DA Image
18 सितम्बर, 2020|2:38|IST

अगली स्टोरी

फर्स्ट क्लास क्रिकेट में बाउंसर फेंकते थे लेग स्पिनर अनिल कुंबले: संजय मांजेरकर

संजय मांजरेकर ने कहा कि अनिल कुंबले के बारे में पहले से ही बातें की जा रही थी कि एक लंबा लेग स्पिनर है, जो स्पिनर की तरह नहीं है। वह फर्स्ट क्लास क्रिकेट में बाउंसर फेंकता है।

anil kumble  twitter

लगभग सभी सफल स्पिनर अपने क्रिकेटिंग करियर के किसी न किसी फेज में तेज गेंदबाज बनना चाहते थे। उन्हें या तो उनके बचपन के कोचों ने स्पिन की तरफ मोड़ दिया या अपनी शारीरिक क्षमता की वजह स्पिनर बन गए। या फिर कुछ ऐसे भी गेंदबाज रहे, जो अपनी टीम की मांगों पर गेंद स्पिन कराने के लिए मजबूर हुए। लेकिन पूर्व भारतीय कप्तान अनिल कुंबले उन क्रिकेटरों में से एक रहे, जिन्होंने लेग स्पिनर होने के बावजूद एक तेज गेंदबाज की तरह बल्लेबाजों को डराया। 

भारत के पूर्व बल्लेबाज संजय मांजरेकर ने स्टार स्पोर्ट्स के शो 'क्रिकेट कनेक्टेड' में ऑस्ट्रेलिया के पूर्व तेज गेंदबाज ब्रेट ली और भारत के पूर्व बाएं हाथ के तेज गेंदबाज आशीष नेहरा के साथ  अनिल कुंबले को लेकर बातें की। मांजरेकर ने कहा कि अनिल कुंबले के बारे में पहले से ही बातें की जा रही थी कि एक लंबा लेग स्पिनर है, जो स्पिनर की तरह नहीं है। वह फर्स्ट क्लास क्रिकेट में बाउंसर फेंकता है।

सुरेश रैना ने एमएस धोनी संग शेयर की फोटो, कहा-हर मिनट IPL का इंतजार कर रहा हूं

उन्होंने कहा, ''और मुझे याद है कि उनके कुछ फर्स्ट क्लास परफॉर्मेंस थे, जहां लोग उन घरेलू पिचों में से कुछ पर उनके बाउंसर फेंकने के बारे में बात कर रहे थे।'' क्रिकेटर से कमेंटेटर बने संजय मांजरेकर ने मुंबई की तरफ से खेलते हुए रणजी ट्रॉफी में अनिल कुंबले के खिलाफ खेले थे। कुंबले कर्नाटक के लिए खेलते थे। इन दोनों ने भारत के लिए एक साथ क्रिकेट खेला। दोनों ने भारत के लिए एक साथ 17 टेस्ट और 40 वनडे मैच खेले हैं। 

मांजरेकर ने कहा कि कई बार बल्लेबाज कुंबले की गेंदों को उसी तरह का पाते थे, जैसे वे ब्रेट ली की गेंदों को पाते थे। ब्रेट ली अपनी गति के लिए जाने जाते हैं। पाकिस्तान के सबसे तेज गेंदबाज शोएब अख्तर और ब्रेट ली के बीच यह जंग अक्सर रहती थी कि कौन सबसे तेज गेंदबाज है। 

आईपीएल के बाद घरेलू क्रिकेट हो सकता है शुरू, मुश्ताक अली ट्रॉफी और रणजी ट्रॉफी का जानें प्रस्तावित शेड्यूल 

उन्होंने कहा, ''लोग उनकी गेंदों का बचाव उसी तरह करते थे, जैसे वह ब्रेट ली के सामने खेलते थे। उनकी छवि ऐसी थी।'' वहीं ब्रेट ली ने कहा कि अनिल कुंबले यूनिवर्सिटी के शर्मिले छात्र की तरह लगते थे, जो चश्मा पहनता है। जब उन्होंने डेब्यू किया, तब वह कुछ-कुछ डेनिलय विट्टोरी की तरह लगते थे।

कुंबले ने 2008 में इंटरनैशनल क्रिकेट से संन्सास लिया। वह आज भी भारत के सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज हैं। कुबंले ने 132 टेस्ट मैचों में 619 और 271 वनडे मैचों में 337 विकेट लिए हैं। कुंबले ने 2016 और 2017 में भारतीय क्रिकेट टीम के लिए कोचिंग भी की। अनिल कुंबले फिलहाल आईपीएल फ्रैंचाइजी किंग्स इलेवन पंजाब के हेड कोच हैं।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Anil Kumble bowled bouncers as a leg spinner in domestic cricket says Sanjay Manjrekar