DA Image
हिंदी न्यूज़ › क्रिकेट › WTC फाइनल को लेकर कंगारू कप्तान टिम पेन का छलका दर्द, बोले- ऐसा सिर्फ हमारे साथ हुआ
क्रिकेट

WTC फाइनल को लेकर कंगारू कप्तान टिम पेन का छलका दर्द, बोले- ऐसा सिर्फ हमारे साथ हुआ

एजेंसी,सिडनीPublished By: Mohan Kumar
Mon, 05 Jul 2021 06:47 PM
WTC फाइनल को लेकर कंगारू कप्तान टिम पेन का छलका दर्द, बोले- ऐसा सिर्फ हमारे साथ हुआ

भारत और न्यूजीलैंड दो ऐसी टीमें थीं, जिन्हें पहली बार आयोजित की गई वर्ल्ड टेस्ट चैम्पियनशिप (डब्ल्यूटीसी) के फाइनल मुकाबले में खेलने का मौका मिला। एक समय ऑस्ट्रेलिया डब्ल्यूटीसी फाइनल में जगह बनाने की दौड़ में आगे चल रहा था, लेकिन भारत के खिलाफ बॉक्सिंग डे टेस्ट के दौरान स्लो ओवर रेट के लिए उस पर चार प्वॉइंट्स का जुर्माना लगाया गया। यह सीरीज पेन की टीम के पास डब्ल्यूटीसी प्वॉइंट हासिल करने का आखिरी मौका था, क्योंकि दक्षिण अफ्रीका का दौरा रद्द हो गया। डब्ल्यूटीसी फाइनल में बनाने से चूकने के बाद ऑस्ट्रेलिया के टेस्ट कप्तान टिम पेन ने कहा है कि डब्ल्यूटीसी फाइनल में जगह नहीं बना पाना 'कड़वा घूंट' पीने की तरह था।

पेन ने साथ ही कहा कि स्लो ओवर रेट के लिए प्वॉइंट्स का जुर्माना लगाते हुए मैच रैफरियों को अधिक निरंतरता दिखानी होगी। गौरतलब है कि पिछले महीने साउथम्पटन में भारत को आठ विकेट से हराकर न्यूजीलैंड विश्व टेस्ट चैंपियन बना। भारत को इसके बाद इंग्लैंड के खिलाफ घरेलू सीरीज खेलनी थी और विराट कोहली और उनकी टीम ने पर्याप्त प्वॉइंट्स जुटाकर न्यूजीलैंड के साथ फाइनल में जगह बनाई।

मोहम्मद सिराज की नजर ENG के खिलाफ टेस्ट सीरीज पर, क्रिकेट से मिले ब्रेक में भी ऐसे कर रहे हैं तैयारी- Video

पेन ने संवाददाताओं से कहा, 'बेहद निराश हूं कि स्लो ओवर रेट के कारण हम उसमें (डब्ल्यूटीसी फाइनल) जगह नहीं बना पाए। मुझे लगता है कि दुर्भाग्य से हम ऐसी टीम थे, जिसे ओवर रेट के जुर्माने का नुकसान उठाना पड़ा।' पेन ने मांग की कि प्वॉइंट़्स का जुर्माना लगाते हुए मैच रैफरी को अधिक निरंतरता दिखानी होगी। उन्होंने कहा, 'पिछले दो साल में काफी टेस्ट मैच रहे, जिसमें टीमें निर्धारित समय में पूरे ओवर नहीं फेंक सकीं और मैं सुनिश्चित नहीं हूं कि कितनी टीमों ने इसके कारण प्वॉइंट्स गंवाए।'

पेन ने कहा, 'मुझे लगता है कि इसे लेकर (प्वॉइंट्स का जुर्माना) अधिक निरंतरता होनी चाहिए, यह ध्यान में रखते हुए कि टूर्नामेंट बहुत बड़ा है और कुछ ओवरों के कारण आप चार प्वॉइंट्स गंवा सकते हो।' विकेटकीपर बल्लेबाज पेन ने कहा कि ऑस्ट्रेलिया एकमात्र टीम थी, जिसके ओवर रेट के अपराध के लिए प्वॉइंट्स काटे गए। उन्होंने कहा, 'हमने निर्धारित समय में ओवर नहीं फेंके। मैं सिर्फ इतना चाहता हूं कि निरंतरता हो। मैं (टेस्ट क्रिकेट में) काफी ऐसे दिन नहीं खेला, जिस दिन पूरे ओवर फेंके गए हो और मेरी जानकारी के अनुसार कोई और टीम नहीं थी जिसके प्वॉइंट्स काटे गए।'

शोएब अख्तर की आमिर और वहाब को कड़ी फटकार, कहा-अगर टेस्ट नहीं खेलते हो तो पाकिस्तान के लिए भी मत खेलो

पेन ने कहा, 'हां, यह कड़वा घूंट पीने की तरह है कि आप एकमात्र टीम हो जिसके प्वॉइंट्स काटे गए। पेन ने कहा कि उनके लिए भारत और न्यूजीलैंड के बीच खिताबी मुकाबला देखना मुश्किल था।' उन्होंने कहा, 'मैंने पूरा मैच नहीं देखा था। मैंने अंतिम दिन का खेल देखा। मैंने पहले दिन का खेल देखने को लेकर रोमांचित था, लेकिन फिर मैंने नहीं देखा। मैंने अंतिम दिन का खेल देखा और यह काफी रोमांचक था, शानदार क्रिकेट।'

 

संबंधित खबरें