DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

BCCI लोकपाल ने सचिन तेंदुलकर और वीवीएस लक्ष्मण को नोटिस जारी किया

sachin tendulkar  pti photo

बीसीसीआई के लोकपाल और नैतिक अधिकारी डी के जैन ने महान क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर और वीवीएस लक्ष्मण को बुधवार को आईपीएल फ्रेंचाइजी के मेंटोर के साथ क्रिकेट सलाहकार समिति (सीएसी) के सदस्य होने के कारण कथित हितों के टकराव के लिये नोटिस जारी किया। 

सचिन तेंदुलकर मुंबई इंडियंस के और लक्ष्मण सनराइजर्स हैदराबाद के मेंटोर हैं। हितों के टकराव के आरोप का यह तीसरा मामला है। इनसे पहले पूर्व कप्तान सौरव गांगुली को कैब अध्यक्ष, सीएसी सदस्य और दिल्ली कैपिटल्स के सलहकार के तौर पर तीन भूमिका निभाने के लिए न्यायमूर्ति (सेवानिवृत्त) जैन के समक्ष सुनवाई के लिए पेश होना पड़ा था।

महेंद्र सिंह धौनी ने की शेन वॉटसन की तारीफ, कही ये बड़ी बात 

ये तीनों सीएसी का हिस्सा थे, जिन्होंने जुलाई 2017 में सीनियर राष्ट्रीय कोच रवि शास्त्री का चयन किया था जो उनकी अंतिम बैठक थी। न्यायमूर्ति जैन ने नोटिस में तेंदुलकर और लक्ष्मण दोनों को 28 अप्रैल तक आरोपों का लिखित जवाब देने और साथ ही बीसीसीआई से भी जवाब देने को कहा है। 

यह शिकायत मध्य प्रदेश क्रिकेट संघ (एमपीसीए) के सदस्य संजीव गुप्ता ने दायर की है। लोकपाल ने यह भी कहा कि जवाब देने में असफल होने के बाद उन्हें अपने विचार रखने का और कोई मौका नहीं दिया जाएगा। 

विराट कोहली ने की अनुष्का के सामने मरने की एक्टिंग- VIDEO वायरल

बुधवार को 46वां जन्मदिन मनाने वाले सचिन तेंदुलकर और वीवीएस लक्ष्मण टिप्पणी के लिए उपलब्ध नहीं थे। बीसीसीआई के वरिष्ठ अधिकारी ने पीटीआई से कहा, ''क्योंकि गांगुली को नोटिस जारी किया गया था, लोकपाल ने शायद दोनों तेंदुलकर और लक्ष्मण को भी नोटिस जारी किया है। लेकिन मैं पुष्टि कर सकता हूं कि तेंदुलकर मुंबई इंडियंस से एक भी पैसा नहीं लेते। वह सिर्फ स्वैच्छिक सेवा कर रहे हैं। बीसीसीआई में भी उन्हें सीएसी में अपनी सेवायें देने के लिये एक भी पैसा नहीं दिया गया।''

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:BCCI Ombudsman issues notices to Sachin Tendulkar and VVS Laxman on conflict of interest issue