फोटो गैलरी

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ क्रिकेटAshes: उस्मान ख्वाजा के लगातार शतक लगाने से ट्रैविस हेड अपनी जगह को लेकर दुविधा में, जानिए क्या कहा

Ashes: उस्मान ख्वाजा के लगातार शतक लगाने से ट्रैविस हेड अपनी जगह को लेकर दुविधा में, जानिए क्या कहा

ऑस्ट्रेलिया ने एशेज सीरीज के शुरुआती तीन मैच जीतकर सीरीज अपने नाम कर ली है। चौथा टेस्ट सिडनी में ड्रॉ पर छूटा। इस सीरीज में ऑस्ट्रेलिया के सभी खिलाड़ियों ने अच्छा प्रदर्शन किया है। यहां तक कि सीरीज...

Ashes: उस्मान ख्वाजा के लगातार शतक लगाने से ट्रैविस हेड अपनी जगह को लेकर दुविधा में, जानिए क्या कहा
Himanshu Singhलाइव हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीMon, 10 Jan 2022 02:55 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/

ऑस्ट्रेलिया ने एशेज सीरीज के शुरुआती तीन मैच जीतकर सीरीज अपने नाम कर ली है। चौथा टेस्ट सिडनी में ड्रॉ पर छूटा। इस सीरीज में ऑस्ट्रेलिया के सभी खिलाड़ियों ने अच्छा प्रदर्शन किया है। यहां तक कि सीरीज के दौरान टीम में शामिल किए गए खिलाड़ियों ने भी अपने प्रदर्शन से प्रभावित किया है। इस वजह से कोविड होने के कारण टीम से बाहर चल रहे ट्रैविस हेड अपनी जगह को लेकर दुविधा में हैं।

उस्मान ख्वाजा के चौथे टेस्ट में लगातार दो शतक लगाने से ट्रैविस हेड पांचवें और अंतिम टेस्ट के लिए ऑस्ट्रेलिया के मीडिल ऑर्डर में अपनी जगह को लेकर असमंजस में हैं। ख्वाजा ने मिले मौके का पूरा फायदा उठाया है।  

ट्रैविस हेड ने गाबा टेस्ट की पहली पारी में 152 रन की शानदार पारी खेली। हेड कोविड पॉजिटिव पाए जाने के बाद चौथे टेस्ट से बाहर हो गए थे। उनकी जगह उस्मान ख्वाजा को टीम में शामिल किया गया था। जोकि लगभग ढाई साल बाद ऑस्ट्रेलियाई टीम में वापसी कर रहे थे।

 

 

 

उस्मान ख्वाजा ने टीम मैनेजमेंट के फैसले को सही साबित किया। पहली पारी में उन्होंने 137 रन और दूसरी पारी में ख्वाजा ने 101 रन बनाकर होबार्ट में होने वाले पांचवें और आखिरी मैच से पहले चयनकर्ताओं के सामने चयन को लेकर बड़े सवाल खड़े कर दिए हैं। कप्तान पैट कमिंस ने कहा है कि बल्लेबाज के प्रदर्शन के बाद ख्वाजा को बाहर करना मुश्किल होगा।

 

सीरीज में 62 का औसत रखने वाले पांचवें नंबर के बल्लेबाज हेड ने कहा, "हम इंतजार करेंगे और देखेंगे। मुझे लगता है कि उन्होंने खूबसूरती से खेला। हम जानते हैं कि वह बहुमुखी है और जिस तरह से वह खेलता है। अगर टीम में कोई जगह खुली होती तो वह उस मौके का फायदा उठाता।''

उन्होंने कहा, "उन्होंने इसे दोनों हाथों से लिया है, वह अद्भुत रहे हैं। कुछ कठिन निर्णय होने जा रहे हैं। बातचीत अभी तक नहीं हुई है।"

epaper