फोटो गैलरी

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ क्रिकेटशाकिब अल हसन के खिलाफ जांच करेगा बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड, स्पॉन्सरशिप डील से जुड़ा है मामला

शाकिब अल हसन के खिलाफ जांच करेगा बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड, स्पॉन्सरशिप डील से जुड़ा है मामला

दिग्गज ऑलराउंडर शाकिब अल हसन के खिलाफ बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड जांच करने वाला है, क्योंकि उन्होंने बेनविनर नाम की कंपनी के साथ स्पॉन्सरशिप डील की है। इसी को लेकर बोर्ड नोटिस भेजने वाला है। 

शाकिब अल हसन के खिलाफ जांच करेगा बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड, स्पॉन्सरशिप डील से जुड़ा है मामला
Vikash Gaurलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीThu, 04 Aug 2022 10:28 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड यानी बीसीबी ने गुरुवार (4 अगस्त) को कहा कि वह शाकिब अल हसन को सट्टेबाजी से संबंधित किसी भी कंपनी के साथ एक स्पॉन्सरशिप डील करने की अनुमति नहीं देगा। बोर्ड की तरफ से जोर देकर ये भी कहा गया है कि वे ऑलराउंडर के हालिया सोशल-मीडिया पोस्ट की जांच करेंगे, जिसमें उन्होंने 'बेटविनर न्यूज' नाम की एक कंपनी के साथ अपनी साझेदारी की घोषणा की थी। 

देश के मौजूदा कानूनों के अनुसार, जुए की सुविधा देने वाली कंपनियों पर कड़े प्रतिबंध हैं। जुए के कारोबार को बढ़ावा  देना कानून के साथ-साथ संविधान का भी उल्लंघन है। बीसीबी के अध्यक्ष नजमुल हसन ने क्रिकबज से कहा कि वे शाकिब की स्पॉन्सरशिप डील की जानकारी नहीं देने के लिए नोटिस देंगे। हालांकि, नाम के अलावा किसी भी प्रकार से ये डील सट्टेबाजी से जुड़ी नहीं है और न ही ऐसी जानकारी उस वेबसाइट पर है। 

नजमुल ने कहा, "दो चीजें हैं। सबसे पहले बात ये है कि अनुमति लेने का कोई मौका नहीं है, क्योंकि हम अनुमति नहीं देंगे। अगर सट्टेबाजी से संबंधित कुछ भी है तो हम किसी भी प्रकार की अनुमति नहीं देंगे। इसका मतलब है कि उन्होंने हमसे कोई अनुमति नहीं मांगी। दूसरा हमें यह जानना होगा कि क्या उन्होंने वास्तव में किसी सौदे पर हस्ताक्षर किए थे या नहीं।" 

उन्होंने आगे कहा, "आज की बैठक में यह मुद्दा उठाया गया और हमने कहा कि यह कैसे हो सकता है, क्योंकि यह असंभव है। अगर ऐसा होता है तो उनसे तुरंत पूछें। उसे नोटिस दें और उनसे पूछें कि यह कैसे हुआ, क्योंकि बोर्ड इसकी अनुमति नहीं देगा। यदि यह सट्टेबाजी से संबंधित है तो हम इसकी अनुमति नहीं देंगे। हमने यह आज कहा है।" 

ये भी पढ़ेंः टीम इंडिया के सबसे लकी खिलाड़ी को ही बैठना पड़ रहा है बाहर, उनके रहते नहीं हारी टीम

बीसीबी मुखिया ने आगे कहा, "कुछ लोग बोर्ड में कह रहे हैं कि इसका इससे कोई लेना-देना नहीं है (बेटविनर एक ऑनलाइन जुआ पोर्टल है) और उस स्थिति में हम निर्णय लेने में असमर्थ हैं। फिर भी मैंने उन्हें इसे जल्द से जल्द जानने के लिए कहा है। बोर्ड का रुख बिल्कुल स्पष्ट है कि यह हमारे लिए असंभव है, लेकिन हमें सबसे पहले ये जानना है कि उन्होंने क्या किया है।"

उन्होंने कहा, "यह (सट्टेबाजी से संबंधित गतिविधियां) केवल क्रिकेट में ही नहीं, बल्कि इस देश में प्रतिबंधित है और कानून इसकी अनुमति नहीं देता है। यह एक गंभीर मसला है। हम फेसबुक पोस्टिंग या ऐसी चीजों पर निर्भर नहीं रह सकते हैं, जिनकी हमें जांच करनी है। अगर यह सच है तो बोर्ड आवश्यक कदम उठाएगा।" 

epaper