vs रोहित डिबेट पर BCCI अधिकारी का बड़ा बयान, गावस्कर-कपिल और सचिन-गांगुली का दिया उदाहरण

कोहली vs रोहित डिबेट पर BCCI अधिकारी का बड़ा बयान, गावस्कर-कपिल और सचिन-गांगुली का दिया उदाहरण

अरुण धूमल ने कहा कि खिलाड़ियों के बीच ऐसी चर्चा नई नहीं है। कपिल देव और गावस्कर से लेकर सचिन तेंदुलकर और सौवर गांगुली के बीच भी ऐसी चर्चाएं होती थीं मगर बोर्ड कभी इसके बारे में नहीं सोचता।

कोहली vs रोहित डिबेट पर BCCI अधिकारी का बड़ा बयान, गावस्कर-कपिल और सचिन-गांगुली का दिया उदाहरण
Lokesh Kheraलाइव हिंदुस्तान टीम,नई दिल्लीFri, 05 Aug 2022 08:54 AM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

भारतीय कप्तान रोहित शर्मा और रन मशीन के नाम से मशहूर विराट कोहली, ये दो खिलाड़ी भारतीय क्रिकेट के ऐसे स्तंभ हैं जिन्होंने पिछले एक दशक से टीम इंडिया को संभाला हुआ है। अंडर-19 वर्ल्ड कप के बाद भारतीय टीम में जगह बनाने वाले कोहली ने करियर की शुरुआत से ही अपनी छाप छोड़ी, वहीं रोहित शर्मा के करियर का टर्निंग प्वाइट 2013 में आया जब उन्हें बतौर सलामी बल्लेबाज खेलने का मौका मिला। दोनों ही खिलाड़ियों ने टीम इंडिया के लिए खूब रन बनाए जिसके बाद चर्चा होने लगी कि कौन ज्यादा बेहतर है।

इस दिन होगा एशिया कप के लिए भारतीय टीम का ऐलान, केएल राहुल-विराट कोहली सहित इस धाकड़क खिलाड़ी की वापसी तय!

विराट कोहली बनाम रोहित शर्मा की यह डिबेट आज की नहीं है। सोशल मीडिया के आने से फैंस ऑनलाइन ही अपने-अपने विचार व्यक्त कर अपने-अपने पसंदीदा खिलाड़ी को सपोर्ट करते रहते हैं। इस मामले पर अब बीसीसीआई कोषाध्यक्ष अरुण धूमल ने अपनी राय दी है।

सीनियर जर्नलिस्ट विमल कुमार से बात करते हुए बीसीसीआई अधिकारी ने कहा कि खिलाड़ियों के बीच ऐसी चर्चा नई नहीं है। कपिल देव और गावस्कर से लेकर सचिन तेंदुलकर और सौवर गांगुली के बीच भी ऐसी चर्चाएं होती रहती थीं मगर बोर्ड कभी इसके बारे में नहीं सोचता।

इस खिलाड़ी ने वनडे वर्ल्ड कप को बताया टी20 वर्ल्ड कप से भी बड़ा

धूमल ने कहा 'देखिए हम इसके बारे में कभी सोचते नहीं है। ये तो फैंस का पैशन है। जब आप किसी खिलाड़ी के साथ जज्बे के साथ जुड़े हैं तब आप ऐसी बातें करते हैं। सोशल मीडिया एक ऐसा प्लेटफॉर्म है जहां आप खुलकर कुछ भी बोल सकते हैं। जब इलेक्ट्रोनिंग और प्रिंट प्रेस था तब ऐसा नहीं हो पाता था। सोशल मीडिया की वजह से ऐसी चीजें ज्यादा खुलकर सामने आ रही हैं जिस वजह से हमें ये ज्यादा लग रहा है। मगर हमेशा से ही ये रहा है, हम सुनते थे गावस्कर साहब और कपिल पाजी के बारे में कभी सौरव-सचिन के बारे में आता था। तो ये तो चलता रहता है। सोशल मीडिया पर ये चीजें ज्यादा बढ़-चढ़कर सामने आती है।'

epaper