BCCI to pay Vinod Rai and Diana Edulji Rs 3 5 crore each - विनोद राय और डायना एडुल्जी ने छोड़ा BCCI  का साथ, मिलेंगे 3.5 करोड़ रुपए DA Image
23 नवंबर, 2019|4:09|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

विनोद राय और डायना एडुल्जी ने छोड़ा BCCI  का साथ, मिलेंगे 3.5 करोड़ रुपए

a file photo of vinod rai and diana edulji  pti

प्रशासकों की समिति (सीओए) प्रमुख विनोद राय और पैनल की उनकी साथी सदस्य डायना एडुल्जी में से प्रत्येक को बीसीसीआई में 33 महीने के कार्यकाल के लिये लगभग 3.5 करोड़ रुपये भुगतान किया जाएगा। सुप्रीम कोर्ट से नियुक्त सीओए का कार्यकाल बीसीसीआई एजीएम में नए पदाधिकारियों के पदभार ग्रहण करने के साथ ही समाप्त हो गया है। पूर्व कैग राय और पूर्व भारतीय महिला कप्तान एडुल्जी जनवरी 2017 में नियुक्ति के बाद से ही सीओए का हिस्सा रहे हैं जबकि उनके साथी रामचंद्र गुहा और विक्रम लिमये ने विभिन्न कारणों से त्यागपत्र दे दिया था। 

सीओए के सभी सदस्यों को 2017 के लिये प्रतिमाह 10 लाख रुपये, 2018 के लिये 11 लाख रुपये और 2019 के लिये 12 लाख रुपये प्रतिमाह की दर से भुगतान किया जाएगा। बीसीसीआई के वरिष्ठ अधिकारी पीटीआई से कहा, ''न्यायमित्र पीएस नरसिम्हा से चर्चा के बाद इस राशि को अंतिम रूप दिया गया। इस तरह से एडुल्जी और राय दोनों में से प्रत्येक को 3.5 करोड़ रुपये मिलेंगे जबकि विक्रम लिमये, रामचंद्र गुहा और रवि थोडगे को उनके कार्यकाल के अनुसार भुगतान किया जाएगा। 

BCCI में अब चलेगी 'दादागिरी, सौरव गांगुली बने अध्यक्ष

सौरव गांगुली आधिकारिक रूप से बीसीसीआई के नए अध्यक्ष बन गए हैं और इसके साथ ही सीओए का बीसीसीआई पर से संचालन समाप्त हो गया है। उच्चतम न्यायालय ने कहा था कि गांगुली के नेतृत्व में नए पदाधिकारियों के आने के बाद से ही विनोद राय की अध्यक्षता वाला सीओए अपनी जिम्मेदारियों से मुक्त हो जाएगा।

सुप्रीम कोर्ट ने इसके साथ ही सीओए के निवर्तमान सदस्यों को राहत प्रदान करते हुए साथ ही कहा था कि राय और उनके सहयोगियों के खिलाफ सीओए के रूप में उनकी किसी भी गतिविधि को लेकर कोई भी कानूनी कार्रवाई नहीं की जा सकेगी। उच्चतम न्यायालय ने साफ शब्दों में कहा कि सीओए के खिलाफ व्यक्तिगत या संयुक्त रूप से कोई भी कानूनी कार्रवाई नहीं हो सकेगी। 

ये 5 कारण बताते हैं, क्यों सौरव गांगुली हैं एक महान लीडर

बता दें कि लोढा समिति की सिफारिशों को लागू कराने के लिए चार सदस्यीय सीओए का गठन जनवरी 2017 में किया गया था। बाद में इसके दो सदस्य विक्रम लिमये और रामचंद्र गुहा ने अपने पदों को छोड़ दिया था जबकि राय और डायना इडुलजी अपने पदों पर बने रहे थे। फरवरी 2019 में सुप्रीम कोर्ट ने सीओए के तीसरे सदस्य के रूप में लेफ्टिनेंट जनरल रवि थोडगे की नियुक्ति की थी। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:BCCI to pay Vinod Rai and Diana Edulji Rs 3 5 crore each