फोटो गैलरी

Hindi News क्रिकेटVideo: ‘टाइम आउट’ का शिकार होने के बाद बेकाबू हुए एंजेलो मैथ्यूज, गुस्से में फेंक दिया हेलमेट

Video: ‘टाइम आउट’ का शिकार होने के बाद बेकाबू हुए एंजेलो मैथ्यूज, गुस्से में फेंक दिया हेलमेट

World Cup 2023: श्रीलंका वर्सेस बांग्लादेश मुकाबले में ‘टाइम आउट’ होने की वजह से आउट दिए जाने के बाद एंजेला मैथ्यूज बेहद डिसएप्वॉइंटेड दिखे। उन्होंने गुस्से में मैदान से बाहर अपना हेलमेट फेंक दिया।

Video: ‘टाइम आउट’ का शिकार होने के बाद बेकाबू हुए एंजेलो मैथ्यूज, गुस्से में फेंक दिया हेलमेट
Ashutosh Kumarलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीMon, 06 Nov 2023 04:52 PM
ऐप पर पढ़ें

SL vs BAN: आईसीसी क्रिकेट वर्ल्ड कप 2023 में सोमवार को दिल्ली के अरुण जेटली स्टेडियम में श्रीलंका वर्सेस बांग्लादेश मैच में अजीबोगरीब वाकया देखने को मिला। बता दें इस मैच में बांग्लादेश में टॉस जीत कर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया। बल्लेबाजी करने उतरी श्रीलंका की टीम के 25 वें ओवर में एंजेलो मैथ्यूज को ‘टाइम्ड आउट’ होने की वजह से अंपायर ने आउट दे दिया। इसके बाद मैथ्यूज ने गुस्से से अपना हेलमेट पवेलियन जाते वक्त मैदान के बाहर पटक दिया। अब सोशल मीडिया पर चर्चाओं का बाजार गर्म हो गया है। बता दें कि क्रिकेट के इतिहास में पहली बार किसी बल्लेबाज को इस तरह से आउट दिया गया है।

‘टाइम आउट’ होने की वजह से दिया गया आउट
दरअसल, श्रीलंकाई पारी के 25 वें ओवर में सदीरा समरविक्रमा के आउट होने के बाद एंजेलो मैथ्यूज जब बल्लेबाजी के लिए मैदान पर आए थे तो वह अपने साथ टूटा हुआ हेलमेट लेकर आए थे। इसके बाद उन्होंने पवेलियन से अपने लिए एक नया हेलमेट मंगाया। इस प्रक्रिया में मैथ्यूज को 2 मिनट से अधिक लग गए और क्रीज पर नहीं पहुंच पाए। ऐसा होते देख बांग्लादेश के कप्तान शाकिब अल हसन ने अंपायर से मैथ्यूज को आउट देने की अपील कर दी। इसके बाद अगले कुछ मिनट तक दोनों खिलाड़ियों और अंपायर के बीच बातों का सिलसिला जारी रहा। अंततः अंपायर ने एंजेलो मैथ्यूज को टाईम्ड आउट होने की वजह से आउट दे दिया।

क्या कहता है टाइम्ड आउट का नियम
क्रिकेट के 40.1.1 नियम के अनुसार, किसी बल्लेबाज का विकेट गिरने या रिटायर होने के बाद अगले 2 मिनट के अंदर नए बल्लेबाज को क्रीज में रहना चाहिए या दूसरे बल्लेबाज को नई गेंद का सामना करने के लिए तैयार रहना चाहिए। ऐसा नहीं होने के मामले में बल्लेबाज को ‘टाइम आउट’ के आधार पर आउट दे दिया जाएगा। इस नियम के अनुसार अगर बात करें तो एंजेलो मैथ्यूज ने समरविक्रमा के आउट होने के बाद क्रीज तक पहुंचने में 3 मिनट से अधिक समय लगा दिया। अगर एंजेलो मैथ्यूज अपने टूटे हुए हेलमेट के साथ ही क्रीज पर पहुंच जाते तो वह आउट होने से बच जाते। बता दें कि क्रिकेट के इतिहास में ऐसा वाकया पहली बार हुआ है।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें