फोटो गैलरी

Hindi News क्रिकेटपृथ्वी शॉ के लिए खतरे की घंटी, अनिल कुंबले ने कहा- ‘IPL 2024 तय करेगा उनका भविष्य, यह बनने और बिगड़ने का…’

पृथ्वी शॉ के लिए खतरे की घंटी, अनिल कुंबले ने कहा- ‘IPL 2024 तय करेगा उनका भविष्य, यह बनने और बिगड़ने का…’

IPL 2024: टीम इंडिया के पूर्व कप्तान और महान गेंदबाज अनिल कुंबले ने आईपीएल 2024 को पृथ्वी शॉ के लिए बहुत महत्वपूर्ण बताया है। उन्होंने कहा कि यह उनके लिए बनने और बिगड़ने का समय है।

पृथ्वी शॉ के लिए खतरे की घंटी, अनिल कुंबले ने कहा- ‘IPL 2024 तय करेगा उनका भविष्य, यह बनने और बिगड़ने का…’
Ashutosh Kumarलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीSun, 26 Nov 2023 06:50 PM
ऐप पर पढ़ें

IPL 2024: टीम इंडिया के महान स्पिनर और वह पूर्व कप्तान अनिल कुंबले ने कहा है कि इंडियन प्रीमियर लीग 2024 दिल्ली कैपिटल्स के सलामी बल्लेबाज पृथ्वी शॉ के लिए बनने या बिगड़ने वाला सीजन होगा। बता दें कि दिल्ली कैपिटल ने 2024 सीजन के लिए पृथ्वी शॉ को रिटेन किया है। पिछले सीजन पृथ्वी शॉ का प्रदर्शन निराशाजनक रहा था और उन्होंने 8 मैचों में सिर्फ 13.25 की औसत से 100 रन बनाए थे। पिछले कुछ सीजन से आईपीएल में पृथ्वी शॉ का प्रदर्शन गिर रहा है। बता दें कि पृथ्वी शॉ को टीम इंडिया के भविष्य के बड़ी खिलाड़ी के रूप में देखा जाता रहा है। हालांकि, पृथ्वी शॉ अब तक टीम इंडिया की इस उम्मीद पर खड़े नहीं उतर पाए हैं।

पृथ्वी शॉ को फिटनेस पर काम करना होगा
जियो सिनेमा से बात करते हुए अनिल कुंबले ने कहा, “पृथ्वी शॉ को अपनी फिटनेस पर काम करना होगा। उनके क्रिकेट स्किल को लेकर कोई बड़ी समस्या नहीं है। हां, सभी बल्लेबाजों की तरह उनकी क्रिकेट स्किल में भी कुछ खामियां हो सकती हैं। हमने देखा है कि वह ऐसा खिलाड़ी है जो टी20 फॉर्मेट में मैच बदल सकता है। वह अभी भी युवा है लेकिन उन्हें अपनी फिटनेस पर काम करने की जरूरत है। अगर रिकी पोंटिंग, सौरव गांगुली और डेविड वार्नर उन्हें अपनी फिटनेस पर काम नहीं करवा सकते तो यह एक चुनौती है।”

पृथ्वी शॉ के लिए बनने या बिगड़ने का समय
अनिल कुंबले ने आगे कहा, “आईपीएल 2024 पृथ्वी शॉ को बनाने या बिगड़ने वाला सीजन होगा। उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि जिन खिलाड़ियों ने उनके साथ शुरुआत की थी वह आगे बढ़ गए हैं। उनके साथ खेलने वाले शुभमन गिल भारत के टॉप खिलाड़ियों में से एक हैं और एक युवा खिलाड़ी भी हैं। पृथ्वी शॉ इससे चूक गए हैं। इसीलिए यह उनके लिए बनने या बिगड़ने का मौसम है।” बता दें कि पृथ्वी शॉ 2018 में अंदर-19 वर्ल्ड कप में भारत की कप्तानी करने के बाद एक युवा प्रतिभाशाली खिलाड़ी के रूप में सामने आए थे। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें